व्यापार

फ्लिपकार्ट ने भारत में वॉलमार्ट के ऑपरेशन को खरीदा है, ग्रॉसरी, होम, इलेक्ट्रॉनिक्स बिजनेस में हाथ आजमाएगी

फ्लिपकार्ट ने भारत में वॉलमार्ट के ऑपरेशन को खरीदा है, ग्रॉसरी, होम, इलेक्ट्रॉनिक्स बिजनेस में हाथ आजमाएगी

जियो मार्ट और अमजेन को टक्कर देने के लिए फ्लिपकार्ट ने पैरेंट कंपनी वॉलमार्ट के थोक कारोबार को खरीद लिया है. फ्लिपकार्ट ने भारत में वॉलमार्ट के ऑपरेशन को खरीदा है, जो बेस्ट प्राइस के नाम से होलसेल स्टोर चलाती है. जल्दी ही यह डिजिटल मार्केट प्लेस भी शुरू करेगी. फ्लिपकार्ट अपने थोक कारोबार बढ़ाने की तैयारी में लगी है. इस अधिग्रहण की वजह से भारत में  वॉलमार्ट का पूरा कारोबार फ्लिपकार्ट के तहत आ गया है. वॉलमार्ट ने दो साल पहले फ्लिपकार्ट को 16 अरब डॉलर में खरीद लिया था. हालांकि वॉलमार्ट के 28 बेस्ट प्राइस स्टोर काम करते रहेंगे. 31 मार्च, 2019 को 28 बेस्ट प्राइस स्टोर की कुल आय 4095 करोड़ रुपये थी.

फैशन कैटेगरी से होलसेल कारोबार की शुरुआत करेगी  फ्लिपकार्ट 

वॉलमार्ट ने 2007 में भारती इंटरप्राइज के साथ साझेदारी में भारतीय बाजार में प्रवेश किया था. लेकिन 2013 में अलग होने के बाद वॉलमार्ट ने कैश-एंड-कैरी बिजनेस में एंट्री की थी. फ्लिपकार्ट अब अपने होलसेल बिजनेस की शुरुआत फैशन कैटेगरी से शुरू करेगी. इसके बाद यह ग्रॉसरी, होम, इलेक्ट्रॉनिक्स बिजनेस में हाथ आजमाएगी. वॉलमार्ट इंटरनेशनल के प्रेसिडेंट और सीईओ जुडिथ मैकेना ने कहा, 'यह एक बड़ा कदम है. वॉलमार्ट इंडिया के कैश एंड कैरी की विरासत और फ्लिपकार्ट के इनोवेशन का कल्चर आपस में मिल रहा है.  एक-दूसरे की ताकत और विशेषता का इस्तेमाल कर यह इकट्ठा टीम नए मुकाम हासिल करेगी.'

हाल में ही फ्लिपकार्ट ने ऐलान किया था कि वह वॉलमार्ट के नेतृत्व वाले निवेशकों से 1.2 अरब डॉलर का फंड जुटाएगी. अब कंपनी की वैल्यूएशन करीब 24.9 अरब डॉलर हो गई है. मई 2018 में फ्लिपकार्ट में वॉलमार्ट ने 77 फीसदी हिस्सेदारी 16 अरब डॉलर में खरीदी थी. तब फ्लिपकार्ट का वैल्यूएशन 21 अरब डॉलर की थी. कंपनी ने हाल में ही अरविंद फैशन लिमिटेड की सहयोगी कंपनी अरविंद यूथ ब्रांड्स को 260 करोड़ रुपये में खरीदा है.

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email