ज्योतिष और हेल्थ

गर्मी के मौसम को मात देने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

गर्मी के मौसम को मात देने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

एजेंसी 

नई दिल्ली : गर्मी के मौसम में शरीर को पानी की अधिक जरूरत होती है। इस जरूरत की पूर्ति के लिए भोजन के रूप में भी ऐसी चीजों का सेवन करना चाहिए, जो पेय की तरह हों। इसीलिए विशेषज्ञ कहते हैं कि इस मौसम में आप भोजन को खाएं कम, बल्कि पिएं ज्यादा। जानकारी दे रही हैं राज लक्ष्मी त्रिपाठी चिलचिलाती गर्मी से निजात पाने के लिए यह बेहद जरूरी है कि आपके शरीर को पोषण मिलने के साथ-साथ वह अंदर से हाइड्रेट भी रहे। इसके लिए आप इस मौसम में भोजन को खाने से ज्यादा पीने पर ध्यान दें, ताकि आप इस मौसम में होने वाली अपच, उल्टी-दस्त, हीट स्ट्रोक जैसी समस्याओं से बचे रहें। ऐसे में अपने आहार में थोड़ा बदलाव कर न केवल आप खुद को तरोताजा रख सकते हैं, बल्कि इस मौसम में होने वाली आम बीमारियों से भी बचाये रख सकते हैं। रखें खुद को सुरक्षित गर्मी के मौसम में खुद को स्वस्थ रखना थोड़ा मुश्किल होता है। आप धूप में थोड़ी देर के लिए भी बाहर निकलते हैं, तो लू लगने का अंदेशा बना रहता है। एससीआई हॉस्पिटल की डाइटीशियन कोमल ठाकुर का कहना है कि इस मौसम में थोड़ी-सी भी लापरवाही बरतने पर आप कई तरह की बीमारियों का शिकार हो सकते हैं। इससे बचने के लिए यह जरूरी है कि आप अपने आहार में ऐसे फल और सब्जियों को शामिल करें, जिनमें ज्यादा मात्रा में पोषक तत्व और पानी मौजूद हो। अगर यह कहा जाये कि समर सीजन में खाने से ज्यादा पीने पर ध्यान देना चाहिए, तो ज्यादा उपयुक्त है।

हेल्थ के जरूरी फ्रूट के लिए इमेज परिणाम

अपने आहार में इन्हें शामिल करें गर्मी के मौसम में आपका भोजन हल्का होना चाहिए। अपने आहार में ज्यादा तली-भुनी और मसालेदार चीजों को शामिल नहीं करना चाहिए। अंगूर, संतरा, आम, तरबूज, खरबूज, कच्चे बादाम, खीरा, ककड़ी, लौकी, तोरी, करेला, भिंडी, परवल, कटहल जैसी मौसमी सब्जियों को अपने आहार का हिस्सा बनाएं। इन सब्जियों और फलों में भरपूर पोषण के साथ-साथ पानी की भी प्रचुरता होती है, जो आपको हीट स्ट्रोक से बचाने में मददगार साबित होते हैं। खुद को हाइड्रेट रखने के लिए दिनभर में चार लीटर से अधिक पानी पिएं। ताजे फलों के जूस, नीबू पानी आदि से भी पानी की कमी को पूरा कर सकते हैं। गुलकंद से मिलेगी ताजगी गर्मियों में गुलकंद का सेवन करने से शरीर को ठंडक मिलती है। यह शरीर को डीहाइड्रेशन की समस्या से बचाता है। इसमें विटामिन सी, ई और बी की बहुतायत होती है। इसके अलावा इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट मौजूद होता है, जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मददगार साबित होता है। इसके इस्तेमाल से आप तरोताजा महसूस करते हैं। चाहें तो गुलकंद को एक गिलास ठंडे पानी में मिलाकर शर्बत की तरह पी जाएं या ऐसे ही भोजन के बाद एक चम्मच खा लें। इससे आपकी पाचन क्षमता भी दुरुस्त होगी।

हेल्थ के जरूरी फ्रूट के लिए इमेज परिणाम

इन बातों का रखें ध्यान ’ अपने आहार में नियमित तौर पर पुदीने का इस्तेमाल करें। इसे आप अलग-अलग तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं। चाहें तो इसकी चटनी बनाकर खाएं या फिर इसे दही में मिलाकर खाएं। इसके इस्तेमाल से शरीर को ठंडक मिलने के साथ-साथ पाचन तंत्र भी दुरुस्त रहता है। ’ ज्यादा तेल-मसाले वाले भोजन का इस्तेमाल करने से परहेज करें। नियमित तौर पर आहार में खीरा, ककड़ी, प्याज, टमाटर आदि से बने सलाद का इस्तेमाल करें। सलाद में 95 प्रतिशत तक पानी होता है, जो आपके शरीर को हाइड्रेट रखने में मददगार साबित होता है। ’ अपने आहार में प्याज को शामिल करें। इसका सेवन करने से लू नहीं लगती। इसका इस्तेमाल सलाद, सैंडविच और चाट बनाने में कर सकते हैं। ’ नीबू पानी गर्मी से राहत दिलाता है। यह गर्मी और उमस की वजह से शरीर में कम हुए लवण की मात्रा को नियंत्रित करता है। नीबू का इस्तेमाल आप शिकंजी, सलाद आदि में कर सकते हैं। दिन की शुरुआत एक गिलास नीबू पानी से करें। ’ अपने शरीर के तापमान को नियंत्रित रखने के लिए आइसक्रीम का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसकी पौष्टिकता को बढ़ाने के लिए इसमें फ्रूट्स और नट्स मिलाएं। ’ गर्मियों के मौसम में मिलने वाले गन्ने के जूस का सेवन करने से धूप नहीं लगती। अगर इस मौसम में अकसर आपका पेट खराब हो जाता है, तो दिन में कम-से-कम दो गिलास जलजीरा पिएं। इसे बनाने के लिए एक गिलास पानी में भुना हुआ जीरा पाउडर, काला नमक, नीबू और पुदीना मिलाएं। इससे पाचन क्षमता भी दुरुस्त होगी।

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email