विश्व
Previous123456789...337338Next
अमेरिकी विदेश मंत्री ने भारत को अमेरिका का भरोसमंद पार्टनर बताया

मीडिया रिपोर्ट 

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा पाकिस्तान और अमेरिका के बीच अच्छे हो रहे संबंध का जिक्र करते हुए किए गए ट्वीट के बाद अमेरिका ने भारत को दोबारा भरोसे में लेने की कोशिश की है. अमेरिकी विदेश मंत्री ने भारत को अमेरिका का भरोसमंद पार्टनर बताया है. साथ ही विदेश मंत्री ने पाकि‍स्तान और चीन की खबर भी ली. अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा चीन का बर्ताव सही नहीं हैं और चीन के कदम अंतरराष्ट्रीय कानूनों, नियमों के लिए खतरा बन रहे हैं.

रेक्स टिलरसन के लिए चित्र परिणाम

अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ भारत और अमेरिका कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ रहे हैं. टिलरसन ने कहा कि पिछले दशक में आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को लेकर अमेरिका और भारत के संबंधों में काफी मजबूती आई है.

टिलरसन ने भारत को भरोसा देते हुए कहा कि अनिश्चितता और तनाव के इस माहौल में भारत को एक भरोसेमंद साथी की जरूरत है. रेक्स ने कहा कि अमेरिका की तरफ से वह भरोसा दिलाते हैं कि भारत का वह साथी अमेरिका है. भारत और अमेरिका दोनों वैश्व‍िक शांति, विकास और स्थायित्व के लिए साझा विजन शेयर करते हैं.

रेक्स ने कहा कि भारत और अमेरिका का रिश्ता कानून का शासन, नेवीगेशन की आजादी, अंतरराष्ट्रीय सिद्धान्तों और मुक्त व्यापार पर आधारित है.टिलरसन ने कहा कि यह सही समय है जब अमेरिका भारत के साथ अपने रिश्ते मजबूत करे. भारत की तारीफ करते हुए रेक्स ने कहा कि भारत का युवा होना, उसकी सकारात्मक सोच, ताकतवर लोकतंत्र और विश्व में भारत के बढ़ते कद की वजह से अमेरिका को भारत से दोस्ती और ज्यादा बढ़ानी चाहिए.

टिलरसन ने कहा कि साथ ही यह कोशिश हो कि यह दोस्ती आने वाले 100 साल तक चले. अमेरिकी विदेश मंत्री ने यह भी कहा कि इंडो-पसिफिक क्षेत्र में शांति और स्थायित्व के लिए भी भारत और अमेरिका को सहयोग बढ़ाना जरूरी है.

भारत दौरे से पहले रेक्स अमेरिका और भारत के रिश्तों में और नजदीकी लाना चाहते हैं. यही वजह है कि उन्होंने वॉशिंगटन में कहा कि भारत की तुलना में चीन ने गलत तरीके से विकास की राह पकड़ी है. टिलरसन ने कहा कि जहां चीन ने आगे बढ़ने के लिए अंतरराष्ट्रीय नियम कानूनों का उल्लंघन किया जबकि भारत दूसरे देशों की संप्रभुता का भी ख्याल रखते हुए आगे बढ़ रहा है.

टिलरसन ने साउथ चाइना सी के मुद्दे पर भी चीन को जमकर लताड़ लगाई. रेक्स ने कहा कि चीन के आक्रामक पहल ने उन अंतरराष्ट्रीय कानून और नियमों को चुनौती दी है, जिसके साथ भारत और अमेरिका हमेशा खड़े रहे हैं. उन्होंने चीन के साथ रिश्ते सुधारने की वकालत भी की, लेकिन चेतावनी भी दी कि ऐसा नियम कानूनों के प्रति चीन की अनदेखी के रहते हुए नहीं होगा. उन्होंने कहा कि चीन के पड़ोसी और अमेरिका के साथी मुल्कों की संप्रभुता को चुनौती देने के चीन के कदमों को अमेरिका नजरअंदाज भी नहीं करेगा.

वहीं पाकिस्तान को आड़े हाथों लेते हुए टिलरसन ने कहा कि अमेरिका को उम्मीद है कि पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगा ताकि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उसकी स्थिति सुधरे और इलाके में शांति आए. आपको बता दें कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अमेरिका दौरे के समय अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन से मुलाकात की थी. साथ ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी भारत के साथ अच्छे रिश्ते कायम रखना चाहते हैं.

