दन्तेवाड़ा

जनता के दरबार में कामकाज का हिसाब देने विकास यात्रा : डॉ. सिंह

जनता के दरबार में कामकाज का हिसाब देने विकास यात्रा : डॉ. सिंह

बचेली : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह 22 मई की शाम  विकास यात्रा में दंतेवाड़ा जिले के बचेली पहुंचे। रंग-बिरंगे परम्परागत परिधानों में सजे लोक-कलाकारों ने अपने परम्परागत लोकनृत्य के साथ उनका आत्मीय स्वागत किया गया। डॉ. सिंह ने लोकनृत्य मंडली के कलाकारों से मिलकर उनका उत्साह बढ़ाया और उन्हें शुभकामनाएं दी। उन्होंने बैलाडीला लौह अयस्क परियोजना की इस नगरी के खेल मैदान में आयोजित विशाल जनसभा में जिले की जनता को 108 करोड़ रूपए के निर्माण कार्यों की सौगात दी।  इसके अलावा उन्होंने विभिन्न योजनाओं के तहत छह हजार से ज्यादा हितग्राहियों को लगभग चार करोड़ 8 लाख रूपए की सामग्री और चेक आदि का वितरण किया।

    आमसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं विकास यात्रा में जनता के दरबार में पिछले 14 वर्ष में जनता की बेहतरी के लिए शासन द्वारा किए गए कार्यों का हिसाब देने आया हूं। दंतेवाड़ा जिले में विकास की गति बढ़ी है। वहां के ग्राम जावंगा की एजुकेशन सिटी, जिला मुख्यालय का कंपोजिट भवन इसका उदाहरण है। जिले में हुए अनेक निर्माण कार्य विकास की कहानी स्वयं बता रहे हैं। डॉ सिंह ने कहा कि विकास यात्रा मेरे लिये जनता से आशीर्वाद लेने की तीर्थयात्रा है।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ को विकसित राज्यों की श्रेणी में लाना है, इसके लिये जनता-जनार्दन का आशीर्वाद लेने विकास यात्रा में निकला हूं। दंतेवाड़ा जिले में दूसरी बार आना मेरा सबसे बड़ा सौभाग्य है। जिले के 32000 घरों में बिजली नहीं थे। प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) के तहत हर गांव में बिजली पहुंच गई है। केवल 8000 घर ही ऐसे हैं जहां बिजली नहीं है, वहां आने वाले 4 महीने में बिजली पहुंचा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि छिंदनार जल प्रदाय योजना से गीदम नगर सहित 8 गांवों को पेयजल पहुंचाने का काम अंतिम चरण पर है। जून 2018 तक यह काम भी पूरा हो जाएगा। 53 करोड़ रूपये की लागत से नेरली एवं धुरली जल प्रदाय योजना का निर्माण कार्य चल रहा है जिसके पूरा होने से क्षेत्र के लाल पानी से प्रभावित 25 गांवों के 26 हजार लोगों को पेयजल की समस्या से निजात मिलेगी।

          मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि बचेली में गौरवपथ का निर्माण होगा, इसमें प्रभावित 80 दुकानों का व्यवस्थापन की पूरी व्यवस्था कर ली गई है। उन्होनें कहा कि दंतेवाड़ा में सड़कों का जाल बिछ रहा है। उन्होंने कहा-राज्य सरकार की यह मंशा है कि 21वीं सदी में छत्तीसगढ़ के युवाओं को इंटरनेट की पूरी सुविधा मिले, ताकि वे सूचनाओं के अस्त्र-शस्त्र से सुसज्जित हो सके। इसलिए बस्तर नेट परियोजना शुरू की गई है। संचार क्रांति योजना (स्काई) के तहत प्रदेश के 50 लाख युवाओं को स्मार्ट फोन दिए जाएंगे। इसके लिए पंजीयन का भी काम शुरू हो गया है। किसी परिवार का सदस्य यदि बीमार होता है तो इलाज के लिए घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि सरकार उनके साथ है। केंद्र के साथ मिलकर राज्य सरकार आयुष्मान भारत योजना के तहत पांच लाख रूपए तक का इलाज खर्च देगी। यह स्वास्थ्य बीमा की सबसे बड़ी योजना है। मुख्यमंत्री ने 251 परिवारों को शहरी एवं ग्रामीण आबादी पट्टे प्रदान किए। मुख्यमंत्री ने 6 हजार 52 हितग्राहियों को हितग्राहीमूलक योजनाओं के तहत सामग्री और सहायता राशि के चेक वितरित किए।

