रायगढ़

सारंगढ़ में बोले डॉ. रमन सिंह, गरीबों के जीवन में खुशहाली लाना राज्य सरकार का सबसे बड़ा लक्ष्य

सारंगढ़ में बोले डॉ. रमन सिंह, गरीबों के जीवन में खुशहाली लाना राज्य सरकार का सबसे बड़ा लक्ष्य

रायगढ़ : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि गरीबों के जीवन में खुशहाली लाना राज्य सरकार का सबसे बड़ा लक्ष्य हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विभिन्न आस्था केन्द्रों का विकास प्राथमिकता के साथ किया गया है। बाबा गुरूघासीदास की जन्म स्थली और कर्म स्थली गिरौदपुरी में लगभग 90 करोड़ रूपए की लागत के विकास कार्य कराए गए हैं। सभी वर्गो के साथ-साथ अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों के विकास के लिए योजनाबद्ध प्रयास किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब भी जिला पुनर्गठन होगा सारंगढ़ प्राथमिकता में रहेगा। डॉ. सिंह आज प्रदेश व्यापी विकास यात्रा के दौरान रायगढ़ जिले के सारंगढ़ में आयोजित आम सभा को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होंने सारंगढ़ में सौ बिस्तर अस्पताल की स्वीकृति की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने आम सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने सारंगढ़ में लगभग 108.80 करोड़ रूपए की लागत से 38 निर्माण कार्यो का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। उन्हांेंने इनमें से लगभग 100.98 करोड़ रूपए की लागत से 21 नए स्वीकृत कार्यो का शिलान्यास और 7.81 करोड़ रूपए की लागत से पूर्ण हो चुके 17 कार्यो का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने आम सभा में 26 हजार 443 परिवारों को आबादी पट्टा और 30 हजार 711 हितग्राहियों को 40.36 लाख रूपए की राशि की सामग्री एवं सहायता राशि वितरित की। मुख्यमंत्री ने कहा कि रायगढ़ जिले में 58 हजार किसानों को 96 करोड़ 49 लाख रूपए का धान बोनस दिया जा रहा है, जिनमें सारंगढ़ क्षेत्र के 20 हजार किसानों को 33 करोड़ 23 लाख रूपए का धान बोनस दिया जा रहा है। 

मुख्यमंत्री ने आम सभा में डेढ़ हजार महिलाओं को रसोई गैस कनेक्शन, डेढ़ हजार परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना में मकान स्वीकृति पत्र, श्रम विभाग की योजनाओं में 800 श्रमिकों को साइकिल और उपकरणों का भी वितरण किया। इसके अलावा उन्होंने मत्स्य पालको को जाल, आईस बाक्स, दो सौ पशु पालकों को चाराबीज, 75 फड़मुंशियों को साइकिल, 30 तेन्दूपत्ता संग्रहकों को पारिश्रमिक और संग्राहकों के बच्चों को छात्रवृत्ति सहित विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं में सामग्री और सहायता राशि वितरित की। 

    मुख्यमंत्री ने जिन कार्यो का भूमि पूजन किया, उनमें मुख्य रूप से सारंगढ़ नगर में 34 करोड़ 47 लाख 80 हजार रूपए की लागत से आवर्धन जल प्रदाय योजना, 9 करोड़ 46 लाख रूपए की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना अंतर्गत एम.एल.01 मल्दा व परसदा छोटे से गोण्डा सड़क का भूमिपूजन शामिल है। इसके अलावा उन्होंने 8 करोड़ 75 लाख रूपए की लागत से गोड़म-बंधापाली सड़क, 8.30 करोड़ रूपए की लागत से एम.एम.10 बरमकेला सोहेला रोड से नवापारा(बड) तक सड़क, 8.93 करोड़ रूपए की लागत से गंथरा (दानसरा) मौहाढ़ोढ़ा मार्ग, 5 करोड़ 62 लाख रूपए की लागत से साराडीह बैराज में अपस्ट्रीम दायीं तट में विकास एवं सौंदर्यीकरण कार्य का भूमिपूजन किया।

 मुख्यमंत्री ने जिन कार्यो का लोकार्पण किया, उनमें मुख्य रूप से 3 करोड़ 60 लाख रूपए की लागत से पहन्दा से चोरभठ्ठी मार्ग पर लीलार नाला में पुल, 1.90 करोड़ रूपए की लागत से ग्राम बोंदा और बरमकेला में शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला भवन का लोकार्पण किया। इसके अलावा उन्होंने 37 लाख रूपए की लागत से वनमंडल रायगढ़ द्वारा स्टॉप डेम निर्माण कार्य कक्ष क्रमांक 915 आर एफ गोमर्डा तथा 20 लाख रूपए की लागत से कक्ष क्रमांक 941 पीएफ गोमर्डा में  एनीकट का लोकार्पण किया। इस अवसर पर केन्द्रीय इस्पात राज्य मंत्री श्री विष्णु देव साय, विधायक श्रीमती केराबाई मनहर और श्री रोशन लाल अग्रवाल, छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष श्री भूपेन्द्र सवन्नी, विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष श्री नारायण चंदेल, जिला पंचायत रायगढ़ के अध्यक्ष श्री अजेश पुरूषोत्तम अग्रवाल, मुख्यमंत्री के सचिव श्री सुबोध सिंह और कमिश्नर श्री टी.सी.महावर सहित अनेक जनप्रतिनिधि, वरिष्ठ अधिकारी और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email