खेल

धोनी के विजयी छक्के वाली फोटो देख भड़के गौतम गंभीर

धोनी के विजयी छक्के वाली फोटो देख भड़के गौतम गंभीर

एजेंसी 

नई दिल्ली : आईसीसी विश्वकप 2011 के फाइनल में महेंद्र सिंह धोनी के ऐतिहासिक छक्के के जिक्र पर टीम के पूर्व खिलाड़ी गौतम गंभीर भड़क गए हैं और उनका कहना है कि यह विश्व कप पूरे टीम सहयोग से जीता गया था।  भारत ने नौ वर्ष पहले आज ही के दिन श्रीलंका को मुंबई में हराकर 28 वर्ष का सूखा खत्म कर खिताब जीता था। ऐसे में टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने एक क्रिकेट संस्थान पर अपना गुस्सा निकाला है, जिसने वर्ल्ड कप 2011 की जीता का सेहरा एमएस धोनी के सिर उस छक्के के लिए बांध दिया है। 

Ms-dhoni-5-interesting-stories - शतकवीर धोनी की ...

दरअसल, गंभीर का मानना है कि ऐसा टीम के अन्य साथियों के प्रयास के साथ सही नहीं होगा। गंभीर ने ट्विटर पर ट्वीट पर लिखा, ‘विश्व कप 2011 पूरे भारत ने, पूरी भारतीय टीम और सभी सहयोगी स्टाफ ने जीता था। अब समय है जबकि तुम इस छक्के प्रति अपने मोह का त्याग कर दो।' बता दें, गंभीर और धोनी की साझेदारी में भी आठ बार ही गेंद सीमा रेखा के पार गई थी लेकिन तब भी उन्होंने 5.54 के रन रेट से रन बनाए थे। आखिर में धोनी का नुवान कुलशेखरा पर लगाया गया छक्का भारतीय क्रिकेट प्रेमियों के जेहन में रच बस गया। इस छक्के से भारत विश्व कप फाइनल में लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत दर्ज करने वाली तीसरी टीम बन गई थी। 

गौरतलब है कि वह दो अप्रैल 2011 का दिन था। स्थान था मुंबई का वानखेड़े स्टेडियम और भारत के सामने खिताबी मुकाबले में खड़ा था श्रीलंका जो टाॅस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए छह विकेट पर 274 रन का स्कोर बनाता है। माहेला जयवर्धने नाबाद 103 रन की शानदार पारी खेलते हैं। मतलब भारत को अगर 1983 के बाद फिर से चैंपियन बनना है तो उसे विश्व कप फाइनल में सबसे बड़ा लक्ष्य हासिल करने का रिकार्ड बनाना होगा। 

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email