महासमुन्द

छत्तीसगढ़ चुनाव: पीएम मोदी ने कहा- कांग्रेस झूठे वाडे कर रही है

छत्तीसगढ़ चुनाव: पीएम मोदी ने कहा- कांग्रेस झूठे वाडे कर रही है

महासमुंद : छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार के अंतिम दिन पीएम मोदी आज महासमुंद में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि 50 साल तक देश में आखिर किन लोगों ने राज किया कि आपके सपने वहीं के वहीं रह गए. क्या ऐसी सरकार चाहिये जिसने आपके पूर्वजों को तबाह कर दिया. पीएम ने कहा कि दिल्ली में चार-चार पीढ़ी ने राज किया, लेकिन लोगों के जीवन में बदलाव नहीं आया. पीएम ने कहा कि ये महासमुंद की धरती पर मुझे संगठन के कार्यकर्ता के नाते कार्य करने का अवसर मिला है. मैं यहां के लोगों की आवश्यकताओं, समस्याओं एवं उनके समाधान से भली-भांति अवगत हूं. आपके पास रहकर जो जाना और सीखा है, प्रधानमंत्री बनने के बाद छत्तीसगढ़ के विकास में वह बहुत काम आता है. पीएम ने कहा कि सच्चे अर्थों में रमन सिंह जी को काम करने की सुविधा तीनों बार नहीं मिली है. असली सुविधा उन्हें साढ़े चार साल पहले मिली, क्योंकि इसके पहले रिमोट कंट्रोल वाले परिवार के हाथ में सरकार थी. छत्तीसगढ़ को फलने-फूलने का पहला अवसर तब मिला जब दिल्ली में भाजपा की सरकार आयी. 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि रमन सिंह जी नक्सलियों से लड़ने के लिए आधुनिक हथियार मांगते थे, जवान मांगते थे लेकिन रिमोट कंट्रोल वाली सरकार को ऐसा लगता था कि हिंदुस्तान में छत्तीसगढ़ है ही नहीं. हमारा ज्यादातर समय नकारात्मक शक्तियों से लड़ने में चला गया. नकारात्मक माहौल के बाद भी रमन सिंह जी ने लोगों के सहयोग से बीमारू राज्य वाले छत्तीसगढ़ को विकास की नई ऊंचाइयों पर लाकर खड़ा कर दिया. पीएम ने कहा कि छत्तीसगढ़ के जीवन में अगले 5 साल बहुत महत्वपूर्ण हैं. आपका भविष्य छत्तीसगढ़ के भविष्य से जुड़ा है. 18 से 23 साल की उम्र बहुत महत्वपूर्ण है. जैसे 18 साल के बाद घर में बच्चे की परवरिश पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है, वैसे ही आपकी जिम्मेदारी है कि इसे अच्छी परवरिश मिले. इसलिए इसबार हमें कोई गलती करने का हक नहीं है. 

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस छत्तीसगढ़ के भले लोगों की आंखों में धूल झोंक रही है और झूठे वादे कर रही है. कर्नाटक में वादा किया था कर्ज माफी कर देंगे, लेकिन उसे निभाया नहीं. हमनें किसान को ताकतवर बनाया और किसानों को आधुनिक खेती की ओर ले जा रहे हैं.  किसान को भी जिन्होंने नहीं छोड़ा वह आज किसानों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं. अगर 50 साल के अंदर किसानों को पानी पहुंचाया होता तो आज का किसान आंसू नहीं बहा रहा होता.  

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email