दुर्ग

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री सुब्रत साहू ने स्ट्रांग रूम का किया मुआयना, व्यवस्थाओं का लिया जायजा

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री सुब्रत साहू ने स्ट्रांग रूम का किया मुआयना, व्यवस्थाओं का लिया जायजा

TNIS

दुर्ग : छत्तीसगढ़ राज्य मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री सुब्रत साहू आज दुर्ग लोकसभा क्षेत्र निर्वाचन के लिए की गई तैयारी एवं व्यवस्था का जायजा लेने यहां पहुंचे। उन्होंने यहां पहुंचकर सबसे पहले मतगणना के लिए रूंगटा काॅलेज, भिलाई में बनाए गए स्ट्रांग रूम का मुआयना किया। यहां उन्होंने मतगणना के लिए किए गए उपायों का बारीकी से विधानसभावार निरीक्षण किया। श्री साहू ने स्ट्रांग रूम के साथ ही मतगणना कक्ष को देखा। इस दौरान

उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी, पुलिस प्रशासन सहित अन्य अधिकारियों को निर्देशित किया कि मतगणना का कार्य पारदर्शिता एवं शांतिपूर्ण सम्पन्न हो, इसके लिए सभी जरूरी और आवश्यक पहल सुनिश्चित करें। मतगणना स्थल में राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों, आम आदमी एवं जिला निर्वाचन कार्यालय से नियुक्त अधिकारी-कर्मचारियों के प्रवेश द्वार, पार्किंग व्यवस्था, सुरक्षा व्यवस्था की जानकारी भी ली। 

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री साहू ने कहा कि स्ट्रांग रूम की सुरक्षा अतिमहत्वपूर्ण कार्य है। किसी भी प्रकार की कोई अवांछनीय घटना ना हो, इसके लिए 24 घण्टे सी सी टी वी.कैमरे के द्वारा स्ट्रांग रूम एवं पूरे मतगणना परिसर पर नजर रखी जाएगी।

सुरक्षा व्यवस्था में लगे जवान 24 घण्टे तैनात रहेंगे। कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति मतगणना स्थल और परिसर में प्रवेश नहीं कर सकेगा। गर्मी की मौसम को ध्यान में रखते हुए शीतल जल एवं भोजन की व्यवस्था मतगणना में लगे कर्मचारियों के लिए की जाएगी। आवश्यकता अनुसार छाया के लिए टेन्ट लगाए जाएंगे। मतदान के पश्चात् सामग्री वापसी के पश्चात् राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में स्ट्रांग रूम को सील किया जाएगा। जो मतगणना दिवस पर उनकी उपस्थिति में खोला जाएगा।
श्री साहू ने अपने संक्षिप्त पत्रकार वार्ता में बताया कि दुर्ग जिले में बिना किसी बाधा और रूकावट के शांतिपूर्ण रूप से निर्वाचन कार्य सम्पन्न हो, इसकी पूरी व्यवस्था पूर्ण कर ली गई है। मतदान हेतु मतदान कर्मचारियों के लिए वाहन व्यवस्था के साथ-साथ सुरक्षा व्यवस्था की व्यापक इंतजाम किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि किसी मतदान केन्द्र में यदि किसी ई.व्ही.एम. में कोई बाधा उत्पन्न होती है तो हमारा पूरा प्रयास रहेगा कि आधा से एक घण्टे के भीतर नए मशीन की व्यवस्था हो जाएगी। उनहोंने बताया कि दिव्यांग मतदाताओं को मतदान में सहभागी बनाने के लिए सभी मतदान केन्द्रों में रैम्प, व्हील चेयर की व्यवस्था की गई है। दिव्यांग मतदाता मतदान करने में असमर्थ होने की स्थिति में वह अपनी सहायता के लिए एक सहायक नियुक्त कर सकता है। इसके साथ ही दिव्यांगों की सहायता के लिए स्काउट गाईड, एनसीसी व एनएसएस के विद्यार्थियों की भी सहभागिता रहेगी। दिव्यांगों के वाहन को बाहर रोका नहीं जाएगा। वे सीधे मतदान परिसर तक बिना किसी रूकावट व बाधा के पहुंच सकेंगे। उनके आवश्यक सहायता के लिए छाया, पानी की व्यवस्था भी की गई है।

श्री साहू ने कहा कि स्वीप प्लान के जरिए जिले में पूर्व निर्वाचन में हुए मतदान के प्रतिशत को बढ़ाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। युवा मतदाताओं को प्रेरित करने के लिए सेल्फी जोन की व्यवस्था की गई है। निर्वाचन के दौरान जिले में प्रवेश करने वाले वाहनों की सरप्राईज चेकिंग की जा रही है, जिसका उद्देश्य आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में कड़ी कार्रवाई किया जाना है। वाहनों की जांच पारदर्शिता से की जा रही है। कोई भी संदिग्ध वस्तु या नगद मिलने पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email