बेमेतरा

ग्राम भिंभौरी में लगी कलेक्टर की रात्रिकालीन चैपाल

ग्राम भिंभौरी में लगी कलेक्टर की रात्रिकालीन चैपाल

भिम्भौरी/बेमेतरा : शासन द्वारा संचालित योजनाओं एवं कार्यक्रमों का मैदानी स्तर पर क्रियान्वयन की जानकारी लेने कलेक्टर श्री महादेव कावरे अचानक बेरला ब्लाॅक के सुदुरवर्ती ग्राम भिंभौरी पहुंचे। जहां उन्होंने पंचायत भवन में रात्रिकालीन चैपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं। ग्राम भिंभौरी बेमेतरा जिले के अंतिम छोर में बसा है एवं पड़ोसी जिला रायपुर जिले की सीमा पर बसा नजदीकी गांव है। सांसद आदर्श ग्राम के रूप में भिंभौरी का चयन किया गया है।

कलेक्टर ने स्कूल भवन में रात्रि विश्राम किया। इस अवसर पर जिला पंचायत के सी.ई.ओ श्री एस. आलोक, खाद्य अधिकारी श्री भूपेन्द्र मिश्रा, सीएमएचओ डाॅ एस. के. शर्मा, कार्यपालन अभियंता नायब तहसीलदार अजय चंद्रवंशी पी.एच.ई. श्री परीक्षित चैधरी, कार्यपालन अभियंता विद्युत साजा श्री आर.बी.सिंह, उप संचालक पशुधन विकास विभाग डाॅ. अनिल शुक्ला उपस्थित थे।


कलेक्टर ने शासकीय उचित मूल्य की दुकान से मिलने वाली सामाग्री, स्कूल एवं आंगनबाड़ी केन्द्र में मध्यान्ह भोजन के संचालन, मजदूरी भुगतान, पेयजल, प्रधानमंत्री आवास, उज्जवला योजना, खाद एवं बीज के संबंध में जानकारी ली। कलेक्टर ने नवीन हायर सेकण्डरी स्कूल में फेंसिंग वायर लगाये जाने का भरोसा दिलाया। गांव के तालाब से जा पूर्व में सिंचाई होती थी, जिसकी नाली जाम हो गई है। जिसे महात्मा गांधी नरेगा से सफाई कराई जाएगी। ग्रामीणों ने सुलभ शौचालय एवं यात्री प्रतिक्षालय की मांग रखी। इस दिशा में आवश्यक कार्यवाही करने की बात कलेक्टर ने कही।

सी.सी. रोड निर्माण के संबंध में ग्राम पंचायत को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। ग्रामीणों द्वारा विद्युत अवरोध के संबंध में ध्यान आकृष्ट कराये जाने पर विद्युत विभाग के कार्यपालन अभियंता ने बताया कि ग्राम सांकरा में 132 के.व्ही. का सब स्टेशन बन रहा है। भविष्य में इसके पूर्ण होने पर अंचल में विद्युत अवरोध की समस्या नहीं आयेगी। स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत ग्रामीणजन शौचालय का उपयोग कर रहे है। रात्रि विश्राम के दूसरे दिन सवेरे कलेक्टर ने गांव में वृक्षारोपण भी किया।

राहुल साहू बंसल न्यूज़ 
 बेमेतरा

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email