खेल

बॉम्बे हाईक्रोर्ट ने हरभजन सिंह को थमाया नोटिस, देने पड़ सकते हैं 97 करोड़ जुर्माना

मुंबई : एजेंसियों से 

स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह को बॉम्बे हाईक्रोर्ट ने जेट एयरवेज के पूर्व पायलट बर्नड केन हॉसलिन की मानहानि मामले में समन भेजा है।कोर्ट के इस  नोटिस में भज्जी समेत दो अन्य को 12 जून 2018 को कोर्ट में पेश होने के निर्देश जारी किए गए हैं। इस समन में कहा गया है कि यदि हरभजन और दो अन्य लोगों के वकील कोर्ट के फैसले को दरकिनार कर पेश नहीं हुए तो एकतरफा फैसला सुनाया जा सकता है। आपको बता दें कि हॉसलिन ने 13 दिसंबर 2017 को बॉम्बे हाईकोर्ट में क्रिकेटर भज्जी पर 15 मिलियन यूएस डॉलर यानी करीब 97 करोड़ रुपये का मानहानि का दावा किया था। साथ ही देरी के लिए दावे की रकम पर 18 प्रतिशत ब्याज देने की गुजारिश भी की थी।

याचिका में पीड़ित ने कहा था कि भज्जी व अन्य ने सोशल मीडिया के जरिए उन पर नस्ली टिप्पणियां की हैं, जिससे उनके करियर पर असर पड़ा है। इसके बाद पूर्व पायलट ने कोर्ट से अपील की है कि भज्जी व अन्य को आदेश दिए जाएं कि वे हर महीने 5670 यूएस डॉलर अदालत में जमा कराएं ताकि यह राशि उन्हें मिल सके। इसके अलावा पीड़ित ने मांग की है कि भज्जी व अन्य के सोशल नेटवर्किंग अंकाउंट में तुरंत ट्वीट और कमेंट की सुविधा बंद करवाई जाए। साथ ही जो पूर्व में कमेंट किए हैं उन्हें डिलीट कराया जाए। इसके अलावा सोशल मीडिया पर उनसे माफी मांगे और उस माफीनामे को अपने सोशल नेटवर्किंग आकाउंट के जरिए साझा करें। बता दें कि भज्जी व उनके दो साथियों ने पिछले साल अप्रैल में चंडीगढ़ से मुंबई की यात्रा करते समय हॉसलिन पर यात्रा कर रही महिला के साथ मारपीट करने का आरोप लगाय था और अभद्र भाषा का प्रयोग भी किया। यही नहीं, उन पर नस्ली टिप्पणी भी की। भज्जी ने अपने साथ हुए इस बर्ताव को सोशल मीडिया पर भी डाला था।

इसके बाद हॉसलिन को अप्रैल 2017 में नौकरी से निकाल दिया था। लेकिन हॉसलिन को बाद में क्लीन चिट दे दी गई थी। हॉसलिन के अनुसार उन्हें एविएशन इंडस्ट्री में 30 साल का अनुभव है। वह 14500 घंटे उड़ान का अनुभव रखते हैं। हरभजन सिंह के सोशल मीडिया पर किए गए कमेंट के कारण उनके सम्मान को ठेस पहुंची।

Related Post

Leave a Comments

Name

Email

Contact No.