गरियाबंद

छुरा अंचल में हर्षोल्लास व शांति से मनाया गया होली पर्व

छुरा अंचल में हर्षोल्लास व शांति से मनाया गया होली पर्व

TNIS कुलेश्वर सिन्हा 

छुरा : प्रेम, भाईचारा व सद्भाव के प्रतीक होली पर्व गुरुवार को धूमधाम से मनाया गया। होली पर्व की पूर्व बेला में बुधवार शाम से छुरा नगर में करीब दर्जनों स्थान से अधिक स्थानों पर होलिका दहन हुआ।चौराहों पर होलिका और भक्त प्रहलाद की प्रतिमाएं रखी गईं, बाद में प्रहलाद की प्रतिमाएं हटाकर होलिका का दहन किया गया। पंडितों के अनुसार रात 8:36 बजे भद्रा काल था। इसके बाद होलिका दहन का कार्यक्रम शुरू हो गया

छुरा नगर में एक दर्जन स्थानों पर होलिका दहन की गई। इस बार त्योहार पुलिस प्रशासन के लिए चुनौतीपूर्ण बना हुआ था। दरअसल लोकसभा चुनाव शांतिपूर्ण कराने के लिए पुलिस प्रशासन जुटा हुआ है। होली का पर्व शांति से निपटे इसके लिए जगह-जगह पुलिस बल तैनात किया गया साथ ही छुरा नगर में एक दर्जन से अधिक स्थानों पर होलिका दहन हुआ। थाना प्रभारी के के वर्मा  ने बताया कि पुलिस अधीक्षक श्री एम आर आहिरे व उप अधीक्षक एस एन राठौड़ के निर्देश अनुसार होलिका दहन वाले स्थानों पर पुलिस बल तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में होलिका दहन के दौरान विशेष निगरानी रखी गई। सुबह से लेकर देर शाम तक महिलाओं ने होलिका का पूजन किया और रात को होलिका दहन किया। इस दौरान पुलिस छुरा नगर सहित ग्रामीण इलाकों में गश्त करती रही और कुछ पुलिसकर्मियों की ड्यूटी भी यहां लगाई गई। उन्होंने बताया कि होली के पर्व के दौरान भी विभिन्न स्थानों पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया था ताकि होली पर्व शांतिपूर्ण मनाया जा सके।

होली का उल्लास के बीच रंगों में सराबोर हुए बच्चे व युवा

सनातन धर्मग्रंथों के अनुसार होली के त्योहार के पीछे प्रहलाद की कहानी है जिसमें राक्षसी होलिका के साथ आग में बैठने के बावजूदप्रहलाद को आग की लपटों से कोई नुकसान नहीं पहुंचता है। जबकि आग से कोई नुकसान पहुंचने के वरदान के बावजूद होलिका जल जाती है। यह असत्य पर सत्य की जीत का

प्रतीक है। होली का पर्व बुधवार को छुरा नगर व क्षेत्र में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। जहां बच्चों ने बाजार में आने व जाने वाले लोगों को रंगों से रंगा वहीं, जमकर होली खेली।छुरा समेत पूरे अंचल में होली पर्व का उल्लास देखा गया। प्रेम और सौहार्द का प्रतीक रंगों का पर्व होली छुरा नगर व क्षेत्र में धूमधाम से मनाया गया।  बच्चे हों या फिर युवा और बुजुर्ग सभी होली की मस्ती में मस्त नजर आए।रास्ते पर बच्चे आने-वाले लोगों पर रंग डालते रहे और कहते रहे कि बुरा न मानो होली है। इसके अलावा होली के गीतों पर भी युवा वर्ग झूमते रहे। जगह-जगह होलिका दहन की तैयारियों में लोग जुटे रहे। वहीं, महिलाएं होली पूजन करती दिखीं। सुबह से लेकर शाम तक छुरा नगर में होली का उल्लास नजर आया। दुकानों पर अन्य खानपान के सामान की खरीदारी हुई तो रंग व गुलाल की भी खरीदारी हुई। गुलाल लगाकर लोग एक दूसरे को होली बधाई देते नजर आए। वहीं, पुलिस भी शहर में सुरक्षा के मद्देनजर मुस्तैद नजर आई।

