राष्ट्रीय

दिल्ली हिंसा: AAP ने पूछा पुलिस से सवाल- क्या इन FIR में भड़काऊ बयान देने वाले बीजेपी नेताओं का नाम शामिल हैं?

दिल्ली हिंसा: AAP ने पूछा पुलिस से सवाल- क्या इन FIR में भड़काऊ बयान देने वाले बीजेपी नेताओं का नाम शामिल हैं?

एजेंसी 

नई दिल्‍ली : राजधानी दिल्ली के उत्तर-पूर्वी इलाके में हुई हिंसा पर राजनीतिक दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। आम आदमी पार्टी के नेता और राज्य सभा सांसद संजय सिंह ने इस मामले में पुलिस पर सवाल उठाए और पूछा, 'भड़काऊ बयान' देने वाले भाजपा नेताओं का नाम भी शिकायत में शामिल किया गया है या नहीं?' उन्‍होंने पूछा कि 'क्या इन एफआईआर में भड़काऊ बयान देकर दिल्ली में आग लगाने वालों के नाम शामिल हैं? क्या अब मीडिया पूछेगा कि किसके दबाव में बीजेपी नेताओं ने भड़काऊ बयान दिए हैं?'

जानकारी के मुताबिक उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर पुलिस ने कुल 148 प्राथमिकी दर्ज की हैं तथा 630 लोगों को गिरफ्तार या हिरासत में लिया गया है। दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। प्रवक्ता मनदीप सिंह रंधावा ने कहा कि 'फारेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला दल को बुलाया गया है और अपराध के दृश्यों का फिर से मुआयना किया जा रहा है।' बता दें कि दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा में मृतक संख्या बढ़कर 42 हो गई है। सांप्रदायिक संघर्षों में 250 से अधिक लोग घायल हुए हैं। इनके कारण मुख्य रूप से जो क्षेत्र प्रभावित हुए हैं, उनमें जाफराबाद, मौजपुर, चांदबाग, खुरेजी खास और भजनपुरा शामिल हैं।

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने आज से हिंसा पीड़ितों की मदद के लिए मुआवजा देने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके लिए दिल्ली सरकार ने देश के प्रमुख अखबारों में एक फॉर्म प्रकाशित किया है। इस फॉर्म को भरकर केजरीवाल सरकार से मदद का दावा किया जा सकता है। आपको बता दें कि दिल्ली सरकार के ऐलान के मुताबिक व्यस्क मृतकों को 10 लाख रुपये की मदद दी जाएगी। इसमें से एक लाख रुपये तुरंत दिए जाएंगे और 9 लाख रुपये की राशि कागजी कार्यवाही पूरी होने के बाद दी जाएगी। मृतक नाबालिग को 5 लाख रुपये देने का ऐलान किया गया है। अगर इस हिंसा में किसी को स्थाई रूप से चोट पहुंची है तो उसे 5 लाख रुपये दिए जाएंगे। गंभीर चोट से पीड़ित के लिए 2 लाख का ऐलान किया गया है। मामूली चोट के लिए 20 हजार रुपये, अनाथ के लिए 3 लाख रुपये की घोषणा की गई है। जानवर की क्षति के लिए 5000 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। साधारण रिक्शा के लिए 25000 रुपये और ई रिक्शा के लिए 50000 रुपये देने की घोषणा की गई है।

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email