राष्ट्रीय

जेसिका लाल मर्डर केस: उपराज्यपाल के अनुमति से दोषी मनु शर्मा हुआ रिहा

जेसिका लाल मर्डर केस: उपराज्यपाल के अनुमति से दोषी मनु शर्मा हुआ रिहा

एजेंसी 

नई दिल्ली : दिल्ली के चर्चित जेसिका लाल मर्डर केस में दोषी मनु शर्मा को रिहा करने का फैसला लिया गया है. दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने मनु शर्मा को रिहा करने की अनुमति दी है. मनु शर्मा जेसिका लाल मर्डर केस में उम्रकैद की सजा काट रहा है. मनु शर्मा को 1999 में मॉडल जेसिका लाल की हत्या का दोषी पाया गया था.

बता दें कि मशहूर मॉडल जेसिका लाल की 29 अप्रैल, 1999 की रात दिल्ली के टैमरिंड कोर्ट रेस्टोरेंट में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. वजह जेसिका ने शराब परोसने से मना कर दिया था. उसका हत्यारा और कोई नहीं मनु शर्मा था.

तिहाड़ जेल में करीब 17 वर्ष से बंद मनु शर्मा को रिहा कर दिया गया है. उसे सोमवार को तिहाड़ से रिहा कर दिया गया. उसे छोड़ने की सिफारिश सेंटेंस रिव्यू कमेटी ने लिया है. कमेटी की सिफारिश के बाद अब उप राज्यपाल के आदेश के बाद मनु शर्मा तिहाड़ जेल से बाहर आ गया.

मनु शर्मा हरियाणा के नेता विनोद शर्मा का बेटा है. सात साल तक चले मुकदमे के बाद इस मामले में फरवरी 2006 में सभी आरोपी बरी हो गए थे. आरोपियों के बरी होने के बाद भी जेसिका का परिवार निराश नहीं हुआ. उसकी बहन ने नए सिरे से इस केस में जान फूंकने की कोशिश की. यह मामला मीडिया में उछला. उसके बाद तो जेसिका लाल मर्डर केस में इंसाफ के लिए दिल्ली क्या पूरा देश एक साथ आ गया. इस केस को दोबारा खोलना पड़ा. फास्टट्रैक कोर्ट में केस चला. उसके बाद जेसिका के हत्यारे मनु शर्मा को उम्र कैद की सजा सुनाई गई.

केस पर बनी थी फिल्म 'नो वन किल्ड जेसिका'

2011 में जेसिका लाल मर्डर केस से प्रभावित होकर फिल्म 'नो वन किल्ड जेसिका' बनाई गई. इसमें फिल्म अभिनेत्री रानी मुखर्जी और विद्या बालान प्रमुख भूमिका थे. इसके अलावा फिल्म हल्ला बोल की कहानी भी जेसिका मर्डर केस से प्रभावित थी. दोनों फिल्मों में आम आदमी और मीडिया की ताकत को दर्शाया गया था.

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email