व्यापार

बैंकों के पास पैसे की कमी नहीं लेकिन लोन की मांग घटी :SBI चेयरमैन

बैंकों के पास पैसे की कमी नहीं लेकिन लोन की मांग घटी :SBI चेयरमैन

भाषा की रिपोर्ट 

नई दिल्ली: स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कोलकाता में एक कार्यक्रम में कहा कि बैंकों के पास अब पैसे की कमी नहीं है, लेकिन लोन की मांग ही कम पड़ गई है. उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था पर अगर गंभीरता से विचार करें तो यह साफ-साफ दिख रहा है कि बैंकों के पास कर्ज बांटने के लिए पर्याप्त पैसे हैं, लेकिन कर्ज की मांग कमजोर पड़ गई है. मांग कमजोर पड़ने की वजह से उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहन की जरूरत है.

SBI प्रमुख यहां के बहुस्तरीय परामर्श कार्यक्रम ( Multilevel counseling program) में हिस्सा लेने पहुंचे थे जिसमें बैंक के इस क्षेत्र के शाखा प्रबंधकों ने हिस्सा लिया. मानसून के सकारात्मक प्रभाव की उम्मीद करते हुए उन्होंने कहा, "आपूर्ति के पक्ष में कोई कमी नहीं है. कमोबेस सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के पास पर्याप्त पूंजी है और बैंक रेट भी कम है."

बता दें, इस साल रिजर्व बैंक (RBI) की मॉनिटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) की चार बैठकें हो चुकी हैं. इन बैठकों में लगातार रेपो रेट को घटाया गया है. आखिरी बैठक में गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो रेट में 35 बेसिस प्वाइंट्स की कटौती की थी. इस साल रेपो रेट में अब तक 1.10 फीसदी की कटौती की जा चुकी है. पिछले दिनों शक्तिकांत दास ने कहा था कि बैंकों को रेट कट का फायदा ग्राहकों तक पहुंचाना चाहिए. उस समय तक रेपो रेट में 75 प्वाइंट्स की कटौती की गई थी, और बैंकों ने ग्राहकों को इंटरेस्ट रेट में केवल 30 बेसिस प्वाइंट्स कट का फायदा ट्रांसफर किया था. हालांकि, 7 अगस्त को जब RBI ने 35 प्वांइट्स की कटौती की थी, उसी दिन SBI ने सभी लोन के लिए इंटरेस्ट रेट को 15 बेसिस प्वाइंट्स से घटाया था.

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email