बेमेतरा

जिले के प्रभारी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू की अध्यक्षता में, जिला स्तरीय विभागीय समीक्षा बैठक हुआ

जिले के प्रभारी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू की अध्यक्षता में, जिला स्तरीय विभागीय समीक्षा बैठक हुआ

TNIS

बेमेतरा : प्रदेश के गृह, जेल, लोक निर्माण मंत्री एवं बेमेतरा जिले के प्रभारी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने कल शनिवार को विभागीय समीक्षा बैठक ली। कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित इस मैराथन बैठक में प्रत्येक विभागों की बिन्दुवार जानकारी लेकर इसके क्रियान्वयन की विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने कहा कि राज्य शासन के सभी विभागों में जनकल्याणकारी योजनाएं चल रही हंै। ये योजनाएं तभी सार्थक होंगी जब उनका लाभ जरूरतमंद लोगों को समय पर मिलेगा। गृहमंत्री श्री साहू ने कहा कि प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता स्वास्थ्य, शिक्षा एवं पेयजल को लेकर है। लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिले, पीने का स्वच्छ पानी मिले एवं उनके बच्चों को बेहतर शिक्षा मिले। इस दिशा में शासन द्वारा प्रयास जारी है। उन्होंने प्रदेश सरकार की फ्लैगशिप सुराजी गाॅंव योजना नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए लोगों को आगे आने का आव्हान किया। इन कार्यक्रमों में लोगों की सहभागिता बहुत आवश्यक है। इससे ग्रामीण अर्थ-व्यवस्था मजबूत होगी। बैठक में उन्होंने पेयजल, बिजली तथा अन्य विकास कार्यों की समीक्षा की तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

बैठक में गृह मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि जिला मुख्यालय में दूर-दराज से प्रतिदिन ग्रामीणजन रोजमर्रा के कार्यों के लिए आते हैं, उनकी यथासंभव सहायता करें। उनके मन में शासन से कई अपेक्षाएं होती हैं इसलिए आवेदनों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करते हुए प्राथमिकता से निराकरण करें। उन्होंने कहा ऐसे काम शासकीय नियमों में नहीं आते हैं, इस संबंध में ग्रामीणों को स्पष्ट रूप से जानकारी दे दी जाए, जिससे उन्हें बार-बार शासकीय कार्यालय न आना पड़े। गृहमंत्री ने पुलिस अधीक्षक से जिले में कानून एवं व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली। इस अवसर पर विधायक बेमेतरा आशिष कुमार छाबड़ा, विधायक नवागढ़ गुरूदयाल सिंह बंजारे, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति कविता साहू, कलेक्टर बेमेतरा महादेव कावरे, पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर, जिला पंचायत के सीईओ प्रकाश कुमार सर्वे, अपर कलेक्टर एस.आर. महिलांग सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।


 प्रभारी मंत्री ने जिलें में खाद - बीज की उपलब्धता एवं उठाव के संबंध में जानकारी ली। उपसंचालक कृषि ने बताया कि जिलें में इस वर्ष उर्वरक का लक्ष्य 38800 मी.टन के विरूद्ध समितियों मे भण्डारण 21809 मी.टन कर दिया गया है। समितियों में वितरण 12060 मी.टन है।  बैठक मे बताया गया कि महात्मा गांधी नरेगा के अंतर्गत जिले में पंजीकृत परिवारों की संख्या 162264 है। जिले में कार्यरत् मजदूरों की संख्या 92942 है। इसी तरह प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत वर्ष 2018-19 में स्वीकृत आवास 11052 जिसमें से 8048 आवास पूर्ण कर लिये गये है। वर्ष 2017-18 में कुल स्वीकृत आवास 6106 में पूर्ण आवास की संख्या 5894 थी। कलेक्टर महादेव कावरे ने अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर सरकार की योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन करने की बात कही।

गृहमंत्री श्री साहू ने कृषि विभाग के अधिकारियों से कहा कि बेमेतरा जिले के किसानों को अन्य जिलों में संचालित योजनाओं एवं कार्यक्रमों को अवलोकन करने के लिए भ्रमण पर ले जाएं। ताकि वे इन योजनाओं से प्रेरित हो सके। गृहमंत्री ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत निःशक्त महिलाओं को सिलाई मशीन प्रदाय करने के निर्देश दिए। ताकि वे आत्मनिर्भर हो सके। प्रभारी मंत्री श्री साहू ने गांवों में खेल मैदान के लिए जमीन आरक्षित करने की बात कही। उन्होंने बेरला तहसील के अंतर्गत ग्राम सांकरा में उपलब्ध लगभग 140 एकड़ जमीन को कृषि आधारित उद्योग के लिए सुरक्षित रखने को कहा।

प्रभारी मंत्री ने सांसद एवं विधायक निधि के अंतर्गत स्वीकृत कार्यों का बोर्ड प्रदर्शित करने के निर्देश दिए। श्री साहू ने नवागढ़ विकासखण्ड के ग्राम मल्दा में लगभग 95 लाख रूपये की लागत से बने हायर सेकण्डरी स्कूल भवन के लिए तीन सौ मीटर की एप्रोच रोड बनाने के निर्देश पंचायत विभाग के अधिकारियों को दिए। सड़क के अभाव मे शिक्षा विभाग द्वारा इस भवन को हैण्डओवर नहीं लिया जा रहा है। उन्होंने इस शिकायत को गंभीरता से लिया। गृहमंत्री ने साफ चेतावनी दी कि शासकीय राशि का दुरूपयोग न हो। श्री साहू ने पटवारियों के मुख्यालय में उपस्थित रहने के निर्देश दिए। राजस्व विभाग के अंतर्गत नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन के प्रकरणों की समीक्षा की। इसके अलावा छ.ग. लोक सेवा गारंटी अधिनियम के अंतर्गत निराकृत हुए प्रकरणों की जानकारी ली।           

प्रभारी मंत्री ने बेमेतरा शहर की बहुप्रतिक्षित बायपास सड़क निर्माण के संबंध में लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से जानकारी ली। अधिकारियों ने बताया कि सर्वे एवं भू-अर्जन की प्रक्रिया होने के बाद टेण्डर की कार्यवाही की जायेगी। श्री साहू ने कार्यपालन अभियंता प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना से जिले में निर्मित सड़कों के संबंध में जानकारी ली एवं इसके रखरखाव पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। गृहमंत्री ने कुपोषण के स्तर में कमी लाने महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इस वर्ष जिले में कुपोषित बच्चों की संख्या 12974 है। इनमें से गंभीर कुपोषित बच्चों की संख्या 1457 है। विद्युत विभाग के समीक्षा के दौरान मानसून पूर्व ट्राॅंसफार्मर मरम्मत एंव विद्युत पोल बदलने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। बैठक में नरेगा, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना के साथ-साथ स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, कृषि, सहकारिता, खनिज, वन अधिकार भूमि पट्टा वितरण, महिला एवं बाल विकास विभाग, पीएचई, राजस्व, स्वास्थ्य, समाज कल्याण, नगरीय प्रशासन, पावर वितरण कंपनी के कार्यों की समीक्षा की गई।

बेमेत

 

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email