बेमेतरा

जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा के संबंध में कार्यषाला आयोजित

जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा के संबंध में कार्यषाला आयोजित

TNIS

परिवार नियोजन से निभाएॅ जिम्मेदारी, माॅ और बच्चे के स्वास्थ्य की पूरी तैयारी

बेमेतरा : राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अंतर्गत कल कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी महादेव कावरे की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति तथा विभिन्न राष्ट्रीय कार्यक्रमों के आयोजन किये जाने हेतु जिला स्तरीय अन्तर्विभागीय समन्वय की बैठक आयोजित किया गया। जिसके अंतर्गत आगामी 27 जून से 23 जुलाई तक आयोजित किये जाने वाले जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा की कार्ययोजना पर चर्चा की गई। पखवाडे के दौरान जिला चिकित्सालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बेरला में नसबंदी की सुविधा प्रदाय किया जायेगा। 
जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा 2019 का स्लोगन- परिवार नियोजन से निभाएॅ जिम्मेदारी, माॅ और बच्चे के स्वास्थ्य की पूरी तैयारी’’।

           बैठक के दौरान आगामी 08 अगस्त 2019 को आयोजित किये जाने वाले राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस पर चर्चा की गई, जिसके अंतर्गत 01 से 19 वर्ष के बच्चों को जिला बेमेतरा अंतर्गत समस्त आंगनबाड़ी, शासकीय/निजी स्कूलों, अनुदान प्राप्त स्कुलों एवं महाविद्यालय में कृमि की दवा (एल्बेंडाजाॅल) खिलाया जायेगा। तथा छुटे हुए बच्चों को माॅप अप राउंड के तहत 16 अगस्त 2019 को पुनः दवा खिलाई जायेगी, इसके तहत जिला बेमेतरा के 1296 शासकीय/शासकीय अनुदान प्राप्त स्कूलों तथा 160 निजी स्कूलों तथा 1074 आंगनबाड़ी केन्द्रों में पढने वाले एवं गैर स्कूली/आंगनबाड़ी के कुल 03 लाख 95 हजार 319  (1-19 वर्ष) बच्चों को शामील किया जायेगा। कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु स्कूल शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग एवं मितानिन कार्यक्रम के जिला अधिकारी को आवश्यक सहयोग करने हेतु कलेक्टर द्वारा निर्देशित किया गया।

 बैठक के दौरान ही आगामी मानसुन को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वाथ्य अधिकारी जिला बेमेतरा द्वारा मलेरिया/ डेंगू के रोकथाम एवं उपाय के संबंध में आम जनता से अपील की है कि, मलेरिया/डेंगू लक्षण जैसै- तेज बुखार, तेज सरदर्द, मांश-पेशियो व जोड़ो में दर्द, शरीर में लाल चकते आना, झटके आना, प्लेटलेट्स कम होना है। ततपश्चात रोकथाम के उपाय अंतर्गत प्रतिदिन कुलर की नियमित सफाई, पूराने टायरो एवं नारियल के खोल में पानी जमा न होने दे, गड्ढो में भरे पानी में मिट्टी से भर दे, पूरे अस्तिन का कपडे़ पहने, सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करते हुए अपने तथा अपने परिवार की सुरक्षा करे। सबसे महत्तवपूर्ण किसी भी प्रकार के बुखार आने पर रक्तजाॅच कराये इस हेतू अपने नजदीकी मितानीन/ स्वास्थ्य कार्यकर्ता/शासकीय स्वास्थ्य संस्था/104 न. में संपर्क कर निःशुल्क ईलाज करावे।

कलेक्टर महादेव कावरे द्वारा समस्त राष्ट्रीय कार्यक्रमों की समीक्षा की गई। जिला बेमेतरा का संस्थागत प्रसव माह अप्रैल व मई 2019 का 55 प्रतिशत है, जिसके लिए कलेक्टर द्वारा संस्थागत प्रसव बढ़ाये जाने हेतु संबंधित अधिकरियों को मुख्यालय में निवास करने के निर्देश दिए गए। विकासखण्ड नवागढ़ के उपस्वास्थ्य केन्द्र मुर्रा, घुरसेना, मारो क्षेत्र में घर प्रसव की संख्या अधिक है, इस हेतु अनुविभागीय अधिकारी के साथ समन्वय कर झोलाछाप चिकित्सक पर कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिए गए। टीकाकरण कार्यक्रम अंतर्गत विकासखण्ड साजा का पूर्ण टीकाकरण का प्रतिशत कम था, खण्ड चिकित्सा अधिकारी साजा के द्वारा बैठक के दौरान दी गई जानकारी के अनुसार उपस्वास्थ्य केन्द्र देवकर एवं उपस्वास्थ्य केन्द्र हाडाहुली में पदस्थ ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक (महिला) के द्वारा कार्य में लापरवाही बरती जा रही है, जिसके कारण राष्ट्रीय टीकाकरण के साथ -साथ अन्य राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम की सेवायें देने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस हेतु कलेक्टर द्वारा बैठक के दौरान निलंबित किये जाने के निर्देश दिए गए।

उन्होंने कहा कि  स्टाॅफ की कमी को देखते हुए जिला बेमेतरा के जिला चिकित्सालय के लिए चिकित्सा विशेषज्ञ, स्वास्थ्य केन्द्रों के लिए चिकित्सा अधिकारी(डठठै), फार्मसिस्ट की जिला खनिज न्यास निधि मद से भर्ती किये जाने हेतु प्रस्ताव तैयार किये जाने के निर्देश दिए गए।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email