राष्ट्रीय

जल के बिना मानव जीवन की कल्पना नहीं : मंगेश कौशिक

जल के बिना मानव जीवन की कल्पना नहीं : मंगेश कौशिक

 विवेक जैन

No description available.

-पानी की बूंद-बूंद को बचाने की दी सलाह 

-जल का किया जा रहा है अंधाधुंध दोहन 

बागपत/उत्तर प्रदेश : युवा समाज सेवी मंगेश कौशिक ने लोगों को मानव जीवन में जल का महत्व बताया और उन्हें पानी की बूंद-बूंद बचाने के लिए जागरूक किया। मंगेश कौशिक ने कहा कि जल ही जीवन है, इसके बिना मानव जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती। आज मानव जीवन जल पर ही टिका हुआ है, लेकिन यह बहुत ही विडम्बना है कि आज जल का अंधाधुंध दोहन किया जा रहा है। लोग पानी को बर्बाद करने पर तुले हुए है। सबमर्सिबल के जरिये पानी को व्यर्थ बहाया जा रहा है। पशुओं को नहलाने व गाड़ियों को धोने में हर रोज कई सौ लीटर पानी की बर्बादी की जा रही है। लोगों को पानी की कीमत समझनी पड़ेगी। यदि समय रहते उन्होंने इस तरफ ध्यान नहीं दिया तो आने वाले समय में इसका खामियाजा हमारी युवा पीढ़ी को ही भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए जन जागरूकता कार्यक्रम चलाने की जरूरत है। समाज के सभी वर्गों के लोगों को इसके लिए आगे आना चाहिए। जगह-जगह जनजागरूकता कार्यक्रम चलाये जाने चाहिए। रैलियां निकालनी चाहिए और गोष्ठियों व सेमिनार का आयोजन करना चाहिए, तभी पानी की बर्बादी को रोका जा सकता है।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email