कोण्डागांव

विकास यात्रा में उमड़ता जन सैलाब, आम जनता और राज्य सरकार के बीच परस्पर विश्वास का सबसे बड़ा प्रतीक: डॉ.रमन सिंह

विकास यात्रा में उमड़ता जन सैलाब, आम जनता और राज्य सरकार के बीच परस्पर विश्वास का सबसे बड़ा प्रतीक: डॉ.रमन सिंह

कोंडागांव :  मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने 13 मई को विकास यात्रा के दौरान जिला मुख्यालय कोण्डागांव के विकासनगर स्टेडियम ग्राउण्ड में आयोजित कार्यक्रम में लगभग 283 करोड़ रुपए से अधिक लागत के 176 विकास कार्यों की सौगात दी। उन्होंने 70 करोड़ 30 लाख रुपए के 27 विकास कार्यों का लोर्कापण और 213 करोड़ 06 लाख रुपए की लागत के 149 विकास कार्यों का शिलान्यास किया। डॉ.सिंह ने  कार्यक्रम में 31 हजार 753 हितग्राहियों को विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के अंतर्गत लगभग 65 करोड़ 34 लाख रुपये की सामग्री और सहायता राशि के चेक वितरित किए। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में सत्रह हजार 611 किसानों को 19 करोड़ 18 लाख रूपए के धान बोनस का वितरण भी किया।

 मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर आयोजित आम सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि विकास यात्रा में उमड़ा विशाल जन सैलाब छत्तीसगढ़ की जनता और राज्य सरकार के बीच परस्पर विश्वास और सहयोग का प्रतीक है। आम जनता ने छत्तीसगढ़ की नीतियों पर भरोसा किया है, जनता का यह भरोसा ही हमारी सबसे बड़ी ताकत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2012 में कोण्डागांव का गठन किया गया इस छोटी सी अवधि में ही नये जिले कोण्डागांव में विकास के हर क्षेत्र में शानदार सफलता हासिल की है। डॉ. सिंह ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि चाहे छत्तीसगढ़ की सार्वजनिक वितरण प्रणाली हो, या कृषि उत्पादन में वृद्धि, स्कूल शिक्षा हो या उच्च शिक्षा, या बिजली और सिंचाई, महिला सशक्तिकरण हो, या आदिवासी विकास और स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार, छत्तीसगढ़ हर क्षेत्र में अन्य राज्यों के लिए रोल मॉडल बन गया है। इसका सबसे बड़ा श्रेय आम जनता को है। राज्य के मेहनतकश जनता के परिश्रम का यह नतीजा है कि छत्तीसगढ़ का राष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसा मिली है। लाखों गरीब परिवारों के व्यापक हित में देश का पहला खाद्य सुरक्षा बनाने का श्रेय छत्तीसगढ़ को मिला है।

    मुख्यमंत्री ने ई-रिक्शा में बैठकर कार्यक्रम स्तर पर विभिन्न स्टॉलों का भ्रमण किया। कार्यक्रम में दूरस्थ ग्रामों से आये मांझी, मुखिया,गायता दल के सदस्यों ने मुख्यमंत्री को पारम्परिक आदिवासी वेशभूषा पहनाकर उनका आत्मीय स्वागत किया। डॉ. सिंह ने सम्बोधन के दौरान कई बार हल्बी भाषा में भी अपनी बात कही और जनता का दिल जीत लिया। लोगों ने तालियों की गड़गड़ाहट के साथ मुख्यमंत्री की इस पहल का स्वागत किया। कार्यक्रम में उच्च शिक्षा मंत्री श्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय, लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, बस्तर के लोकसभा सांसद श्री दिनेश कश्यप, नागरिक आपूर्ति की सुश्री लता उसेण्डी और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की धर्मपत्नी वीणा सिंह सहित अनेक जनप्रतिनिधि, वरिष्ठ अधिकारी और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे

      डॉ. सिंह ने जिन विकास कार्यों का लोकार्पण किया, उनमें कोण्डागांव में 4 करोड़ 36 लाख रूपये की लागत से निर्मित सर्किट हाउस, 3 करोड़ 23 लाख रूपए से निर्मित लाईवलीहुड कॉलेज का निर्माण, 2 करोड़ 62 लाख रूपये से निर्मित मॉडल स्कूल भवन बडे़ डोगर, 1 करोड़ 25 लाख रूपये से निर्मित हाई सेकेण्डरी स्कूल भवन बडे़डोगर, छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी द्वारा ग्राम अड़ेगा में 2 करोड़ 34 लाख रूपये से निर्मित 33/11 के.व्ही. क्षमता का विद्युत उपकेन्द्र तथा कोण्डागांव में 8 करोड़ 06 लाख रूपये से निर्मित 100 बिस्तर अस्पताल, 15 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित 100 बिस्तर एम.सी.एच. अस्पताल, 6 करोड़ 11 लाख रूपये से पाण्डेआठगांव चांदागांव मार्ग में भवरडीह नदी पर निर्मित उच्च स्तरीय पुल, 3 करोड़ 66 लाख से कोण्डागांव के शामपुर रांधना मार्ग पर नारंगी नदी पर निर्मित उच्च स्तरीय पुल, 3 करोड़ 16 लाख रूपये से ग्राम बड़ेकनेरा से कमेला मार्ग पर पाहंदी नाला में उच्च स्तरीय पुल और कोण्डागांव में 93 लाख 62 हजार रूपये की लागत से निर्मित ट्रांजिट हॉस्टल भवन का लोकार्पण किया।

       मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत 1 करोड़ 41 लाख रूपए की लागत से कोण्डागांव नारायणपुर रोड पर बुनागांव से गुलभा तक नव-निर्मित 2.50 कि.मी सड़क, 1 करोड़ 22 लाख 33 हजार रूपये से कोण्डागांव कोरमेल रोड लंबाई 2.25 कि.मी., 3 करोड़ 05 लाख रूपये से निर्मित कोण्डागांव नारायणपुर रोड पर घोटुलपारा बांसगांव सड़क निर्माण, लंबाई 8.00 कि.मी., लगभग 1 करोड़ 59 लाख 10 हजार रूपये से निर्मित ऐरला से गागड़ा सड़क निर्माण लंबाई 5.50 कि.मी., 1 करोड़ 20 लाख रूपए से निर्मित अमरावती से तोर्रेबेड़ा सड़क निर्माण लंबाई 2.30 कि.मी., 4 करोड़ 39 लाख रूपए की लागत से सिंघनपुर से तुतारी तक 6.43 कि.मी. सड़क, 2 करोड़ 36 लाख की लागत से बेड़मा आमाबेड़ा रोड से करारमेटा सड़क निर्माण लंबाई 3.50 कि.मी. और 2 करोड़ 55 लाख से निर्मित बेड़मा आमाबेड़ा रोड से सिलाटी सड़क निर्माण लंबाई 3.80 कि.मी. शामिल है।

      मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा जिन विकास कार्यों का शिलान्यास किया गया, उनमें प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत 3 करोड़ 21 लाख रूपए की लागत से बनने वाली उरेन्दाबेड़ा से मोदेबेड़मा सड़क, 5 करोड़ 26 लाख रूपये से बनने वाली उरेन्दाबेड़ा से कुलनार सड़क तथा 1 करोड़ 54 लाख रूपये से कोण्डागांव के कुम्हारपारा से केंवटी पहुंच मार्ग लं. 1.00 किमी , 2 करोड़ 05 लाख रूपये से पटेलपारा घोड़ागांव तक मार्ग निर्माण, 25 करोड़ 36 लाख रूपये की लागत से फरसगांव-बड़ेडोंगर-छेरीबेड़ा तक 34.80 किमी. सड़क, 38 करोड़ 26 लाख रूपये से बनने वाला कोण्डागांव- मर्दापाल-मटवाल-रतेंगा मार्ग लंबाई 54.00 किमी,  4 करोड़ 95 लाख रूपये से बनने वाला बड़ेडोंगर से देवगांव मार्ग निर्माण लंबाई 10.80 किमी, 3 करोड़ 59 लाख 96 हजार रूपये से रानापाल से हड़ेली मार्ग, लंबाई 7.20 किमी, 9 करोड़ 91 लाख रूपये की लागत से बनने वाला बम्हनी उमरगांव मार्ग लंबाई 13.70 किमी, 11 करोड़ 45 लाख रूपये से बनने वाला जिला कोण्डागांव/नारायणपुर के दहीकोंगा गोलावण्ड मार्ग निर्माण लंबाई 13.60 किमी, 29 करोड़ 46 लाख रूपये से बनने वाला कांकेर साल्हेटोला (दुधावा) विश्रामपरुी केशकाल मार्ग, लंबाई 15.60 किमी शामिल है।