... और पढ़ें

अमेरिका ने कहा - भारत बंद करे वीटो का इस्तेमाल, तभी मिलेगी सुरक्षा परिषद में स्थाई सदस्यता

भाषा की खबर 

वाशिंगटन: संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने कहा कि सुरक्षा परिषद में भारत के स्थायी सदस्य बनने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि वीटो का इस्तेमाल ना किया जाए. उन्होंने सुरक्षा परिषद के मौजूदा ढांचे में बदलावों के खिलाफ दो विश्व शक्तियों के रूप में रूस और चीन की पहचान की .अमेरिका भारत मैत्री परिषद द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में हेली ने कहा, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार वीटो पर निर्भर है ‌.सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी सदस्यों में वीटो की क्षमता है ‌. 

राजदूत निक्की हेली के लिए चित्र परिणाम

रूस, चीन, ब्रिटेन, अमेरिका और फ्रांस तथा उनमें से कोई भी यह नहीं चाहता ‌. तो भारत को सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य बनाने के लिए महत्वपूर्ण होगा कि वीटो का इस्तेमाल ना किया जाए ‌. उन्होंने परिषद के अध्यक्ष स्वदेश चटर्जी के एक सवाल के जवाब में कहा कि अमेरिका सुरक्षा परिषद में सुधार के लिए तैयार है और हमेशा इस पर जवाब देता है ‌. 

उन्होंने अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर अमेरिका-भारत सहयोग का प्रचार करने में कांग्रेस की भूमिका पर अहम भाषण भी दिया‌. हेली ने कहा कि अमेरिकी कांग्रेस या सीनेट की सुरक्षा परिषद में सुधारों में ज्यादा भूमिका नहीं हो सकती .अमेरिकी राजदूत ने कहा कि अमेरिका पहले से ही तैयार है लेकिन रूस और चीन पर ध्यान केंद्रित करने की जरुरत है ‌. सुरक्षा परिषद के ये दो स्थायी सदस्य कोई सुधार होते देखना नहीं चाहते हैं ‌.  

... और पढ़ें

अफगानिस्तान में पुलिस ट्रेनिंग कैंप पर हमला, 15 की मौत, 40 घायल

भाषा की खबर 

अफगानिस्तान के दक्षिण पूर्वी हिस्से में फिदाई हमलावरों और बंदूकधारियों ने एक पुलिस प्रशिक्षण केंद्र पर हमला कर दिया। तालिबान ने ट्वीट कर इस हमले की जिम्मेदारी ली है, जो पाकिस्तान की सरहद से लगे पकतिया प्रांत की राजधानी गरदीज में स्थित पुलिस प्रशिक्षण केंद्र पर हुआ है। गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि एक फिदाई बम हमलावर ने प्रशिक्षण केंद्र के नजदीक विस्फोट से भरी अपनी कार को उड़ाया दिया। इससे कई हमलावरों के लिए हमला करने का रास्ता साफ हो गया। हमले में अब तक कुल 15 लोगों की मौत हुई है और 40 लोग घायल बताए जा रहे हैं।

बयान के मुताबिक, केंद्र के अंदर बंदूकों से लैस एवं आत्मघाती जैकेट पहने हमलावरों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ चल रही है। यह केंद्र पकतिया पुलिस मुख्यालय के करीब स्थित है। एक स्थानीय अधिकारी ने बताया कि परिसर के पास दो कारों में विस्फोट हुआ। इस परिसर में राष्ट्रीय पुलिस, सीमा पुलिस और अफगान नेशनल आर्मी का प्रांतीय मुख्यालय भी हैं। पकतिया प्रांतीय परिषद के सदस्य अल्लाह मीर बहराम ने एएफपी को बताया कि बंदूकधारियों का एक समूह परिसर में घुस गया था। मुठभेड़ अभी चल रही है।

वहीं, अफगानिस्तान के अधिकारियों ने कहा कि तालिबान ने देश के दक्षिण, पश्चिम और पूर्वी हिस्सों में हमले कर कम से कम 10 पुलिस कर्मियों की हत्या कर दी। दक्षिण गजनी प्रांत में विद्रोही फिदाई कार हमले के बाद एक सुरक्षा परिसर में घुस गए और कम से कम सात पुलिसर्किमयों का कत्ल कर दिया। प्रांतीय पुलिस प्रमुख मोहम्मद जमां ने बताया कि हमला मंगलवार को अंदर जिले में हुआ और कई घंटे की मुठभेड़ के बाद हमलावरों का सफाया किया गया।

... और पढ़ें

यौन शोषण के आरोप में समन की खबर फर्जी : ट्रंप

एजेंसियों से 

वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि यौन शोषण के आरोप में उनके खिलाफ समन दायर होने की खबर ‘फर्जी’ है. ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा, मैं बस यह कह सकता हूं कि यह पूरी तरह से फर्जी खबर है. यह सिर्फ फर्जी है. ट्रंप से यह सवाल किया गया था कि क्या उनके अभियान को उनके खिलाफ लगाए गए यौन शोषण के आरोपों से संबंधित किसी दस्तावेज के लिए समन जारी किया गया है. ट्रंप ने ऐसी खबरों की निंदा की है.

