कोरबा

अटल विकास यात्रा में छत्तीसगढ़ को मिली लगभग दस हजार करोड़ की चार बड़ी रेल परियोजनाओं की सौगात

अटल विकास यात्रा में छत्तीसगढ़ को मिली लगभग दस हजार करोड़ की चार बड़ी रेल परियोजनाओं की सौगात

कोरबा : प्रदेश व्यापी अटल विकास यात्रा में 24 सितम्बर को छत्तीसगढ़ को लगभग दस हजार करोड़ रूपए की लागत वाली चार बड़ी रेल परियोजनाओं की सौगात मिली। मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह और रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल ने कोरबा जिले के हरदीबाजार में आयोजित राज्य सरकार की विकास यात्रा की आमसभा में इन चारों रेल परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इनकी सम्मिलित लागत 9952 करोड़ रूपए है। इन परियोजनाओं के तहत प्रदेश में लगभग 345 किलोमीटर रेल लाइन बिछायी जाएगी। 

    जिन रेल परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया, उनमें  छत्तीसगढ़ ईस्ट-वेस्ट रेल कारिडोर परियोजना अंतर्गत 4970 करोड़ रूपये की लागत से गेवरा रोड से पेंड्रारोड तक 135.3 किलोमीटर लंबी रेल लाईन, छत्तीसगढ़ ईस्ट रेल कारिडोर फेस-2 परियोजना अंतर्गत 1686 करोड़ रूपये की लागत से उरगा से धरमजयगढ़ 62 किलोमीटर लंबी रेल लाईन, छत्तीसगढ़ ईस्ट रेल कारिडोर फेस-1 परियोजना के अंतर्गत 3055 करोड़ की लागत से खरसिया से धरमजयगढ़ 131 किलोमीटर लंबी रेललाईन और चिरमिरी नागपुर हाल्ट न्यू रेललाईन परियोजना के अंतर्गत 241 करोड़ रूपये की लागत से 17 किलोमीटर लंबी रेल लाइन बिछायी जाएगी। इस अवसर पर कटघोरा-करतला-मुंगेली-कवर्धा- खैरागढ़-डोंगरगढ़ तक लगभग पांच हजार 950 करोड़ रूपए की लागत से 255 किलोमीटर स्वीकृत नई रेल लाईन परियोजना के लिए संयुक्त भागीदारी अनुबंध पत्र पर हस्ताक्षर किये गए। 

    मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आमसभा को सम्बोधित करते हुए इन परियोजनाओं की स्वीकृति के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल के प्रति आभार प्रकट किया। डॉ. सिंह ने कहा कि मैंने प्रधानमंत्री श्री मोदी के समक्ष जैसे ही परियोजनाओं का प्रस्ताव रखा, उन्होंने तत्काल इनकी मंजूरी दे दी। डॉ. सिंह ने कहा कि आज कटघोरा-कवर्धा से मंुगेली तक लोगों में उत्साह की लहर है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विभिन्न परियोजनाओं को त्वरित स्वीकृति दी जा रही है और बड़े निर्णय लिए जा रहे हैं। इसी वजह से आज चार रेल परियोजनाओं का शिलान्यास संभव हो पाया है। रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल ने आमसभा में कहा कि आने वाले समय में रेल लाईन विस्तार के बाद इस क्षेत्र के लोगों को इंटरसिटी ट्रेन की सुविधा मिलेगी।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने छत्तीसगढ़ सहित देश के करोड़ों गरीब परिवारों को गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए पांच लाख रूपए तक सहायता देने के उद्देश्य से आयुष्मान भारत योजना की शुरूआत कर दी है। उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री श्री मोदी को प्रदेशवासियों की ओर से धन्यवाद दिया। डॉ. सिंह ने कहा - श्री मोदी के नेतृत्व में विकास की नई गाथा लिखी जा रही है। डॉ. सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ का कोयला बहुल कटघोरा क्षेत्र ऐसे बिरले सौभाग्यशाली क्षेत्रों में है, जोे तीन तरफ से रेल कनेक्टिविटी और तीन तरफ से राजमार्ग कनेक्टिविटी से जुड़ रहा हैै। डॉ. सिंह ने कहा कि पिछले 15 वर्षों में प्रदेश ने विकास की नई ऊंचाईयों को छुआ है। अच्छी अधोसंरचनाओं का विकास हुआ है। प्रदेश में सड़कों का जाल बिछा है। सभी वर्गो के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश के तेंदूपत्ता संग्राहकों को 750 करोड़ रूपए का बोनस दिया जा रहा है। स्काई योजना में 50 लाख स्मार्ट फोन का निःशुल्क वितरण किया जा रहा है। 

छत्तीसगढ़ में रेल सुविधाओं के लिए सोलह हजार करोड़ रूपये का निवेश: रेलमंत्री

    रेलमंत्री श्री गोयल ने आम सभा में कहा कि केन्द्र सरकार ने छत्तीसगढ़ में रेल सुविधाओं के विकास के लिए लगभग 16 हजार करोड़ रूपये के निवेश की मंजूरी दी है। उन्होंने बताया कि रेल मार्गों के विस्तार से एक ओर जहां राजस्व बढ़ेगा वहीं क्षेत्र की जनता को भी रोजगार के अवसरों के साथ-साथ आने-जाने की सुविधाएं और कई दूसरे फायदे भी होंगे। रेल मंत्रालय और कोयला मंत्रालय  के साथ-साथ केन्द्रीय ऊर्जा मंत्रालय का प्रभार संभाल रहे श्री पीयूष गोयल ने आमसभा में कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा  पूरे देश में सम्पूर्ण पारदर्शिता के साथ कोल ब्लॉक आवंटित किए जा रहे है। हमारी कोल ब्लॉक आवंटन की प्रक्रिया की पूरी दुनिया में तारीफ हो रही है। श्री गोयल ने बताया कि इस नयी प्रक्रिया से छत्तीसगढ़ के राजस्व में भी भारी वृद्धि होगी।

श्री गोयल ने कहा कि मैं महाराष्ट्र राज्य का निवासी हूं। छत्तीसगढ़ सरकार ने महाराष्ट्र को भी कोल ब्लॉक आवंटित किया है। श्री गोयल ने इसके लिए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को धन्यवाद दिया और कहा कि छत्तीसगढ़ के कोयले से बनने वाली बिजली से महाराष्ट्र के मुम्बई और पुणे जैसे बड़ो शहरों सहित बड़ी संख्या में गांव भी रौशन होंगे और हर घर में रौशनी होगी। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री श्री अमर अग्रवाल, संसदीय सचिव श्री लखनलाल देवांगन, लोकसभा सांसद कोरबा डॉ. बंशीलाल महतो, लोकसभा सांसद बिलासपुर श्री लखनलाल साहू और खनिज साधन विभाग और मुख्यमंत्री के सचिव श्री सुबोध कुमार सिंह भी उपस्थित थे। 

    मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और केंद्रीय रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल ने विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं में हितग्राहियों को सामग्री और सहायता राशि वितरित की। इस अवसर पर अनेक जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे। 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email