शांति व्यवस्था को लेकर पुलिस द्वारा फ्लैग मार्च

पुलिस द्वारा बुधवार को छुरा नगर में फ्लैग मार्च कर पुलिस ने छुरा नगर में पुलिस की प्रभावी उपस्थिति दर्ज कराने के उद्देश्य से फ्लैग मार्च प्रमुख व्यवसायिक मार्गों के साथ गली-मोहल्लों में भी किया गया था।  छुरा सहित  ग्रामीण क्षेत्र में भी सघन पेट्रोलिंग की जा रही गई थी।होलिका दहन व होली के दिन थाना क्षेत्र छुरा के सभी ग्रामो में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। थाना प्रभारी के के वर्मा द्वारा रविवार को छुरा थाना में शांति समिति की बैठकें लेकर प्रेम, भाईचारा व आपसी सद्भाव के साथ होली का पर्व शांति पूर्वक मनाने की अपील पहले ही की गई थी।
छुरा में फ्लैग मार्च किया गया था। 

थाना प्रभारी के के वर्मा के नेतृत्व में पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों ने थाना से फ्लैग मार्च की किया गया था नगर के प्रमुख व्यवसायिक मार्गों में पैदल ही फ्लैग मार्च किया गया था साथ ही थाना प्रभारी द्वारा लोगो को जगह-जगह समझाइस दी गई थी ।छुरा नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों से होकर भी फ्लैग मार्च गुजरी। लगभग दो घंटे तक छुरा नगर के गली, मोहल्ले और प्रमुख मार्गों में फ्लैग मार्च कर पुलिस ने अपनी प्रभावी उपस्थिति दर्ज कराई थी। श्री वर्मा सबसे आगे पैदल चलकर लोगो को समझाते रहे थे। एक वाहन में सशस्त्र पुलिस बल, पीछे-पीछे पुलिस जवानों के साथ पुलिस वाहनों का काफिला चल रहा था।  होली पर्व के दौरान शांति, सुरक्षा व कानून व्यवस्था को लेकर पुलिस थाना क्षेत्र के सभी गांवों में पुलिस पोट्रोलिंग पर थी।थाना प्रभारी के के वर्मा  ने अपने समस्त स्टाफ के साथ फ्लैग मार्च का आगाज किये जिसमे इंदल साहू, अनिल पांडेय,चौरे ,जितेंद्र कवर , हरिहर साहू, जितेन्द्र निर्मलकर ,देवेंद्र सिंह परिहार एवं समस्त स्टाफ  के अगवाई में आज फ्लैग मार्च करते हुए पूरा नगर भ्रमण किया गया ,साथ ही पूरे नगर के मुख्य मार्गो के साथ गली मोहल्ले में जाकर होली पर्व शांति से मनाने की हिदायत दी और  साथ ही साथ सदर में बैरिकेड लगाकर आव्यसस्थित खड़े वाहनों के मालिकों को वाहन व्यवस्थित  रखने की हिदायत देते हुए होली के त्योहार को शांति पूर्वक मनाने की अपील की गई थी।

ग्रामीण अंचल में नगाड़े की धुन और फाग गीत पर खूब नाचे लोग

छुरा के ग्रामीण इलाके में फाग गायन का सिलसिला शाम होते ही शुरू हो गया था  फाग को लोग अलग ही महत्त्व देते हैं और इसे सबके साथ मिलकर खूब आनन्द उठाते है।अंचल में जगह जगह पर फाग गायन शुरू हो जाता है।  सबने मिलकर खूब गाना बजाना किया और नाचे भी। फाग गीतों का सबने आनंद उठाया।

धार्मिक परम्पराओं को लेकर हजारों वर्षों से होली त्योहार मनाया जा रहा है। वहीं होली में प्रेम की परिभाषा को भी परिभाषित किया गया है। जिसमें राधा और कृष्ण बृजवासियों के साथ होली मनाते थे। आपसी भाई-चारे को एकता के सूत्र में बांधने के लिए सभी लोग अपने-अपने घरों से लकड़ी, गोबर के कंडे लाक

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email