राष्ट्रीय

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता कर्ण सिंह ने आर्टिकल 370 पर सरकार की फैसले का स्वागत किया

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता कर्ण सिंह ने आर्टिकल 370 पर सरकार की फैसले का स्वागत किया

एजेंसी 

नई दिल्ली : आर्टिकल 370 के मुद्दे पर कांग्रेस दो खेमों में बंटी नजर आ रही है। दरअसल पार्टी के कुछ नेता खुलकर जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 के प्रावधान हटाने का समर्थन कर रहे हैं। अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ. कर्ण सिंह ने जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 के प्रावधान हटाने के मुद्दे पर केन्द्र की भाजपा सरकार का समर्थन किया है। डॉ. कर्ण सिंह ने सरकार के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि इससे भेदभाव खत्म होगा।

बता दें कि डॉ. कर्ण सिंह जम्मू कश्मीर के महाराजा हरिसिंह के बेटे हैं। महाराजा हरिसिंह ने जम्मू कश्मीर के भारत के साथ जाने का फैसला किया था। ऐसे में कर्ण सिंह द्वारा आर्टिकल 370 हटाने के फैसले का समर्थन करना काफी अहम है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि लद्दाख को केन्द्र शासित प्रदेश बनाए जाने का कदम स्वागतयोग्य है। उन्होंने कहा कि मेरी मुख्य चिंता जम्मू कश्मीर के सभी वर्गों और क्षेत्रों के कल्याण की है।

बता दें कर्ण सिंह के अलावा कांग्रेसी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के सरकार के फैसले का समर्थन किया है। सिंधिया ने फैसले के समर्थन में एक ट्वीट भी किया। सिंधिया के अलावा मिलिंद देवरा, दीपेन्द्र हुड्डा जैसे युवा नेताओं ने भी सरकार के फैसले का समर्थन किया है। वहीं पार्टी का एक धड़ा इसके विरोध में है।

केन्द्र सरकार ने बीते सोमवार को जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल राज्यसभा में पेश किया। जहां से पास होने के बाद इसे मंगलवार को लोकसभा में पेश किया गया। लोकसभा में यह बिल पास हो गया है। इस बिल के तहत सरकार ने जम्मू कश्मीर को विशेषाधिकार देने वाले आर्टिकल 370 के सभी प्रावधान हटा दिए हैं। साथ ही सरकार ने जम्मू कश्मीर और लद्दाख को अलग करते हुए दोनों को केन्द्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया है। यह फैसला करने से पहले सरकार ने जम्मू कश्मीर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए और कई बड़े नेताओं को नजरबंद कर दिया था।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email