जशपुर

पत्थलगांव की बिटिया ने किया गांव का नाम रोशन प्रिया के चिकित्सक बनने से उनके परिजनों के साथ ही शहर में हर्ष की लहर

पत्थलगांव की बिटिया ने किया गांव का नाम रोशन प्रिया के चिकित्सक बनने से उनके परिजनों के साथ ही शहर में हर्ष की लहर

श्यामनारायण गुप्ता 

जशपुर/पत्थलगांव : कु. प्रिया खत्री ने एमबीबीएस अंतिम वर्ष की परीक्षा उत्तीर्ण कर ली है। पत्थलगांव के निजी चिकित्सक रहे स्व डाॅ एल डी चेतवानी की नातिन प्रिया अंबिकापुर मेडिकल काॅलेज की छात्रा हैं। साथ ही वे चिकित्सक बन गई हैं। प्रिया के चिकित्सक बनने से उनके परिजनों के साथ ही शहर में हर्ष की लहर दौड़ गई है। उल्लेखनीय है कि प्रिया खत्री जांजगीर निवासी सुरेश कुमार खत्री और मधु खत्री की ज्येष्ठ पुत्री हैं। प्रिया ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा जांजगीर से हासिल की। बाल्यकाल से ही प्रिया मेधावी छात्रा रहीं और अपनी कक्षाओं में शीर्ष स्थान हासिल करती रहीं। 12वीं की परीक्षा में भी उन्होंने प्रावीण्य सूची में स्थान हासिल किया। जिसके लिए उन्हें केंद्र और राज्य सरकार द्वारा छात्रवृत्ति प्रदान की गई। 12वीं के बाद उन्होंने नीट की परीक्षा दी। बचपन से ही मेधावी रही प्रिया ने अपने पहले ही प्रयास में नीट की परीक्षा उत्तीर्ण कर ली थी। इसके बाद उनका चयन अंबिकापुर मेडिकल काॅलेज के लिए किया गया। यहां चार वर्षों तक रहकर उन्होंने अध्ययन किया। उन्होंने अप्रैल माह में एमबीबीएस अंतिम वर्ष की परीक्षा दी थी जिसके नतीजे शुक्रवार शाम घोषित किए गए। प्रिया ने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता को दिया है। उन्होंने बताया कि उनके पिता श्री सुरेश खत्री ने उन्हें निरंतर कठिन परिश्रम के लिए प्रेरित किया वहीं उनकी मां श्रीमती मधु खत्री उनके लिए निरंतर संघर्षरत रहीं। उनके नाना स्व डाॅ एल डी चेतवानी ने लंबे समय तक पत्थलगांव में निजी चिकित्सक के रूप में अपनी सेवाएं दीं वहीं उनके मामा डाॅ प्रकाश चेतवानी भी रायगढ़ में बतौर चिकित्सक अपनी सेवाएं दे रहे हैं। उन्होंने बताया कि परिवार में चिकित्सा के प्रति रूझान से उन्होंने भी बचपन से ही चिकित्सा को ही अपना ध्येय बना रखा था। मां श्रीमती मधु खत्री के कठोर परिश्रम से उन्हें भी अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित रहने की प्रेरणा मिली। उन्होंने बताया कि अंबिकापुर मेडिकल काॅलेज के अपने गुरूजनों से उन्हें विषय को स्पष्टता के साथ समझने में मदद मिली। हालांकि वे चिकित्सक बन गई हैं परतु उनका कहना है कि उनका लक्ष्य अभी पूरा नहीं हुआ है और वे इसी क्षेत्र में अपनी पढ़ाई आगे भी जारी रखना चाहती हैं। उनके माता-पिता सुरेश व मधु खत्री का कहना है कि पुत्री के चिकित्सक बनने से उनका और समस्त परिजनों का सपना पूरा हुआ है और प्रिया की सफलता से सभी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। सुरेन्द्र चेतवानी,कशिश चेतवानी,डाॅ प्रकाश चेतवानी,डाॅ स्नेहा चेतवानी समेत अन्य परिजनों ने प्रिया के चिकित्सक बनने पर बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email