राजधानी

मोटी रकम देकर प्रभारी कार्यपालन अभियंताओं के पद पर बने रहने के कारण उन्हें हटवाने के संबंध में... डी०के० सोनी ने मुख्यमंत्री बघेल से की शिकायत

मोटी रकम देकर प्रभारी कार्यपालन अभियंताओं के पद पर बने रहने के कारण उन्हें हटवाने के संबंध में...  डी०के० सोनी ने मुख्यमंत्री बघेल से की शिकायत

GCN

मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ शासन रायपुर के विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी उमेश कुमार पटेल ने सचिव (भारसाधक) छत्तीसगढ़ शासन लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग रायपुर को दिया जांच का आदेश
         
मामला मोटी रकम देकर प्रभारी कार्यपालन अभियंताओं के पद पर बने रहने के कारण उन्हें हटवाने के संबंध में

मामला मोटी रकम लेकर छत्तीसगढ़ के बहुत से जिलों के अलावा बलरामपुर जिले में कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग खंड बलरामपुर में श्री आदित्य प्रताप सिंह सहायक अभियंता को वरिष्ठ अधिकारियों का स्थानांतरण कर वरिष्ठ अधिकारियों के पद पर गलत तरीके से प्रभार दिए जाने के संबंध में शिकायत आवेदन तथा श्री आदित्य प्रताप सिंह के अलावा अन्य जिलों के प्रभारी कार्यपालन अभियंताओं को प्रभाव से हटवाए जाने के संबंध उक्त मामले में डी०के० सोनी अधिवक्ता एवं आरटीआई कार्यकर्ता द्वारा दिनांक 26/8/2022 को एक शिकायत आवेदन श्री भूपेश बघेल मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुत किया गया है जिसमें यह उल्लेख किया गया है कि छत्तीसगढ़ शासन लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग मंत्रालय महानदी भवन अटल नगर नया रायपुर का आदेश क्रमांक एफ 1-02/2022/34-1 दिनांक 8/7/2022 संदर्भित आदेश द्वारा लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी खंड दुर्ग, जांजगीर-चांपा, बलौदाबाजार, जशपुर सूरजपुर, कबीरधाम, बैकुंठपुर में पदस्थ वरिष्ठ कार्यपालन अभियंताओं को स्थानांतरित कर कनिष्ठ अधिकारी (सहायक अभियंताओं) को प्रभार दिया गया है।

                28 जिलों में कार्यपालन अभियंता के पद हैं जबकि 23 कार्यपालन अभियंता उपलब्ध है शेष रिक्त पदों में वरिष्ठ सहायक अभियंता को पदोन्नत कर अथवा वरिष्ठता के आधार पर प्रभार सौंपाना चाहिए था लेकिन इसके विपरीत 14 जिलों में सहायक अभियंताओं को प्रभारी कार्यपालन अभियंता मनाया गया है तथा वरिष्ठता का ध्यान नहीं रखा गया है, बल्कि सरल क्रमांक 35 मनोज कुमार ठाकुर तथा 44 आदित्य प्रताप सिंह को बलरामपुर जिले में प्रभार सौंपा गया है जबकि उनके उनसे वरिष्ठ से 20 सहायक अभियंता आज भी उपलब्ध है लेकिन जितने भी सहायक अभियंता को कार्यपालन अभियंता बनाया गया है उनसे 50-50 लाख रुपए की मोटी रकम लेकर उन्हें प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है एवं शासन द्वारा बनाए गए नियमों को दरकिनार कर दिया गया है। 

            14 जिले में जहां पर सहायक अभियंता को प्रभारी कार्यपालन अभियंता बनाया गया है उन जिलों में शासन द्वारा चलाए जा रहे जल जीवन मिशन योजना में करोड़ों अरबों रुपए के कार्य में लीपापोती की जा रही है और भ्रष्टाचार किया जा रहा तथा कार्य की गुणवत्ता काफी खराब है एवं ठेकेदारों से मोटे कमीशन की राशि लेकर कार्य की गुणवत्ता को देखे बिना करोड़ों रुपए की राशि का भुगतान प्रभारी कार्यपालन अभियंता के द्वारा किया जा रहा है इसलिए प्रभारी कार्यपालन अभियंताओं को तत्काल हटाते हुए अधिकारी एवं अनुभवी व्यक्तियों की नियुक्ति कर सभी योजनाओं का संचालन सुचारु रुप से कराया जाना आवश्यक है।

            बलरामपुर जिले में वर्तमान में पदस्थ प्रभारी कार्यपालन अभियंता आदित्य प्रताप सिंह जो कि सहायक अभियंता के पद पर है एवं सहायक अभियंता के पद पर काफी कनिष्ठ हैं सहायक अभियंता के पद पर भी इनसे वरिष्ठ सहायक अभियंता विभाग में उपलब्ध हैं लेकिन आदित्य प्रताप सिंह अपने राजनैतिक पकड़ एवं वरिष्ठ अधिकारियों से मेल मिलाप कर उन्हें प्रभावित कर प्रभारी कार्यपालन अभियंता का पद प्राप्त किया गया है जो कि नियमतः गलत है इसलिए भी तत्काल प्रभाव से प्रभारी कार्यपालन अभियंता आदित्य प्रताप सिंह को हटाते हुए उनके मूल पद पर भेजा जाना नियमतः आवश्यक है। जिससे कि शासन के सभी योजनाओं का संचालन सही तरीके से कराया जा सके।

            जिस पर उक्त शिकायत की गंभीरता को देखते हुए मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ शासन रायपुर के विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी उमेश कुमार पटेल द्वारा दिनांक 1/9/2022 को सचिव (भारसाधक) छत्तीसगढ़ शासन लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग रायपुर को पत्र लिखते हुए डी०के० सोनी द्वारा प्रस्तुत आवेदन पर नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही कर कृत कार्यवाही से आवेदक डी०के० सोनी को अवगत करने को निर्देशित किया गया है।

डी०के०सोनी अधिवक्ता
एवं आरटीआई एक्टिविस्ट 
कार्यालय नवापारा अंबिकापुर 
जिला सरगुजा छत्तीसगढ़ 
मोबाइल नंबर 9826152904,
 9713002913

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email