ट्रंप के लिए चित्र परिणाम

उन्होंने कहा, यह गढ़ी हुई कहानी है और जो भी हुआ वह शर्मनाक है, लेकिन दुनिया की राजनीति में ऐसा होता है. फॉक्स न्यूज की खबर के मुताबिक, इस वर्ष मार्च में ‘अप्रेंटिस’ प्रतिभागी समर जेर्वोस ने ट्रंप पर आरोप लगाया था कि जब वह नौकरी के लिए उनसे मिली थी तो उन्होंने जबरदस्ती उसे पकड़ा और उसका चुंबन लिया था. इसके बाद ट्रंप के प्रचार अभियान को समन जारी किया गया.

... और पढ़ें

पनामा पेपर लीक्स करने वाली महिला पत्रकार की बम ब्लास्ट करके हत्या

एजेंसियों से 

पनामा पेपर लीक्स से दुनियाभर के बड़े-बड़े नेताओं के बारे में बड़े खुलासे करने वाली जर्नलिस्ट की हत्या कर दी गई है। पनामा पेपर लीक्स को सामने लाने वाली पत्रकार डैफनी कैरुआना गलिजिया की बम धमाके में मौत हो गई है। उनकी मौत माल्टा में हुए बम धमाके में हुई है।  सोमवार की दोपहर को गलीजिया की कार पर धमाका किया गया, जिसमें उनकी कार के परखच्चे उड़ गए और इसका मलबा पास के मैदान में चारो ओर फैल गया। उनकी पहचान विकिलीक्स की तरह से एक महिला के विकीलीक्स की तरह से हो गई थी। उन्होंने हाल ही में माल्टा के प्रधानमंत्री जोसेफ मस्कट और उनके दो करीबियों के बारे में बड़ा खुलासा किया था। लेकिन माल्टा के राष्ट्रपति मरी लुइस कोलेरो प्रका ने शांति की अपील की है। उन्होंने कहा कि इस दुर्घटना के बाद मैं लोगों से अपील करता हूं शांति बनाए रखे, जब देश इस घटना से चकित है, उस वक्त मेरे पास शब्द नहीं हैं, लिहाजा आप लोग भी किसी तरह का फैसला नहीं दे और शांति बनाए रखें। 

Panama Papers leak

इस धमाके के बाद आनन-फानन में बुलाई गई प्रेस कांफ्रेंस में मस्कट ने कहा कि सभी लोग जानते थे कि कैरुआना गलीजिया मेरी काफी कट्टर विरोधी थीं। वह ना सिर्फ राजनीतिक तौर पर बल्कि व्यक्तिगत पर इस हमले को सही नहीं ठहरा सकती हैं, कोई भी इस घटना को सही नहीं कह सकता है, यह एक वीभत्स हमला है। उन्होंने कहा कि हमले की जांच में एफबीआई भी पहुंच रही है। 

... और पढ़ें

फिलीपीन : कुख्यात आतंकी इस्नीलॉन हैपिलॉन मारा गया

मीडिया रिपोर्ट 

फिलीपीन में विद्रोहियों के कब्जे वाले शहर पर फिर से कब्जा पाने की लड़ाई में कुख्यात इस्लामिक आतंकी इस्नीलॉन हैपिलॉन मारा गया. गृह मंत्री ने आज यह जानकारी दी. इस्नीलॉन हैपिलॉन अमेरिका की 'मोस्ट वॉन्टेड आतंकवादियों' की सूची में शामिल था.

विदेश मंत्री डेल्फिन लोरेनजाना ने मई में मारावी शहर में हैपिलॉन के साथ हमले का नेतृत्व करने वाले एक और आतंकी का जिक्र करते हुए कहा, 'हमारे सैनिक इस्नीलॉन हैपिलॉन और उमर माउते को पकड़ने में कामयाब रहें. दोनों मारे गए हैं.' 

... और पढ़ें

Previous123456789...337338Next