बेमेतरा

स्वतंत्र निष्पक्ष व शांतीपूर्ण निर्वाचन से बनतेे है नए कीर्तिमान- आब्जर्वर श्री महावीर सिंह

स्वतंत्र निष्पक्ष व शांतीपूर्ण निर्वाचन से बनतेे है नए कीर्तिमान- आब्जर्वर श्री महावीर सिंह

TNIS

’निर्वाचन तैयारियों की पर्यवेक्षकों ने ली जानकारी’ ’8 अपैल के बाद सेक्टर अधिकारियो कोे एक बार फिर से अपने क्षेत्रों का’ ’पुलिस टीम के साथ संयुक्त भ्रमण कर गतिविधियों पर नजर रखने की दी सलाह’

बेमेतरा : संसदीय क्षेत्र दुर्ग लोकसभा के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त आब्जर्वर डाॅ. महावीर सिंह एवं श्री मनोज कुमार ने कल बी.आई.टी. काॅलेज दुर्ग के सभागार में बैठक लेकर लोकसभा निर्वाचन कार्य को सम्पन्न कराने के लिए की गई व्यवस्था और तैयारियों की जानकारी ली। बैठक में प्रेक्षक ने निर्वाचन क्षेत्र के मतदान केन्द्रों की व्यवस्था के साथ-साथ कानून व्यवस्था, आचार संहिता के परिपालन के लिए गठित टीमों की कार्यवाही की भी जानकारी ली। बैठक में कलेक्टर दुर्ग श्री अंकित आनंद, बेमेतरा कलेक्टर श्री महादेव कावरे, पुलिस अधीक्षक दुर्ग श्री प्रखर पाण्डेय, बेमेतरा पुलिस अधीक्षक श्री प्रशान्त ठाकुर, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी दुर्ग श्री संजय अग्रवाल, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री बी.बी. पंचभाई सहित सभी सेक्टर अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में कलेक्टरों ने निर्वाचन के लिए की गई तैयारियों की जानकारी से प्रेक्षक को अवगत कराया। बेमेतरा कलेक्टर श्री महादेव कावरे ने बताया कि मतदान केन्द्रों के लिए नियुक्त मतदान दलों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। निर्वाचन कार्य निर्विध्न, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए पर्याप्त मात्रा में अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। उन्होंने बेमेतरा जिले में की गई सभी प्रशासनिक तैयारियों व कार्यवाही की जानकारी दी।

प्रेक्षक डाॅ. महावीर सिंह ने कहा कि आप सभी एक ऐसे पर्व में भागीदार बनकर आहूती देने जा रहे हैं, जो लोकतंत्र को मजबूत बनाएगा। पूरी दुनिया में हिन्दुस्तान को इस बात के लिए जाना जाता है कि यहां निर्वाचन कार्य बिना किसी उन्माद और रक्तपात के सम्पन्न होता है। आजादी के बाद से निर्वाचन के कार्य में लोकतंत्र को मजबूत बनाए रखने में नए-नए कीर्तिमान स्थापित होते रहे हैं। यह कीर्तिमान आप सभी की सजगता, निष्पक्षता, ईमानदारी से सम्भव हो सका है। उन्होंने कहा कि मैं आशा करता हूं कि आगे भी आप सभी सजग होकर निर्वाचन आयोग की भावनाओं के अनुरूप कार्य करते हुए नए कीर्तिमान की नींव रखने में कामयाब होंगे।

हिन्दुस्तान की निर्वाचन प्रणाली की तारीफ पूरी दुनिया में होती है। विश्व के अनेक विकसित राष्ट्र अमेरिका, फ्रांस, यूरोफ के राष्ट्रमण्डल यहां की निर्वाचन प्रणाली का अध्ययन करने आते हैं। भारत ने ऐसे तकनीक इजाद की है, जिसकी प्रशंसा पूरी दुनिया में होती है। निर्वाचन प्रणाली की यह कीर्तिमान भारत को विश्व में एक अलग पहचान और स्थान दिलाती है। उन्होंने कहा कि आगे भी आप इसी तरह एकजुटता, निष्पक्षता के साथ कार्य करेंगे। आप ने जो बीड़ा उठाया है और जो मिशाल पेश की है, उस कीर्तिमान को बनाए रखने के लिए आपसी भेदभाव को भूल कर सामंजस्य पूर्वक कार्य करने की महती आवश्यकता है।

