बेमेतरा

चुनाव प्रशिक्षण गम्भीरता पूर्वक लेवे- कलेक्टर ने मास्टर ट्रेनरों को दिया गया प्रशिक्षण

चुनाव प्रशिक्षण गम्भीरता पूर्वक लेवे- कलेक्टर ने मास्टर ट्रेनरों को दिया गया प्रशिक्षण

TNIS

बेमेतरा : जिले में लोकसभा निवार्चन 2019 के निष्पक्ष, निर्विध्न एवं शांति पूर्ण ढंग से संपन्न कराने जिला प्रशासन द्वारा आवश्यक तैयारियां शुरू कर दी गई है। इसी क्रम में कलेक्टोरेट सभाकक्ष में कल सवेरे मास्टर ट्रेनर को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम के प्रारंभ में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री महादेव कावरे ने कहा कि आप सभी मास्टर ट्रेनर्स पीठासीन एवं मतदान अधिकारियों को चुनाव की बारीकियों से अवगत करायेंगे। चुनाव ट्रेनिंग को गम्भीरता पूर्वक ले एवं ट्रेनिंग के दौरान प्रत्येक मतदान केन्द्र में मतदान के पूर्व कम से कम 50 माॅकपोल करना है। इस बार पोस्टर में लिखने के लिए ब्लू मार्कर पेन मिलेगीं। मोबाईल का उपयोग सी-टाॅप के लिए करें। सूर्य की तेज रोशनी, कूलर की नमी युक्त हवा से ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपेट को बचाए। मास्टर ट्रेनरों को कम्प्युटर आधारित पाॅवर पाईंट प्रजेन्टेशन के जरिये ट्रेनिंग दी गई। कलेक्टर ने कहा कि मतदान के दो दिन पूर्व गांव में कोटवार द्वारा मुनादी कराई जायेगी की मतदाता अपने साथ इपिक कार्ड के अलावा 11 अन्य दस्तावेज जिसमें उसका फोटो लगी हो उसे पोलिंग बूथ में साथ में लायेंगे। 

मतदान दल मतदान दिवस के एक दिवस पूर्व पोलिंग बूथ/शासकीय भवन में ही रात्रि विश्राम करेंगे और मतदान प्रक्रिया की तैयारी करेंगे। प्रशिक्षण के दौरान बताया गया कि चुनाव एजेंट पोलिंग बूथ में प्रवेश करने के बाद बाहर न जाए यदि जातें है तो उन्हें दोबारा प्रवेश की अनुमति न देवे। कलेक्टर ने कहा कि मतदान दिवस के दिन मतदान अधिकारियों द्वारा सवेरे 5.45 मिनट पर माॅकपोल की कार्यवाही की जाएगी। इस दौरान यदि चुनाव अभिकर्ता मतदान केन्द्र में नहीं आए है तो 15 मिनट तक इंतजार किया जाएगा उसके बाद माॅकपोल की कार्यवाही मतदान दल द्वारा प्रारम्भ कर दी जाएगी।

ट्रेनिंग के दौरान बताया गया कि प्रत्येक बैलेट यूनिट में बे्रल लिपि की सुविधा रहेगी, जिसमें दृष्टिबाधित मतदाता के लिए कोई परेशानी न हो। प्रत्येक मतदान केन्द्र में विजिट शीट की सुविधा रहेगी। मतदाता रजिस्टर सही तैयार किया जाना है। टेण्डर वोट का प्रावधान भी रहेगा। मतदान पूर्ण होने के बाद क्लोज बटन को अनिवार्य रूप से दबाना है, प्रारूप 17 (ग )अनिवार्य रूप से भरा जाना है। वोटर्स वेरियेबल पेपर आडिट ट्रेल मशीन का प्रयोग इस बार भी किया जायेगा। माॅकपोल के अलावा सात सेकण्ड के लिए पर्ची व्ही.व्ही.पी.ए.टी. से निकलेगी जो व्हीव्हीपेट की रिपोर्टिंग करेंगी। प्रशिक्षण के दौरान सवाल- जवाब के जरिये शंका-समाधान किया गया। जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर भानू सोनी ने ई.व्ही.एम. एवं व्हीपेट के आॅपरेटिंग के संबंध में विस्तारपूर्वक बताया साफ्टवेयर के संबंधी में तकनीकी जानकारी दी। प्रशिक्षण में जिला पंचायत के सीईओ प्रकाश कुमार सर्वे, डिप्टी कलेक्टर, आर.पी.आंचला, सहित विधानसभावार मास्टर ट्रेनर्स उपस्थित थे।
 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email