सरगुजा

अम्बिकापुर रिंग रोड निर्माण में घोटाला, आयुक्त सरगुजा संभाग ने दिया जांच का आदेश !

अम्बिकापुर रिंग रोड निर्माण में घोटाला, आयुक्त सरगुजा संभाग ने दिया जांच का आदेश !

अधिझन अभियंता लोक निर्माण विभाग को 15 दिवस  में जांच कर प्रतिवेदन देने का दिया आदेश

अम्बिकापुर : डी के सोनी अधिवक्ता एव आर टी आई कार्यकता के द्वारा एक शिकायत आवेदन आयुक्त सरगुजा संभाग से दिनाक 20.12.18 को प्रस्तुत किया गया जिसमें दस्तावेज के साथ यह आरोप लगाया गया कि अम्बिकापुर रिंग रोड का निर्माण काफी घटिया एव गुणवत्ता विहीन स्टीमेट एव ड्राइंग डिजाइन के विपरीत किया जा रहा है तथा समयसीमा समाप्त होने के उपरांत भी कार्य पूर्ण नही कराया गया है कार्य काफी धीमी गति से कराया जा रहा है जिसके कारण रिंग रोड के अगले बगल वाले लोगो को काफी परेशानी हो रही है, इसके अलावा उक्त निर्माण कार्य किशन एंड कंपनी को दिया गया है लेकिन किशन एण्ड कंपनी उक्त कार्य स्वेयम न कर पेटी। कंट्रक्टर सूरजपुर के ठेकेदार शंकर अग्रवाल नामक व्यक्ति को दे दिया गया है जिसके कारण भी कमीशन के चक्कर मे काफी घटिया निर्माण किया जा रहा है 
डी के सोनी को सूचना के अधिकार के माध्यम से जो जानकारी प्राप्त हुई है उसके तहत उपरोक्त रिंग  रोड निर्माण नही किया जा रहा है यहाँ तक कि पूरे रिंग रोड में जहाँ निर्माण हो चुका है वहां पर वाहन चलाने पर वाहन लहरा रही है यानी समतल सही तरीके से नही किया जा रहा है वाहन चलाने पर ऊपर नीचे हो रहा है जबकि सड़क बराबर लेबल में होना चाहिए जो कि नही किया जा रहा है, प्राकलन के अनुरूप जितनी मोटाई सड़क के ऊपर ढ़लाई होनी चाहिए उसके अनुसार सड़क नही बनाया जा रहा है 8 कल्वर्ट बॉक्स का निर्माण किया जाना है जो कि अभी तक नही किया गया है और जो कार्य हुआ भी है वह काफी घटिया कवालटी का हो रहा है इसके अलावा 9 बड़े जंक्शन का प्रावधान रिंग रोड में है लेकिन एक भी कार्य पूर्ण नही हुआ है 
रिंग रोड में 20 छोटे जंक्शन भी बनाने का प्रावधान है लेकिन प्राकलन के अनुसार सारे कार्य अधूरे है और गुणवत्ता विहीन है , रिंग रोड के अगल बगल जो नाली बनाया जा रहा है वह काफी घटिया कवाल्टी का बनाया जा रहा है इनमें न तो ढलाई के बाद पानी का तराई किया जा रहा है और न ही बराबर में ढलाई किया जा रहा है जो भविष्य में घटिया निर्माण के कारण आम आदमी को काफी परेशानी हो सकती है इसके अलावा रिंग रोड में पाइप लाइन का कार्य बलराम दास ठेकेदार को अलग से लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा दिनाक 19/12/17 को वर्क आडर के आधार पर दिया गया है जो लगभग तीन करोड़ का है जिसमे 6 माह के अंदर कार्य पूर्ण करना था लेकिन 6 माह से अधिक समय हो जाने के बाद भी कार्य पूर्ण नही किया गया है जबकि ठेकेदार द्वारा द्वारा फर्जी मेजरमेंट कर लगभग 7403689 राशि का भुगतान दिनाक 26/3/18 तक प्राप्त कर लिया गया है ।
इसके अलावा किशन एन्ड कंपनी के विरुद्ध पूर्व में भी सड़क निर्णाण में रिकवरी हो चुकी है इसलिये रिंग रोड निर्माण की जांच कराने हेतु सभी दस्तावेज को लेकर डी के सोनी ने शिकायत में अन्य तथ्यों को उठाया है तथा यह भी मांग किया है कि उक्त रिंग रोड सड़क निर्माण की जाँच विधिवत एक टीम बना कर किया जाए जसमे दो वरिस्ठ तकनीकी अधिकारी , दो पत्रकार, दो राजनीति दल के लोग एव दो सामाजिक कार्यकर्ता तथा शिकायतकर्ता को भी रख कर किया जाय ।
उक्त तथ्यों एव दस्तावेजों की गम्भीरता को देखते हुए आयुक्त सरगुजा सम्भाग के द्वारा दिनाक 10/1/2019 को अधिझन अभियंता लोक निर्माण विभाग अम्बिकापुर को पत्र लिख कर 15 दिवश्वके अंदर जांच कर स्पस्ट प्रतिवेदन मय प्रासंगिक दस्तावेज उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया है 

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email