बेमेतरा

पेन का निर्माण कर अपना भविष्य गढ़ रही है महामाया स्व-सहायता समूह की महिलाएं

पेन का निर्माण कर अपना भविष्य गढ़ रही है महामाया स्व-सहायता समूह की महिलाएं

बेमेतरा : -  पेन का निर्माण कर अपना भविष्य गढ़ रही हैं ग्राम मटका की महामाया स्व-सहायता समूह की बहनें। जी हां हम बात कर रहें हैं बेमेतरा जिले के ग्राम पंचायत मटका के महामाया स्व सहायता समूह की। जहां चाह वहां राह इस कहावत को चरितार्थ कर दिखाया है महामाया स्व-सहायता समूह की बहनों ने। जो राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान अंतर्गत 2019 में पंजीकृत हुए है। कलेक्टर महादेव कावरे से स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने समूह द्वारा तैयार किया गया पेन भेंट किया। कलेक्टर ने इस अनूठी पहल के लिए स्व. सहायता समूह को बधाई दी। इससे पूर्व यह समूह 07 वर्षाे से बैंक से ऋण लेकर खेती-किसानी में लगाकर अपनी आजीविका जैसे तैसे गुजारा कर रहा था।

वर्तमान में महामाया स्व सहायता समूह द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान (एन.आरएलएम) अंतर्गत बैंक लिंकेंज के माध्यम से पेन बनाने की मशीन खरीदकर अपनी आजीविका स्तर को उठाने का प्रयास कर रहे है। विगत दिनों में स्व सहायता समूह द्वारा पेन बनाने का प्रशिक्षण का भी लिया गया है जिसके फलस्वरूप कलेक्टर  एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत बेमेतरा के सहमति अनुसार जिले के सम्पूर्ण 52 विभागों, आदिवासी विभाग के छात्रावास और शासकीय स्कूलों में महामाया स्व सहायता समूह को प्राथमिकता देकर पेन खरीदनें का निर्देश दिया गया है। इसमें कुल 10 महिलाएं शामिल है- समूह की सक्रिय महिला श्रीमती चित्ररेखा यदु, सुमित्रा विश्वकर्मा, डगेश्वरी यदु, एवं अन्य महिलाएं रूचि लेकर कार्य से जूड़ी है। जिनकों प्रोत्साहन एवं मार्गदर्शन देने के लिए जिले से जिला परियोजना प्रबंधक सुश्री नेहा बंसोड एवं सहायक विकास विस्तार अधिकारी (एडीईओ) रोहिणी दिव्य की भूमिका है।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email