प्रेक्षक डाॅ. महावीर सिंह ने कहा कि कोई भी निर्वाचन को सम्पन्न कराने के लिए स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की आवश्यकता है। निर्वाचन व मतदान कार्य बिना किसी दबाव या लाभ के होनी चाहिए। इस महापर्व में सभी समाज, धर्म के लोगों की भागीदारी आवश्यक है। निर्वाचन की पूरी प्रक्रिया शांतिपूर्ण सम्पन्न होनी चाहिए। उन्होंने छत्तीसगढ़ निर्वाचन आयोग द्वारा समायोजित शब्द सुगम, सुघ्घर, समावेशी का उल्लेख करते हुए कहा कि यह पूरे निर्वाचन कार्य को अनूठा बनाता है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि आप कोई भी ऐसा कार्य ना करें, जिससे आप पर कोई संदेह करे और निर्वाचन के कार्य में कोई विकार उत्पन्न हो। अधिकारियों को पूर्व ज्ञान में ना रहकर पूरी आत्मविश्वास और चिंतन के साथ निर्वाचन की प्रक्रिया को सम्पन्न कराने के लिए निर्वाचन की सभी गाईड-लाईन का शांत स्वभाव, धैर्यपूर्वक लक्ष्य प्राप्ति की दिशा में कार्य करने की सलाह दी।

प्रेक्षक श्री मनोज कुमार ने कहा कि निर्वाचन कार्य राष्ट्रीय पर्व की तरह है। इस राष्ट्रीय पर्व में भागीदार बनने पर सभी का स्वागत है। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी निर्वाचन की अपेक्षा के अनुरूप कार्य करें। उन्होंने कहा कि 8 अप्रैल को नाम वापसी और प्रतीक चिन्ह आबंटन के बाद क्षेत्र के लिए निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों का नाम स्पष्ट हो जाएगा। इस दौरान किसी प्रकार का कोई लालच, प्रलोभन या उन्माद उत्पन्न होने की स्थिति ना हो, यह भी देखने की जिम्मेदारी बनती है। अभ्यर्थी का नाम स्पष्ट हो जाने के बाद एक बार फिर से सभी मतदान केन्द्रों का पुलिस अधिकारियों के साथ संयुक्त भ्रमण कर व्यवस्था में कमी का आंकलन कर दुरूस्त करने कहा। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में पारदर्शी निर्वाचन सम्पन्न कराने के लिए अंतर जिला सीमा, अवैध हथियार, नगदी के आवाजारी पर कड़ी नजर रखें। दिन-प्रतिदिन की गतिविधियांे और क्रिया-कलाप पर नजर रखते हुए कार्रवाई करें।

कलेक्टर एवं रिटर्निंग आफिसर श्री अंकित आनंद ने दुर्ग लोकसभा क्षेत्र में निर्वाचन कार्य सम्पन्न कराने के लिए की गई व्यवस्था एवं तैयारी की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दुर्ग लोकसभा क्षेत्र के लिए 194 सेक्टर बनाए गए हैं। जिसमें दुर्ग जिले के अंतर्गत 132 एवं बेमेतरा जिला अंतर्गत 62 सेक्टर हैं। लोकसभा क्षेत्र के लिए दोनों जिले मिलाकर 2 हजार 172 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। सेक्टर अधिकारी को सौपी गई जिम्मेदारी के अनुसार उनके द्वारा मतदान केन्द्रों का आवश्यक निरीक्षण कर लिया गया है। कमियों के आधार पर व्यवस्था दुरूस्त कर ली गई है। कलेक्टर ने बताया कि सभी मतदान केन्द्रों में गर्मी की मौसम को ध्यान में रखते हुए सभी आवश्यक व्यवस्था जैसे छाया, पानी, प्रतिक्षालय, रैम्प, शौचालय की व्यवस्था सुनिश्च

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email