राष्ट्रीय

चमकी बुखार से बच्चो की मौत को लेकर सामाजिक कार्यकर्ता ने केंद्र और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ किया केस

चमकी बुखार से बच्चो की मौत को लेकर सामाजिक कार्यकर्ता ने केंद्र और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ किया केस

पटना : 

बिहार में ‘चमकी’ (मस्तिष्कज्वर) सहित कथित अज्ञात बीमारी से बच्चों की मौत का कहर जारी है। रिपोर्ट्स की मानें तो अब तक 100 से अधिक बच्चों की मौत हो चुकी है। रविवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्द्धन, केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे मुजफ्फरपुर स्थित एसकेएमसीएच पहुंचे और हालात का जायजा लिया। वहीं, बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय भी अस्पताल में पहुंचे। अब इस मामले को लेकर बिहार के एक सामाजिक कार्यकर्ता ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ मुजफ्फरपुर में केस किया है।

बीते एक पखवाड़े में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) के कारण बच्चों की मौत के लिए लापरवाही बरतने के आरोप में मुजफ्फरपुर जिले की एक अदालत में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे के खिलाफ सोमवार को मुकदमा दर्ज किया गया। यह मुकदमा सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने मुजफ्फरपुर के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (CJM) की अदालत में दायर किया। कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई की तिथि 24 जून तय की है।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email