मनोरंजन

शिल्पा शिंदे ने MeToo कैंपेन को बताया बकवास, बोलीं - यहां जो करते हैं, सब अपनी रजामंदी से करते

शिल्पा शिंदे ने MeToo कैंपेन को बताया बकवास, बोलीं - यहां जो करते हैं, सब अपनी रजामंदी से करते

नई दिल्ली। 'भाभी जी घर पर हैं' सीरियल से घर-घर में पहचान बनाने वालीं शिल्पा शिंदे ने चौंकाने वाला बयान दिया है। एक समय पर शो के मेकर्स पर सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाने वालीं शिल्पा ने अब देश में चल रहे #MeToo कैंपेन को बकवास बताया है। शिल्पा का कहना है कि इंडस्ट्री में कोई रेप नहीं होता और यहां जो करते हैं, सब अपनी रजामंदी से करते हैं। बता दें कि एक साल पहले शिल्पा शिंदे ने भाभी जी घर पर हैं सीरियल के प्रोड्यूसर संजय कोहली पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। 

'बिग बॉस सीजन 11' की विजेता रह चुकीं शिल्पा शिंदे ने देश में चल रहे #MeToo कैंपेन को बकवास बताया है। एक इंटरव्यू में शिल्पा ने कहा, 'पता नहीं क्यों हमरी इंडस्ट्री का नाम खराब कर रहे हैं। अब लोग हमारी इंडस्ट्री के बारे में बात कर रहे हैं, कि ऐसा होता है, वैसा होता है। महिलाएं अब बोल रही हैं, लेकिन मैंने तब भी बोला है कि इंडस्ट्री में रेप नहीं होता।' शिल्पा शिंदे ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में कुछ भी जबरदस्ती नहीं होता। 'जो भी हमारी इंडस्ट्री में होता है, आपसी रजामंदी से होता है। अगर आप वो करने के लिए तैयार नहीं हो, तो उस चीज को छोड़ दो।' 

इसपर बोलते हुए शिल्पा ने आगे कहा, 'ये इंडस्ट्री ना खराब है और ना बहुत अच्छी। हर जगह ये चीजें होती हैं। मेरी समझ नहीं आ रहा कि क्यों खुद ही इंडस्ट्री का नाम खराब कर रहे हैं। जो काम कर रहे हैं या जिन्हें काम मिल गया, सब ही लोग खराब हैं? ऐसा नहीं है, ये आप पर निर्भर करता है।

आपसे सामने वाला इंसान कैसे रिएक्ट करता है, आप उसको कैसे जवाब देते हो। ये पूरा लेने और देने वाली पॉलिसी है।' एक साल पहले तब अपने सीरियल 'भाभी जी घर पर हैं' के प्रोड्यूसर्स संजय कोहली पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वालीं शिल्पा ने कहा कि जब होता है, तभी इस बारे में बात करनी चाहिए। 

'सब बकवास है। आपको तभी बताना चाहिए। जब होता है, तभी बोलो। बाद में बोलने का कोई फायदा नहीं। ये बेकार है। बाद में आप आवाज ऊंची करते हो, उसको कोई नहीं सुनेगा... सिर्फ कॉन्ट्रोवर्सी होगी, बस।

 शिल्पा ने इंडस्ट्री के लोगों पर भी मदद न करने के आरोप लाए। उन्होंने कहा, 'मेरे वक्त तो किसी ने कोई आवाज नहीं उठाई, कुछ नहीं बोला। वो मुद्दा अब बंद है.. सब खत्म है। गड़े हुए मुद्दे उखाड़ने में कोई फायदा नहीं है। कोई किसी के लिए होता नहीं है। अब यहां कुछ अजीब है। 100 प्रतिशत कोई बड़ी पॉवर है जो ये सब कर रहा है। मैं इसपर यकीन नहीं करती।' 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email