राजधानी

न्यू स्वागत विहार पीड़ितों को हाईकोर्ट से मिला न्याय

न्यू स्वागत विहार पीड़ितों को हाईकोर्ट से मिला न्याय

2013 के निरस्त लेआउट को न्यायालय ने किया बहाल , 12 सितंबर 19 तक मामले को निराकृत करने आदेश 

रायपुर । न्यू स्वागत विहार ग्राम डूंडा में प्लाट खरीदकर घर बनाने का सपना संजोए हजारों उपभोक्ताओं को आज न्यायालय से न्याय मिल गया । हाईकोर्ट में माननीय न्यायाधीश ने आज अवमानना याचिका पर सुनवाई के दौरान न्यू स्वागत विहार के पुराने लेआउट को बहाल करते हुए 12 सितंबर 19 तक मामले को निराकृत करने आदेश किया ।

न्यू स्वागत विहार भू स्वामी कल्याण समिति के अध्यक्ष अनिल राव एवं सलाहकार कन्हैया अग्रवाल में उक्त आशय की जानकारी देते हुए बताया कि समिति के सदस्यों द्वारा हाईकोर्ट में लगाई गई याचिका पर माननीय न्यायाधीश श्री संजय के अग्रवाल के न्यायालय ने भारी राहत प्रदान की । न्यायालय ने बिल्डर के द्वारा प्रस्तुत नक्शे को निरस्त करते हुए मूल लेआउट को ही बहाल करने अंतरिम आदेश किया।

उल्लेखनीय है कि समिति के सदस्य 3 जुलाई 2016 से लगातार कानूनी और जमीनी लड़ाई लड़ रहे थे न्यायालय में समिति के द्वारा 125 रिट याचिका लगाई गई थी इन याचिकाओं पर उच्च न्यायालय के फैसले पर शासन द्वारा अमल नहीं किए जाने के खिलाफ लगभग 50 अवमानना याचिका भी लगाई गई थी । अंततः सत्य की जीत हुई और बिल्डर के षड्यंत्रकारी प्रयास विफल हुए हैं ।

हाईकोर्ट में समिति की ओर से अधिवक्ता श्री योगेश चंद्र शर्मा ने पैरवी की ,समिति के सदस्य श्री कीमती लाल जुनेजा और होशियारी लाल अग्रवाल न्यायालय में सुनवाई के दौरान लगातार उपस्थित रहे । समिति के सदस्यों ने आज खूबचंद बघेल जी की प्रतिमा के समक्ष मिठाई बांटकर न्याय मिलने पर हर्ष व्यक्त किया इस दौरान समिति के श्री जी जे राव ,गोपाल श्रीवास्तव, वेंकट ,मुकेश जैन, दीपेश श्रीवास्तव ,मनीष अग्रवाल ,अनूप तिवारी ,अनिल धनकारी, पंधेर, पलवन ब्रम्ह आदि सदस्य उपस्थित थे ।
   

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email