खेल

Asian para Games 2018: हरविंदर ने तीरंदाजी में जीता गोल्ड

Asian para Games 2018: हरविंदर ने तीरंदाजी में जीता गोल्ड

जकार्ता: तीरंदाज हरविंदर सिंह ने बुधवार को एशियाई पैरा खेलों की पुरुष व्यक्तिगत रिकर्व स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता जबकि ट्रैक एवं फील्ड खिलाड़ी एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल जीतने में सफल रहे. मोनु घंगास ने पुरुष चक्का फेंक एफ 11 वर्ग में सिल्वर मेडल जीता जबकि मोहम्मद यासिर ने पुरुष गोला फेंक एफ 46 वर्ग में ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया.

हरविंदर ने डब्ल्यू 2/ एसटी वर्ग के फाइनल में चीन के झाओ लिश्यु को 6-0 से हराकर खिताब अपने नाम करते हुए भारत के गोल्ड मेडलों की संख्या को सात तक पहुंचाया. डब्ल्यू 2 वर्ग में ऐसे खिलाड़ी होते हैं जो पक्षाघात या घुटने के नीचे दोनों पैर कटे होने के कारण खड़े नहीं हो पाते और उन्हें व्हीलचेयर की जरूरत पड़ती है. एसटी वर्ग के तीरंदाज में सीमित दिव्यांगता होती है और वे व्हीलचेयर के बिना भी निशाना लगा सकते हैं.

मोनू ने डिस्कस थ्रो में जीता सिल्वर
ट्रैक एवं फील्ड में मोनु ने अपने तीसरे प्रयास में 35.89 मीटर की दूरी तक चक्का फेंककर सिल्वर मेडल हासिल किया. ईरान के ओलाद माहदी ने 42.37 मीटर के नए रिकार्ड के साथ गोल्ड मेडल जीता. गोला फेंक में यासिर ने 14.22 मीटर के प्रयास से ब्रॉन्ज मेडल जीता. चीन के वेई एनलोंग (15 .67 मीटर) ने खेलों के नए रिकार्ड के साथ गोल्ड जबकि कजाखस्तान के मानसुरबायेव राविल (14 .66 मीटर) ने सिल्वर मेडल जीता.

दूसरे दिन भारत ने जीते थे तीन गोल्ड सहित 11 मेडल
इससे पहले मंगलवार को भारतीय खिलाड़ियों ने तीन गोल्ड सहित 11 मेडल हासिल किए जिससे तालिका में भारत आठवें स्थान पर बना हुआ था. एकता भयान और नारायण ठाकुर ने क्रमश: महिलाओं की क्लब थ्रो स्पर्धा और पुरूषों के 100 मीटर दौड़ में गोल्ड मेडल हासिल किया. वहीं पैरा निशानेबाज मनीष नरवाल ने पुरूषों के 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में देश को पीला मेडल दिलाया. 

एकता भयान ने एफ 32.51 वर्ग में जीता गोल्ड
भयान ने चौथे प्रयास में 16.02 मीटर का थ्रो लगाया. उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात की अलकाबी ठेकरा को हराकर एफ 32.51 वर्ग में गोल्ड मेडल जीता. एफ 32.51 खिलाड़ियों में हाथ की विकृति से संबंधित है. भयान ने इस साल इंडियन ओपन पैरा एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में भी पीला मेडल जीता था . 

नारायण ठाकुर ने टी35 सौ मीटर दौड़ वर्ग में 14.02 सेकंड के समय के साथ गोल्ड मेडल हासिल किया. टी 35 वर्ग में कॉऑर्डनेशन में कमी (हाइपरटोनिया, एटैक्सिया और एथेटोसिस) वाले खिलाड़ी आते है. ठाकुर इस महीने की 17 तारीख को अपना 17वां जन्मदिन मनाएंगे. 

दो सिल्वर और 5 ब्रॉन्ज भी मिले
सुरेन्द्र अनीष कुमार ने पुरुषों के चक्का फेंक (एफ 43.44, एफ 62.64), राम पाल ने पुरुषों के ऊंची कूद (टी 45.46.47) और विरेन्द्र ने पुरुषों के गोला फेंक (एफ 56.57) में देश के लिए सिल्वर मेडल हासिल किया. भारत को जयंती बहेडा, आनंदन गुणशेखरन मोनू घंगास, सरदार सिंह गुर्जर और प्रदीप ने भी पांच ब्रॉन्ज मेडल दिलाए. घंगास पुरूषों के शाटपुट में तीसरे स्थान पर रहे. वहीं गुणशेखरन ने पुरूषों के 200 मीटर टी44.62.64 में ब्रॉन्ज मेडल जीता. बहेडा ने महिलाओं की 200 मीटर टी45.46.47 स्पर्धा में तीसरा स्थान हासिल किया. गुर्जर ने चक्का फेंक एफ 46 में ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया. 

भारत दूसरे दिन तक छह गोल्ड, नौ सिल्वर और 13 ब्रॉन्ज सहित कुल 28 मेडल जीत चुका था. इसमें से 15 (चार गोल्ड, पांच सिल्वर और छह ब्रॉन्ज) मेडल पैरा-एथलेटिक्स में आए थे. तालिका में मंगलवार को चीन 73 गोल्ड, 32 सिल्वर और 29 ब्रॉन्ज के साथ शीर्ष पर था. 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email