मुख्यमंत्री ने जिन कार्यों का लोकार्पण किया, उनमें कटेकल्याण एवं कुआकोण्डा में पुलिस विभाग द्वारा लगभग 61 लाख रूपये की लागत से निर्मित 4 सामुदायिक भवन, वन विभाग द्वारा लगभग 52 लाख रूपये की लागत से निर्मित भालूनाला परपा पारा तक मिट्टी सड़क निर्माण कार्य, क्रेडा के 68 लाख रूपये की लागत से सोलर स्ट्रीट लाईट, जनपद पंचायत गीदम के अन्तर्गत 5 करोड़ 27 लाख रूपये की लागत से निर्मित सीमेंट कांक्रीट सड़क, नाली एवं पुलिया, अतिरिक्त कक्ष एवं अहाता तथा विकासखण्ड कुआकोण्डा के आश्रम-छात्रावासों में 93 लाख 37 हजार रूपये की लागत से निर्मित अहाता एवं अतिरिक्तम कक्ष निर्माण कार्य का लोकार्पण किया।

    उन्होंने जिन कार्यों का भूमिपूजन और शिलान्यास किया। उनमें नगर पालिका परिषद बचेली के वार्ड 17, महादेव वार्ड में 60 परिवारों के लिए लगभग दो करोड़ 45 लाख रूपये की लागत से बनने वाले 60 पट्टे आवासों, छू लो आसमान परिसर कारली में 1 करोड़ 64 लाख रूपये की लागत से निर्मित होने वाले 100 सीटर कन्या छात्रावास, मुण्डेर में लगभग एक करोड़ रूपये की लागत से निर्मित किए जाने वाला 50 सीटर आश्रम भवन, नगरपालिका परिषद बचेली के विभिन्न वार्डों में 78 लाख रूपये की लागत से सामुदायिक भवन, पाईप लाईन विस्तार तथा स्कूलों में किचन शेड निर्माण सहित भोपालपट्टनम-जावंगा राष्ट्रीय राजमार्ग में 8 करोड़ 57 लाख रूपये की लागत से गौरव पथ निर्माण, 54 करोड़ 65 लाख रूपये की लागत से सुकमा-दन्तेवाड़ा मार्ग का उन्नयन कार्य, 4 करोड़ 70 लाख रूपये की लागत से कारली-अलियन्चा मार्ग का उन्नयन कार्य, 4 करोड़ 12 लाख रूपये की लागत से कारली-तुमनार मार्ग का उन्नयन कार्य, 6 करोड़ 31 लाख रूपये की लागत से छिन्दसनार-बारसूर मार्ग का उन्नयन कार्य, 10 करोड़ 31 लाख रूपये की लागत से गुमियापाल-हिरोली-अरनपुर मार्ग का उन्नयन कार्य, किरन्दुल में 44 लाख रूपये की लागत से हायर सेकेण्ड्री स्कूल भवन मरम्मत एवं उन्नयन कार्य, बचेली में 44 लाख रूपये की लागत से हायर सेकेण्ड्री स्कूल भवन मरम्मत एवं उन्नयन कार्य, धनीकरका में 62 लाख रूपये की लागत से हाई स्कूल-पोटाकेबिन में प्री-फ्रेब स्ट्रक्चर निर्माण सहित चितालूर, गोडरे, गुमड़ा, बांगापाल एवं कुआकोण्डा हाई स्कूल-पोटाकेबिन में 3 करोड़ 14 लाख रूपये की लागत से कांक्रीट स्लेब कार्य तथा बचेली में 79 लाख रूपये की लागत से निर्मित की जाने वाले 4 नवीन प्राथमिक शाला भवनों का भूमिपूजन किया।

इस मौके पर मुख्यिमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शासन की विभिन्न  हितग्राहीमूलक योजनाओं के तहत लगभग चार करोड़ 8 लाख रूपये की लागत की सामग्रियों का वितरण हितग्राहियों को किया। जिसके तहत स्व-सहायता समूहों को मिनी राईस मिल, कड़कनाथ कुक्कुटपालन हेतु चेक एवं हेचिंग मशीन, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में रसोई गैस कनेक्शन, ट्रैक्टर, उड़ावनी पंखा, सिलाई मशीन, ई-रिक्शा, सोलर सिंचाई पंप, साइकिल वितरित किए।

आमसभा में लोकसभा सांसद श्री दिनेश कश्यप, स्कूल शिक्षा और आदिम जाति विकास मंत्री तथा जिले के प्रभारी श्री केदार कश्यप, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कमला नाग, उपाध्यक्ष श्री मनीष सुराना, पूर्व विधायक श्री भीमा मंडावी, नगरपालिका बचेली के अध्यक्ष श्री गौरंग शाहा, दंतेवाड़ा कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सहित बड़ी संख्या में पंच-सरपंच, नगरीय निकाय के पदाधिकारी और नागरिक उपस्थित थे।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email