विश्व

6 सालो बाद पाकिस्तान पहुंची नोबेल विजेता मलाला, आतंकियों ने मारी थी सिर पर गोली

एजेंसी 

नई दिल्ली: नोबेल शांति पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई करीब छह साल बाद वापस पाकिस्तान लौट चुकी हैं. मलाला को पाकिस्तान में 9 अक्टूबर 2012 को लड़कियों के शिक्षा अधिकार के अभियान चलाने की वजह से तालिबानी आतंकियों ने सिर में गोली मार दी थी. इस हमले में वह गंभीर रूप से घायल हो गई थीं और उन्हें इलाज के लिए ब्रिटेन ले जाया गया था.

घटना के बाद वह इंटरनेशनल स्तर पर चर्चा में आईं. इलाज के बाद वह परिवार के साथ बर्मिघम में ही रहने लगी. जहां उन्होंने पढ़ाई पूरी की. मलाला को 17 साल की उम्र में 2014 में नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इसके बाद से वह मानव अधिकारों और शिक्षा की लड़ाई का एक प्रतीक बन गईं. मलाला यूसुफजई को संयुक्त राष्ट्र ने 'शांति दूत' नियुक्त किया. संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने मलाला को 'दुनिया में सर्वाधिक लोकप्रिय विद्यार्थी' और शिक्षा को बढ़ावा देने का प्रतीक करार दिया था.

Related Post

Leave a Comments

Name

Email

Contact No.