राष्ट्रीय

JDU नेता अजय आलोक ने 'कोरोना वायरस' से की प्रशांत किशोर की तुलना

JDU नेता अजय आलोक ने 'कोरोना वायरस' से की प्रशांत किशोर की तुलना

मीडिया रिपोर्ट 

बिहार : नागरिकता कानून, एनआरसी और एनपीआर पर मोदी सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वाले जदयू नेता प्रशांत किशोर अपनी ही पार्टी में अब अलग-थलग पड़ते दिख रहे हैं। बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू सुप्रीमो नीतीश कुमार के बाद अब जदयू नेता अजय आलोक ने भी प्रशांत किशोर को आड़े हाथों लिया है और उन्हें 'कोरोना वायरस' करार दिया है। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर भरोसे लायक आदमी नहीं हैं। 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, जदयू नेता अजय आलोक ने प्रशांत किशोर को लेकर कहा 'यह आदमी भरोसे लायक नहीं है। वे मोदी जी और नीतीश जी का भरोसा नहीं जीत सकते। वह आम आदमी पार्टी के लिए काम करते हैं, राहुल गांधी से बात करते हैं और ममता दीदी के साथ बैठते हैं। कौन उन पर भरोसा करेगा? हम खुश हैं कि यह कोरोना वायरस हमें छोड़कर जा रहा है। वह जहां जाना चाहते हैं, जाएं।'

इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पार्टी उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर के बारे में कहा था कि यदि कोई ट्वीट कर रहा है तो करे। जब तक किसी की पार्टी में रहने की इच्छा करेगी, तब तक वह रहेगा और जाना चाहेगा तो जाए। नीतीश कुमार ने प्रशांत किशोर को लेकर कहा कि अमित शाह ने मुझसे कहा था, जिसके बाद वो पार्टी में आए थे। 

प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार के बयान पर जवाब दिया था कि 'आप मुझे जेडीयू में क्यों और कैसे लेकर आए, इसको लेकर इतना गिरा हुआ झूठ बोल रहे हैं। आपकी ओर से खराब कोशिश है, मुझे अपने रंग में रंगने की। यदि आप सच बोल रहे हैं तो कौन विश्वास करेगा कि आपमें इतनी हिम्मत है कि अमित शाह के भेजे गए शख्स की न सुनें।' प्रशांत किशोर पिछले कई दिनों से संशोधित नागरिकता कानून को लेकर केंद्र सरकार पर हमलावर हैं। प्रशांत ने पार्टी के रुख पर भी सवाल खड़ा किया था। 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email