राष्ट्रीय

जी न्यूज के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी का मुंबई में हुआ एक्सिडेंट

जी न्यूज के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी का मुंबई में हुआ एक्सिडेंट

‘जी न्यूज’ के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी पिछले कुछ दिनों से अपने चर्चित शो ‘DNA’ में नजर नहीं आ रहे हैं। अचानक यूं सुधीर चौधरी के न आने से उनके प्रशंसकों में बेचैनी थी, वे समझ नहीं पा रहे थे कि आखिरी माजरा क्या है। सोशल मीडिया पर भी चौधरी से लगातार यह सवाल पूछा जा रहा था। अब जाकर इसका जवाब मिल पाया है। सुधीर चौधरी ने अपने प्रशंसकों को ‘DNA’ में नजर नहीं आने की वजह बताई है। फेसबुक पर पोस्ट किये गए इस विडियो में चौधरी ने बताया है कि मुंबई यात्रा के दौरान उनका एक्सीडेंट हो गया था और डॉक्टरों ने उन्हें आराम की सलाह दी है। इसी के चलते उन्हें कुछ दिनों तक ‘DNA’ से दूरी बनानी पड़ रही है।

सुधीर चौधरी की नाक पर चोट लगी है और मामूली फ्रैक्चर भी है। अपने इस पोस्ट की जानकारी उन्होंने ट्विटर पर भी साझा की थी, ताकि सभी प्रशंसकों तक उनकी बात पहुंच जाए। 

चौधरी ने कहा, ‘आप लोगों के मैसेज मुझे लगातार मिल रहे हैं कि मैं ‘DNA’ में क्यों नजर नहीं आ रहा हूं। मैंने आपके सभी मैसेज पढ़े, एक-दो दिन मैंने सोचा कि क्या करूं। आपके संदेश के जवाब में ही कुछ लिखकर बता दूं या फिर सही होने का इंतजार करूं। मुझे लगा था कि जल्द मेरी तबीयत इस लायक हो जाएगी कि आपसे मिलकर ही सबकुछ बता दूंगा, लेकिन दुर्भाग्य से अभी स्थिति ऐसी नहीं है। इसलिए सोचा कि आज आपसे बात कर लेता हूं।

बहुत खुशी हुई कि हजारों लोगों ने मुझे लिखा, जानना चाहा कि मैं क्यों टीवी पर नहीं आ रहा हूं। बहुत सारे लोगों को मेरी चिंता हुई, कुछ को यह भी लगा कि मैं छुट्टियां मनाने गया हूं। जो लोग मुझे अच्छी तरह से जानते हैं, वह ये भी जानते हैं कि मैं छुट्टियाँ कम लेता हूं। मेरी यही कोशिश रहती है कि कम से कम रात के नौ बजे आपसे मुलाकात हो ही जाए। ये मौका मैं छोड़ता नहीं, जब तक कि कोई मजबूरी न आ जाये।’

अपने लगभग 12 मिनट के विडियो में चौधरी ने आगे कहा, ‘अपने चैनल की ब्रॉडकास्ट क्वालिटी को ध्यान में रखते हुए भी मुझे लगा कि एक-दो दिन ब्रेक ले लेना चाहिए। हालांकि, ये फोर्सफुल ब्रेक है। अपनी मर्जी से लिया ब्रेक नहीं है। बाकी मैं बिल्कुल ठीक हूं, जल्द ही मैं आपके सामने उपस्थित रहूंगा।’

 चौधरी ने अपने सभी प्रशंसकों को धन्यवाद देते हुए कहा कि आप लोगों ने जितना प्यार दिखाया है उसके लिए मैं आपका दिल से आभारी हूं। शरीर में दो-तीन घंटे खड़े रहने की ताकत आते ही मैं आपसे मिलूंगा, तब तक शायद मेरी नाक पर यह चोट का निशान भी गायब हो जायेगा। उम्मीद है कि एडिटर-इन-चीफ के इस संदेश के बाद अब उनके प्रशंसकों के मन में उठ रहे सवाल और जन्म ले रहीं आशंकाएं समाप्त हो गयी होंगी।

साभार : samachar4media

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email