राष्ट्रीय

कोरोना वैक्सीन: 39 लाख लोगों ने कोविन पोर्टल पर कराया रजिस्ट्रेशन

कोरोना वैक्सीन: 39 लाख लोगों ने कोविन पोर्टल पर कराया रजिस्ट्रेशन

एजेंसी 

नई दिल्ली :  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और उनकी पत्नी को मंगलवार को कोरोना टीका लगा। उन्होंने दिल्ली हार्ट एंड लंग इंस्टीटूट अस्पताल में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली। वैक्सीन लगने के बाद स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि उन्होंने और उनकी पत्नी ने 250 रुपये देकर  कोवैक्सीन का टीका लगवाया है। वैक्सीन संजीवनी की तरह काम करती है। हनुमान जी ने इसे लाने के लिए भारत को पार किया था, लेकिन यह संजीवनी यह 'संजीवनी' आपके नजदीकी सरकारी और निजी अस्पताल में उपलब्ध है। देशवासियों से अपील है कि वैक्सीन लगवाएं। उन्होंने जानकारी दी कि सुबह 9.30 बजे तक 39 लाख लोगों ने कोविन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराया है।

स्वास्थ्य मंत्री के अलावा केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पटना एम्स में टीका लगवाया। जम्मू-कश्मीर में नेशनल कॉन्फ्रेंस के सांसद फारूक अब्दुल्ला और केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने उत्तर प्रदेश के रामपुर में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली। इससे पहले आज हैदराबाद के गांधी अस्पाताल में गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी को टीका लगा। अभिनेता और मक्कल निधि मय्यम के अध्यक्ष कमल हासन ने चेन्नई में वैक्सीन की पहली खुराक ली।

भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री को भी टीका लगा। उन्हें अहमदाबाद में टीका लगा। ट्वीट करके उन्होंने खुद इसकी जानकारी दी। बता दें कि देश में कोरोना टीकाकरण के दूसरे चरण की शुरुआत सोमवार को हुई। इस चरण में 60 साल से ज्यादा उम्र और गंभीर बीमारियों से ग्रसित 45 साल से ज्यादा लोगों को टीका लगाया जा रहा है। 

पहले दिन सवा लाख से ज्यादा लोगों को टीका लगा

आम लोगों के लिए टीकाकरण की शुरुआत के पहले दिन सवा लाख से ज्यादा लोगों को टीका लगा। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार  सोमवार को 60 साल के अधिक के 1,28,630 और 45 से अधिक उम्र के गंभीर बीमारी से ग्रस्त 18,850 लोगों को टीका लगाया गया। सोमवार सुबह नौ बजे रजिस्ट्रेशन शुरू होने के बाद से कोविन पोर्टल पर पहले दिन 25 लाख लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया।

अब तक 1.48 करोड़ लोगों का टीकाकरण

बता दें कि गत तीन जनवरी को दो वैक्सीन सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशिल्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को आपात इस्तेमाल के लिए मंजूरी दी गई। इसके बाद 16 जनवरी से टीककरण की शुरुआत हुई । स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, अब तक 1. 48 करोड़ से ज्यादा लोगों का टीकाकरण हो चुका है। 

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email