खेल

गांव की यह लड़की बनी देश की नम्बर वन धाविका

गांव की यह लड़की बनी देश की नम्बर वन धाविका

एजेंसी 

उत्तरप्रदेश: ठेठ गांव से निकली लखनऊ हॉस्टल की एथलीट काजल शर्मा ने 2000 मीटर स्टीपलचेज में पूरे देश की धाविकाओं को पछाड़कर राष्ट्रीय यूथ रैंकिंग में पहला स्थान हासिल किया है। हाल ही में लखनऊ हॉस्टल की ही विजया कुमारी ने 100 राष्ट्रीय जूनियर रैंकिंग में विश्व जूनियर एथलेटिक्स रैंकिंग में 400 मीटर दौड़ की स्वर्ण पदक विजेता हिमा दास को पीछे छोड़ते हुए शीर्ष स्थान हासिल किया था। काजल शर्मा के अलावा इलाहाबाद के हैमर थ्रोअर विपिन कुमार, जौनपुर के जैवलिन थ्रोअर रोहित कुमार और रायबरेली की लांग जम्पर  दीपांशी सिंह भी अपने-अपने इवेंट में यूथ रैंकिंग में नम्बर वन पर हैं।

घर से स्कूल दौड़ते हुए आती-जाती थीं
तीन साल पहले तक काजल पिलखुआ के कंधोला गांव में खेतों की मेड़ों पर दौड़ती थी। घर से दौड़ते हुए बाजार जाती थी और वापस आती थी। स्कूल भी वह दौड़ते हुए जाती थी।  दौड़ने की इसी लगन से काजल ने एक के बाद एक राष्ट्रीय स्तर पर कई पदक जीत लिए। 

काजल के  पिता हैं किसान
काजल शर्मा 15 साल की हैं। पिता देवेंद्र शर्मा कंधोला में खेती करते हैं। काजल की पांच बहने और एक भाई है। इतने बड़े परिवार का खर्च  पिता खेती करके ही उठाते हैं। उनका परिवार आर्थिक तंगी से भी गुजर रहा है। पिछले साल उन्होंने अपनी बेटी का दाखिला खेल विभाग के एथलेटिक्स हॉस्टल में कराया था। इसके पीछे उनकी नीयत यही थी बेटी की पढ़ाई-लिखाई व भोजन मुफ्त में सरकार की तरफ से मिलेगा। खेलने में आगे निकल गई तो अच्छी जगह नौकरी मिल जाएगी। उनकी बेटी का जीवन दुरुस्त हो जाएगा।

देखते ही देखते चैंपियन बन गई काजल
पिता ने जिस उम्मीद से काजल को 2016 में हॉस्टल में भर्ती कराया था उस पर काजल ने खरा उतरना शुरू कर दिया है। अपनी पहली ही राज्य क्रासकंट्री चैंपियनशिप में काजल चैंपियन बन गईं। इसके बाद अण्डर-16 की दो किलोमीटर राष्ट्रीय क्रासकंट्री का स्वर्ण पदक जीता। फिर तो हैदराबाद, विजयवाड़ा, गुजरात में हुई राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भी स्वर्ण पदक जीते। पिछले साल नवम्बर में रांची में हुई राष्ट्रीय यूथ चैंपियनशिप में काजल ने 7 मिनट 10 सेकेंड का समय निकालकर स्वर्ण पदक जीता था। इसी प्रदर्शन ने उन्हें राष्ट्रीय यूथ रैंकिंग में नम्बर वन पर पहुंचा दिया।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email