राष्ट्रीय

'चलो कोरोना वायरस फैलाएं' ट्वीट पर इन्फोसिस ने कर्मचारी को निकाला

'चलो कोरोना वायरस फैलाएं' ट्वीट पर इन्फोसिस ने कर्मचारी को निकाला

भारत की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी इन्फोसिस ने अपने एक कर्मचारी को 'कोरोना फैलाने' की अपील वाले ट्वीट पर नौकरी से निकाल दिया है। इस टेकी ने ट्वीट किया था कि चलो हाथ मिलाएं, बाहर छींके और कोरोना वायरस फैलाएं। इन्फोसिस ने इसे कंपनी के मूल्यों के खिलाफ बताते हुए कार्रवाई की है। 

मुजीब मोहम्मद ने ट्वीट किया, 'चलो हाथ मिलाएं, बाहर लोगों के बीच मुंह खोलकर छींके। कोरोना वायरस फैलाएं।' ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया होने लगी तो इन्फोसिस में भी हलचल तेज  हो गई। पहले तो कंपनी ने कहा कि वह इन्फोसिस का कर्मचारी नहीं है, लेकिन जांच में वह उनका ही कर्मचारी निकला तो कार्रवाई की गई।   
इन्फोसिस ने ट्वीट के जरिए कहा, 'कर्मचारी की ओर से किया गया पोस्ट इन्फोसिस के नियमों और जिम्मेदार सोशल शेयरिंग के खिलाफ है। गुरुवार को कंपनी ने कहा था कि शायद गलती से उस शख्स को इन्फोसिस का बताया जा रहा है, जिसने यह गलत ट्वीट किया है। हालांकि, कपंनी ने जांच का वादा किया था। शुक्रवार को कंपनी ने ट्वीट करके बताया कि असल में यह उसका ही कर्मचारी है। 

कंपनी ने मुजीब को बर्खास्त करने की जानकारी देते हुए कहा, 'इन्फोसिस ने एक कर्मचारी के सोशल मीडिया पोस्ट पर अपनी जांच पूरी कर ली है। हम मानते हैं कि यह गलत पहचान का मामला नहीं है।' 

इन्फोसिस इस तरह की हरकतों को लेकर जीरो टोलरेंस की नीति रखता है। कर्मचारी को उसकी सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है।' 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email