जान्जगीर-चाम्पा

जांजगीर और कोरबा में शुरू होगी दीनदयाल अन्न योजना : मजदूरों को पांच रूपये में मिलेगा भरपेट भोजन

जांजगीर और कोरबा में शुरू होगी दीनदयाल अन्न योजना : मजदूरों को पांच रूपये में मिलेगा भरपेट भोजन

जांजगीर-चाम्पा : लोक सुराज अभियान 2018 के तहत मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने बीते दिन गुरुवार 15 मार्च की रात जांजगीर के कलेक्टोरेट सभाकक्ष में जांजगीर-चांपा और कोरबा जिले के विकास कार्यो की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों जिलों में दीनदयाल अन्न योजना की एक अप्रैल से शुरूआत होगी। इस योजना के तहत पंजीकृत मजदूरों को केवल पांच रूपये में भरपेट भोजन दिया जाएगा। श्रमिक चाहे तो टिफिन में  भोजन ले जा सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन दोनों जिलों में मजदूरों की संख्या काफी है और इस योजना के संचालन से उन्हें फायदा होगा। मुख्यमंत्री ने विशेष शिविर लगाकर अधिक से अधिक मजदूरों का पंजीयन करने के निर्देश दिये हैं।

मुख्यमंत्री ने मनरेगा के तहत मजदूरी भुगतान की समीक्षा करते हुए दोनों जिलों में शिविर लगाकर लंबित मजदूरी का भुगतान करने के निर्देश दिये हैं। डॉ. सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत वर्ष 2016-17 और वर्ष 2017-18 में मिले आवास निर्माण के लक्ष्य को समय पर पूर्ण किया जाए। स्वच्छ भारत मिशन के तहत निर्मित शौचालयों की प्रोत्साहन राशि भी हितग्राहियों को प्रदान कर दिया जाए। सड़क  निर्माण कार्यो की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने जांजगीर-पामगढ-ससहा़ तक सड़क निर्माण कार्य जून तक पूर्ण करने के निर्देश दिये हैं। डॉ. सिंह ने जांजगीर-चांपा और कोरबा जिले में मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत नवीनीकरण के लिए स्वीकृत सड़कों में जून माह तक कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि सड़कों के समय पर संधारण होने से ग्रामीणों को आने-जाने में सुविधा होती है। अधिकारियों द्वारा बताया गया कि जांजगीर-चांपा जिले में 38 तथा कोरबा जिले में 13 सड़कों के नवीनीकरण के लिए राशि दी गई है।

मुख्यमंत्री  ने जांजगीर-चांपा के 14 और कोरबा के 9 नवीन सड़क निर्माण कार्यों में भी गति लाने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने खोखसा और चांपा ओव्हर ब्रिज निर्माण कार्य जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिये हैं। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने बताया कि दोनों ओव्हर ब्रिज में राज्य का 95 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है। रेल्वे का कार्य शेष है। इस पर मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने रेल्वे के अधिकारियों से बात कर कार्य जल्द पूर्ण कराने के निर्देश दिये हैं। पेयजल व्यवस्था की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने बलौदा के बुड़गहन में नल-जल योजना दो माह में शुरू करने के निर्देश दिये हैैं उन्होंने कहा है कि दिये गये समय में कार्य पूर्ण नहीं होने पर संबंधित अधिकारी पर कार्यवाही करें।

डॉ. सिंह ने कहा कि स्वास्थ्य बीमा योजना में ज्यादा से ज्यादा लोगों को लाभ मिलना चाहिए। इस योजना में शेष बचे हितग्राहियों का स्मार्ट कार्ड बनाया जाए। उन्होंने कहा कि कोरबा और जांजगीर-चांपा जिले में जिन जातियों का मात्रात्मक  त्रुटि की वजह से जाति प्रमाण पत्र नहीं बना है, केम्प लगाकर उनका जाति प्रमाण पत्र बनवाएं। बैठक में लोकसभा सांसद श्रीमती कमला देवी पाटले, संसदीय सचिव श्री अंबेश जांगड़े, मुख्य सचिव श्री अजय सिंह, अपर मुख्य सचिव श्री सी.के. खेतान, बिलासपुर संभाग के कमिश्नर श्री टी.सी. महावर, पुलिस महानिरीक्षक श्री दीपांशु काबरा, जांजगीर-चांपा कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन, कोरबा कलेक्टर श्री मोहम्मद अब्दुल केसर हक सहित सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email