राजधानी

संविधान को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने की मांग

संविधान को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने की मांग

मनोज शुक्ला

संविधान के कारण वंचितों को मिली असली आज़ादी - भगवानू

भारतीय संविधान देश का आधार - भगवानू

वरिष्ठ अधिवक्ता फैसल रिजवी ने किया संविधान की किताबों का वितरण, बी एस जागृत साहब ने किया कार्यक्रम की अध्यक्षता

रायपुर : छत्तीसगढ़, दिनांक 26 नवंबर 2023। भारतीय संविधान दिवस के अवसर पर आज डॉ बी आर अंबेडकर अधिकार मंच के द्वारा घड़ी चौक स्थित प्रतिमा के समक्ष डॉ बी आर अंबेडकर की प्रतिमा में माल्यार्पण करते हुए संविधान दिवस मनाया गया और  संविधान की रक्षा करने का संकल्प लिया गया। इस अवसर पर उच्च न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता श्री फैसल रिजवी और भारतीय बौद्ध महासभा के प्रदेश अध्यक्ष श्री बीएस जागृत की नेतृत्व में सैकड़ो लोगों को संविधान की किताब बांटी गई। किताबें मिलने के बाद छात्र छात्राएं के चेहरे खिल उठे। 

इस अवसर पर अंबेडकर अधिकार मंच के अध्यक्ष भगवानू नायक ने शासन से संविधान को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने की मांग करते हुए कहा भारत का संविधान देश का आधार है, संविधान के कारण आज भारत विश्व में महाशक्ति बनकर उभर रहा है,  संविधान ने हमें अनेक अधिकार दिए संविधान के कारण वंचितों को असली आज़ादी मिली है। इस अवसर पर जिला अध्यक्ष आशीष तांडी ने कहा संविधान हमारी ताकत है, जो समाज में सैकड़ो वर्षों से दबे कुचले, पिछड़े लोगों को समाज के मुख्य धारा में जोड़ने का काम किया और वंचितों को अपने पैरों में खड़ा करने का काम किया।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से अधिवक्ता बिमला तांडी,  अधिवक्ता आनंद मोंगरी, अधिवक्ता नंदन झा, जितेंद्र नायक,  संजय कुम्भार, जयलाल नायक, संतोष क्षत्रि, रवि कुम्भार, बिट्टू छतरी, छोटू सोना, सनत क्षत्रि, टार्जन कुम्भार, बिरजू हरपाल साहित बड़ी संख्या में अंबेडकर अधिकार मंच के कार्यकर्ता उपस्थित थे।