खेल

CWG 2018 LIVE: भाला फेंक में नीरज चोपड़ा स्वर्ण जीतने वाले पहले भारतीय बने

रिपोर्ट 

 

गोल्ड कोस्ट: गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें कॉमनवेल्थ खेलों के आखिरी और 10वें दिन भारत पर स्वर्ण पदकों की बरसात के बीच नीरज चोपड़ा ने इतिहास रच दिया है. नीरज चोपड़ा भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं. वहीं,  शनिवार को मैरीकॉम और गौरव सोलंकी ने भारत को मुक्केबाजी में अपने-अपने वर्गों में स्वर्ण पदक दिलाए, तो संजीव राजपूत ने शूटिंग में सोने पर निशाना साथा. बता दें कि आज करीब दर्जन भर से भी ज्यादा पदक दांव पर लगे हुए हैं. और भारत बाकी खेलों में भी अच्छी खासी संख्या में पदक अपनी झोली में डाल सकता है. इससे अलावा मुक्केबाजी में अमित पंघाल और मनीष कौशिक को अपने-अपने वर्ग में रजत पदक मिला.

वहीं बैडमिंटन में श्रीकांत किदांबी, सायना नेहवाल और पीवी सिंधू ने महिला वर्ग के सिंगल्स के फाइनल में प्रवेश कर लिया है. इस वर्ग में स्वर्णिम टक्कर अब इन्हीं दोनों  खिलाड़ियों के बीच होगी. इसके अलावा टेबल टेनिस के सिंगल्स के पुरुष वर्ग में भारत स्टार खिलाड़ी अचंत शरत कमल सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गए हैं, तो महिला वर्ग में मनिका बत्रा ने फाइनल में जगह बना ली है. कुल मिलाकर अब भारत के पदकों की संख्या 48 हो गई है. इसमें 21 स्वर्ण, 13 रजत और 14 कांस्य पदक शामिल हैं.

मैरी कॉम ने शनिवार को महिला मुक्केबाजी की 45-48 किलोग्राम भारवर्ग के स्पर्धा का स्वर्ण अपने नाम कर लिया है. इस दिग्गज मुक्केबाज ने फाइनल में इंग्लैंड की क्रिस्टिना ओ हारा को 5-0 से मात देकर पहली बार राष्ट्रमंडल खेलों में पदक हासिल किया.

वहीं, पुरुष वर्ग में गौरव सोलंकी ने शनिवार को मुक्केबाजी में दूसरा स्वर्ण पदक दिलाया है गौरव ने पुरुषों की 52 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा के फाइनल में उत्तरी आयरलैंड के ब्रेंडन इरवाइन को 4-1 से मात देते हुए सोने का तमगा हासिल किया, तो मनीष कौशिक 60 किग्रा भार वर्ग में हार गए और उन्हें रजत से संतोष करना पड़ा. इस वर्ग में एक और अन्य मुक्केबाज भारत के मुक्केबाज अमित पंघाल 46-49 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा के फाइनल में हार कर रजत पदक से संतोष करना पड़ा है.अमित को इंग्लैंड के गलाल याफाई को 3-1 से मात देते हुए उनके स्वर्ण के सपने को तोड़ दिया

भारत के नीरज चोपड़ा ने इतिहास रच दिया है. उन्होंने भाला फेंक में वह कारनामा कर दिखाया, जो उनसे पहले इन खेलों के इतिहास में कोई और भारतीय नहीं ही कर सका. नीरज चोपड़ा ने अपने चौथे प्रयास में 86.47 मीटर जेवलिन फेंका. और इस दूरी को कोई और खिलाड़ी नहीं ही भेद सका. वहीं, तिहरी कूद में अरपिंदर सिंह कांस्य से चूक गए और वह चौथे स्थान पर रहे. वहीं, भारतीय महिलाएं चार गुणा चारसौ रिले दौड़ में फाइनल में सातवें स्थान पर रहीं.

Related Post

Leave a Comments

Name

Email

Contact No.