राजधानी

राजधानी हॉस्पिटल आगजनी मामले में मृतकों को प्रबंधन के द्वारा दिया जाए 10 10 लाख का मुआवजा - कन्हैया

राजधानी हॉस्पिटल आगजनी मामले में मृतकों को प्रबंधन के द्वारा दिया जाए 10 10 लाख का मुआवजा -  कन्हैया

GCN

राजधानी अस्पताल आगजनी कांड के मामले में विरोध और शिकायत के पश्चात गैर इरादतन हत्या के मामले में गिरफ्तार किए गए डॉक्टर । प्रशासन और पुलिस प्रशासन का हृदय से धन्यवाद जिन्होंने मृतकों के परिजनों को न्याय दिलाने की दिशा में एक कदम आगे बढ़ाया .... परिजनों को प्रबंधन 10 - 10 लाख मुआवजा प्रदान करें ।

प्रबंधन के साथ ही अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी करने वालों के खिलाफ भी हो मामले दर्ज 

रायपुर : सत्यमेव जयते फाउंडेशन के प्रदेश संयोजक कन्हैया अग्रवाल ने पचपेड़ी नाका स्थित राजधानी हॉस्पिटल में आगजनी की घटना में मृतकों के परिवार वालों को अस्पताल प्रबंधन के द्वारा 10 -10 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग करते हुए कहा कि अस्पताल में पिछले 4 वर्षों से फायर सेफ्टी सिस्टम का कोई प्रमाण पत्र प्राप्त ही नहीं किया गया... फायर सेफ्टी सिस्टम पूरी तरह फेल  था यह विभाग के ही अधिकारियों का कहना है ....इसको स्पष्ट है की जरूरी सुविधाओं के अभाव के बावजूद सांठगांठ कर अस्पताल को दनादन अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी किए गए ।

No description available.

       सत्यमेव जयते फाउंडेशन ने राजधानी अस्पताल प्रकरण से सबक लेते हुए अन्य हॉस्पिटलों में नर्सिंग होम एक्ट का पालन हो रहा है या नहीं इसकी पुख्ता जांच के साथ ही जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की है ।  फाउंडेशन के प्रदेश संयोजक कन्हैया  अग्रवाल ने कहा कि प्रबंधन और प्रबंधन को संरक्षण देने वाले लोगों के कारण वह हादसा हुआ जिसमें 07 लोगों की जान जा चुकी है अतः भविष्य में ऐसे हादसे ना हो इसलिए सभी संबंधित है के खिलाफ भी आवश्यक कार्रवाई की आवश्यकता है ।
      धन्यवाद ।
     कन्हैया अग्रवाल 
प्रदेश संयोजक -- सत्यमेव जयते फाउंडेशन

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email