बेमेतरा

बेमेतरा कलेक्टर ने की राजस्व विभाग के काम-काज की समीक्षा

बेमेतरा कलेक्टर ने की राजस्व विभाग के काम-काज की समीक्षा

रेत के अवैध उत्खनन पर रोकथाम एवं खाद-बीज के भंडारण की समीक्षा 

बेमेतरा 04 मई 2019:- कलेक्टर श्री महादेव कावरे ने जिले के राजस्व अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय कामकाज की समीक्षा की। उन्होने कहा कि राजस्व अधिकारी अपने क्षेत्रोें का नियमित भ्रमण करें, अधिकारियों का सम्बन्ध आम जनता ग्रामीण व किसानों ंसे जुड़ा होता है इसलिए सभी अधिकारी और मैदानी कर्मचारी मुस्तैदी से ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण करते हुए आम जनता की समस्याओं से रु-ब-रु होकर त्वरित निराकरण करना सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने एसडीएम एवं तहसीलदारों से पटवारियों को उनके निर्धारित मुख्यालय में उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। संयुक्त जिला कार्यालय के दृष्टि सभाकक्ष में आयोजित बैठक के दौरान उन्होने अधिकारियों से विवादित-अविवादित नामांतरण के प्रकरण बंटवारा, सीमांकन, इसके अलावा भू-अर्जन के प्रकरणों की जानकारी ली। इस अवसर पर जिला पंचायत केे मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रकाश कुमार सर्वे, अपर कलेक्टर श्री एस.आर महिलांग, एस.डी.एम. बेमेतरा - श्री डी.एन. कश्यप, बेरला- दुर्गेश वर्मा, नवागढ़ - श्री डी.एस. उइके, साजा श्री यू.एस. साहू, खनिज, लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी, कृषि, आबकारी विभाग के अधिकारी, जनपद पंचायत के सीईओ. सभी तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार उपस्थित थे। कलेक्टर ने खनिज अधिकारी से जिले में रेत एवं मुरूम के अवैध उत्खनन पर अंकुश लगाने गर्मी के मौसम में पेयजल की स्थिति से निपटने लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता को आवश्यक निर्देश दिये। जिलाधीश ने आबकारी अधिकारी से कहा कि मदिरा की अधिक दर पर बिक्री न हो इसका विशेष ध्यान रखें। कृषि विभाग के अधिकारी से जिले में खाद-बीज के भंडारण एवं उठाव की जानकारी ली। उन्होने किसानों से फसल के अवशिष्ट खेत में न जलाने की अपील की। इससे भूमि की उर्वरा शक्ति कम होती है एवं गर्मियों में आगजनी की घटना की आशंका बनी रहती है। 
बैठक में कलेक्टर ने भू- अर्जन, न्यायालयीन प्रकरणों, सीमाकंन के प्रकरणों की समीक्षा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होने जिले में शासकीय भूमि पर किसी भी प्रकार के अतिक्रमण होने पर उसे हटाने कि कार्यवाही करने के लिए राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया। बैठक में इसके अलावा खसरा, बी-वन नकल प्रदाय की समीक्षा की। कलेक्टर ने अपील संबंधित आवेदनों के निराकरण तथा विवादित मामलों का भी समय पर निराकरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इसके अलावा बैठक में धारा 170 (ख), भू-अर्जन, अभिलेखों का अद्यतीकरण, भू-राजस्व एवं विभिन्न करों की वसूली की स्थिति, पंचायत उपकर, शाला भवन उपकर, डायवर्सन, टैक्स वसूली, आरसीसी की वसूली आदि विषयों की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए। राजस्व पुस्तक परिपत्र भाग 6-4 के प्राकृतिक आपदा से संबंधित पीड़ित परिवार को मुआवजा राशि के प्रकरण शीघ्र तैयार करने निर्देश दिए। प्रकरण तैयार करते समय अधिकारी अपनी संवेदनशीलता का परिचय दें। कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि मैदानी क्षेत्रों के भ्रमण के दौरान आंगनबाड़ी केंद्रों में मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता की जांच अवश्य करें।

 

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email