    मुख्यमंत्री ने जिन कार्यो का शिलान्यास किया उनमें 15 लाख रूपये से निर्मित शासकीय दण्डकारण्य महाविद्यालय केशकाल में आडिटोरियम भवन, विद्युत वितरण कंपनी ग्राम बीजापुर में 3करोड़ 27 लाख रूपये की लागत से बनने वाला 33/11 के.व्ही. क्षमता का विद्युत उपकेन्द्र, 12 करोड़ 20 लाख 73 हजार रूपये से ईरागांव चुरेगांव अर्रा मार्ग में बुन्दी नदी पर बनने वाला उच्च स्तरीय पुल कार्य, 12 करोड़ 80 लाख रूपये से पावड़ा रांधना मार्ग में बोरदा नदी (पावडा नदी) उच्च स्तरीय पुल, 7 करोड़ 67 लाख रूपये से कोण्डागांव नारायणपुर मार्ग में भंवरडीह नदी पर उच्च स्तरीय पुल निर्माण शामिल है। उन्होंने 1 करोड़ 52 लाख रूपये लागत के 50 सीटर प्री मेट्रिक कन्या छात्रावास गोलावंड, 1 करोड़ 52 लाख रूपये लागत के 50 सीटर प्री मेट्रिक कन्या छात्रावास केशकाल, 1 करोड़ 52 लाख रूपये लागत के 50 सीटर प्री मेट्रिक कन्या छात्रावास माकड़ी, 1 करोड़ 52 लाख 97 हजार रूपये लागत के 50 सीटर प्री मेट्रिक बालक छात्रावास बडेकनेरा, 92-92 लाख रूपये से फरसगांव और केशकाल में बनने वाले ट्रांजिस्ट हॉस्टल भवन,  3 करोड़ रूपये की लागत से कोण्डागांव में खेल परिसर, का शिलान्यास किया।

     इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने श्रम विभाग की योजना के अंतर्गत श्रमिकों को 2600 सायकल, 986 औजार किट, राज मिस्त्री औजार किट 1801, सिलाई मशीन 300, राजमाता विजयाराजे कन्या विवाह सहायता योजना अंतर्गत 3 हितग्राहियों को 60 हजार रूपए के चेक, विश्वकर्मा दुर्घटना पर अंत्येष्टि एवं अनुग्रह राशि 2 हितग्राही को 60 हजार, भगिनी प्रसूति सहायता योजना 3 हितग्राही को 14 हजार, नौनिहाल छात्रवृत्ति सहायता योजना अंतर्गत 109 हितग्राहियों को 2 लाख 13 हजार रुपये के चेक, 17 हजार 611 हितग्राहियों 19 करोड़ 18 लाख रुपये की बोनस राशि, सौर सुजला योजना के तहत 1300 हितग्राहियों को सोलर पंप, सौभाग्य अंतर्गत 200 हितग्राहियो को प्रमाण पत्र, कृषि विभाग के माध्यम से विद्युत पंप 1.5 एच.पी. सी.आर.आई. 101 हितग्राही, स्ंिप्रकलर सेट 100, 800 हितग्राही को अरहर मिनीकिट, 1200 हितग्राही को मूंग मिनीकिट, 1600 हितग्राही तिल मिनीकिट, 2000 हितग्राही को उड़द मिनीकिट, 700 हितग्राहियों को सामुदायिक वन अधिकार पट्टा, नक्सल पीड़ित 6 हितग्राहियों को 7 लाख रुपये की सहायता राशि के चेक प्रदाय किए गए। इसके अलावा खादी ग्रामोद्योग के तहत 7 हितग्राहियों को 1 करोड़ 2 लाख 50 हजार रुपये के चेक प्रमाण पत्र, समाज कल्याण विभाग द्वारा 2 हितग्राहियों को मोटराईज्ड ट्राईसायकल और मत्स्य विभाग द्वारा 10 हितग्राहियों को मत्स्याखेट उपकरण, जाल, आईस बॉक्स सिफेक्स दवाई एवं परिपूरक आहार हेतु 1 लाख 40 हजार रुपय के चेक, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत एक हजार महिलाओं को रसोई गैस कनेक्शन वितरित किए।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email