विशेष रिपोर्ट

अब अमित शाह का एक और U-TURN, कहा- BJP ने रॉबर्ट वाड्रा को कभी जेल भेजने का वादा नहीं किया’

अब अमित शाह का एक और U-TURN, कहा- BJP ने रॉबर्ट वाड्रा को कभी जेल भेजने का वादा नहीं किया’

दिल्ली 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा हर भारतीय के बैंक खाते में 15 लाख रुपये ट्रांसफर करने के वादे को जुमला करार देने के बाद अब भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बहनोई रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों पर भी यू-टर्न ले लिया है। शाह ने रविवार (31 मार्च) को एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में कहा कि हमने ये कभी नहीं कहा कि रॉबर्ट वाड्रा को जेल में डालेंगे। हमने कहा कि भ्रष्टाचारियों को जेल में भेजेंगे।

बता दें कि 2014 लोकसभा चुनाव में भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर बीजेपी रॉबर्ट वाड्रा पर लगातार हमले कर रही थी, लेकिन सरकार बनने के बाद से अब तक उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है। इसी मुद्दे को लेकर टीवी 9 द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में अमित शाह से पूछा गया कि जब 2013 में बीजेपी विपक्ष में थी और केंद्र में यूपीए की सरकार थी तो उस वक्त पूरे चुनावी अभियान के दौरान कहा गया था कि जैसे ही बीजेपी की सरकार बनेगी रॉबर्ट वाड्रा जेल के अंदर होंगे, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ।

इस सवाल के जवाब में शाह ने कहा, ‘हमने ये कही नहीं कहा कि रॉबर्ट वाड्रा को जेल में डालेंगे। हमने कहा कि भ्रष्टाचारियों को जेल में भेजेंगे। और ये भी कहा कि रॉबर्ट वाड्रा ने रैम्पड क्रप्शन (बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार) किया है। दो अलग स्टेटमेंट (बयान) हैं। इसे एक कर नहीं देखना चाहिए। कांग्रेस और बीजेपी की सरकार में एक अंतर है। हमारी सरकार में जो भी मामले हैं उसकी जांच होगी और अगर साक्ष्य पाए गए तो कार्रवाई होगी।’

उन्होंने आगे कहा, ‘हम राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से काम नहीं करते हैं। जांच की एक प्रक्रिया होती है एजेंसी ने वो पूरी करने के बाद ही चार्जशीट फाइल की है। चिंता मत कीजिए इसके बाद भी भारतीय जनता पार्टी की ही सरकार आने वाली है और भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी।’

बता दें कि शाह के दावों के विपरीत, कई बीजेपी नेताओं ने वाड्रा को जेल भेजने का वादा किया था। उनमें से प्रमुख नाम उमा भारती का था, जिन्होंने 12 अप्रैल 2014 को झांसी में संवाददाताओं से कहा था कि चुनाव के बाद अगर बीजेपी सत्ता में आती है, तो सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा को भ्रष्टाचार के आरोप में जेल भेज दिया जाएगा। भारती के अलावा 27 अप्रैल 2014 को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए रविशंकर प्रसाद ने भी वाड्रा पर भ्रष्टाचार के कई गंभीर आरोप लगाए थे।

‘दामाद श्री’ पुस्तिका का अनावरण करने के लिए बुलाए गए इस संवाददाता सम्मेलन में बीजेपी द्वारा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की आवाज वाली एक फिल्म भी दिखाई गई थी, जिसमें वाड्रा को ‘भू-माफिया’ करार दिया गया था। इसमें दावा किया गया था कि जमीन सौदे में हरियाणा और राजस्थान की कांग्रेस सरकारों ने वाड्रा की अवैध रूप से मदद की। इतना ही नहीं, सोनिया और राहुल पर भी अवैध जमीन सौदों की राह आसान बनाने का आरोप लगाया गया था।

अब अमित शाह के इस ताजे बयान से साफ है कि सरकारी एजेंसियों ने वाड्रा के खिलाफ कुछ भी ऐसा नहीं पाया है जो भ्रष्टाचार के आरोपों के तहत उनके खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए पर्याप्त हो। वाड्रा पर शाह का मधुर स्वर उस हाई-प्रोफाइल प्रेस कॉन्फ्रेंस के ठीक विपरीत है, जो उनकी पार्टी ने 27 अप्रैल 2014 को लोकसभा चुनाव के ठीक बीच में आयोजित किया था। ऐसा लग रहा है कि बीजेपी को वाड्रा के खिलाफ अपने आरोपों को लेकर अब जनता को समझाना मुश्किल हो रहा है।

साभार : जनता का रिपोर्टर से (JANTAKAREPORTER) पूरी खबर के लिए इस लिंक पर जाएं http://www.jantakareporter.com/hindi/after-rs-15-lakh-promise-amit-shah-makes-huge-u-turn-on-robert-vadra/239594/

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email