दुर्ग

दुर्ग पुलिस कंट्रोल रुम में कोविड हेल्प डेस्क प्रारंभ होते ही पहले दिन आये 71 कॉल 50 पहुंचे कोविड टेस्ट कराने तो 23 हितग्राहियों ने कराया वैक्सीनेशन

दुर्ग पुलिस कंट्रोल रुम में कोविड हेल्प डेस्क प्रारंभ होते ही पहले दिन आये 71 कॉल 50 पहुंचे कोविड टेस्ट कराने तो 23 हितग्राहियों ने कराया वैक्सीनेशन

No description available.

दुर्ग,  कोविड हेल्प डेस्क प्रारंभ होने के पहले ही दिन आज 71 लोगों का कॉल आया। कॉल कर लोगों ने एम्बुलेंस की सुविधाएं और अस्पताल में भर्ती होने को लेकर जानकारियों के बारे में पूछताछ की । वहीं पुलिस कंट्रोल रुम में शुरु की गई हेल्प डेस्क में स्वास्थ्य विभाग व निगम कर्मियों के सहयोग से 50 लोगों का कोरोना टेस्ट और 23 हितग्राहियों का वैक्सीनेशन किया गया। इसके अलावा दो पुलिस कर्मियों के परिवारजनों को ऑक्सीजन की कमी होने पर अस्पताल में बेड की सुविधा उपलब्ध कराई गयी ।

वर्तमान में वैश्विक महामारी कोविड -19 संक्रमण में वृद्धि को दृष्टिगत रखतेहुएलगातार अपने कर्तव्य का निर्वहन करने के दौरान पुलिस के अधिकारियों एवं कर्मचारियों एवं इनके परिवार के सदस्योंमें से कोईकोरोना से संक्रमित होता है , तो उसे पृथक से तत्काल आवश्यक चिकित्सा सुविधा , कोविड टेस्ट , वेक्सीनेशन की सुविधा उपलब्ध कराये जाने की आवश्यकता को देखते हुये पुलिस कण्ट्रोल रूम , भिलाई सेक्टर -06 में शुक्रवार की शाम पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर द्वारा कोविड गाईड लाईन के निर्देशों का पालन करते हुये कोविड हेल्प डेस्क का शुभारंभ किया गया।


कोविड हेल्प डेस्क प्रारंभ होते ही दो पुलिस कर्मियों के परिवारजनों को ऑक्सीजन की कमी होने पर अस्पताल में बेड की सुविधा उपलब्ध कराई गयी । कोविड हेल्प डेस्क का कार्य कोविड टेस्ट कराये जाने हेतु सूचना आने पर संबंधित पुलिस अधिकारी व कर्मचारी या इनके परिवार के सदस्य का कोविड टेस्ट कराना , रिपोर्ट प्राप्त करना , रिपोर्ट के आधार पर संबंधित को मेडीसिन उपलब्ध कराना , होम आईसोलेशन या संबंधित मरीज को अस्पताल में भर्ती कराये जाने हेतु सहायता प्रदान करना , होम आईशोलेशन या अस्पताल में भर्ती मरीजों की वस्तुस्थिति से अवगत होना , इसकी जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को देकर निर्देशानुसार सहायता पहुंचाई जाएगी ।

इसी प्रकार जिन पुलिस अधिकारी व कर्मचारी एवं इनके परिवार के सदस्य जिनकी उम्र 45 वर्ष से अधिक हो चुकी है, जो वैक्सीन नहीं लगाये हैं , उन्हें वैक्सीन लगाया जाएगा । जिले के किसी भी पुलिस अधिकारी व कर्मचारी को कोविड संबंधी सहायता प्रदान किये जाने के लिए गौरव पांडेय को हेल्प डेस्क इंचार्ज बनाया गया है। वहीं लोगों को आपात चिकित्सा सेवा के लिए 24 घंटे सहायता को हेल्प लाईन नम्बर 94792-42420 एवं वाट्सअप नं . 94792-42152 जारी किया गया है ,जिसमें कॉल कर आवश्यक सुविधा प्राप्त की जा सकेगी ।

इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर संजय कुमार ध्रुव, डीएसपी निशांत पाठक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण प्रज्ञा मेश्राम एवं जिले के समस्त राजपत्रित अधिकारी , थाना, चौकी प्रभारी उपस्थित थे ।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email