व्यापार

कोरोना संकट के बीच ओला की ‘शेयर’ और उबर की ‘पूल’ सर्विस अस्थायी तौर पर हुआ बंद

कोरोना संकट के बीच ओला की ‘शेयर’ और उबर की ‘पूल’ सर्विस अस्थायी तौर पर हुआ बंद

एजेंसी 

नई दिल्ली : कोरोना वायरस की मार देश के लगभग हर बड़े सेक्टर पर पड़ी है. इससे ऐप बेस्ड कैब सर्विस मुहैया कराने वाली कंपनियां ओला और उबर भी अछूती नहीं हैं. बीते कुछ दिनों में इन दोनों कंपनियों की बुकिंग में बड़ी गिरावट आई है. इस बीच ओला और उबर दोनों ने शेयरिंग राइड पर भी रोक लगा दी है. मतलब ये कि जो लोग ओला की ‘शेयर’ और उबर की ‘पूल’ सर्विस का लाभ लेते थे, वो अस्थायी तौर पर नहीं ले सकेंगे.

ओला ने एक बयान में कहा, ‘‘कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने की कोशिशों के तहत कंपनी ‘ओला शेयर’ सुविधा को अगली सूचना तक अस्थायी तौर पर बंद कर रही है.’’ कंपनी ने कहा कि उसकी माइक्रो, मिनी, प्राइम, रेंटल और आउटस्टेशन सेवाएं जारी रहेंगी. इसी तरह, उबर की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘‘कोरोना वायरस के फैलाव को कम करने में मदद के लिए हम प्रतिबद्ध हैं. इसलिए जिन शहरों में हम सेवाएं देते हैं, उन शहरों में उबर पूल की सेवाएं निलंबित रहेंगी.’’

क्या खास है इस सुविधा में?

ओला और उबर , दोनों कंपनी की इन ‘शेयर’ और ‘पूल’ सर्विस के तहत एक ही रास्ते पर सफर करने वाले कई यात्रियों को एक साथ यात्रा करने की सुविधा मिलती है. इस यात्रा सेवा में किराया काफी कम लगता है. यही वजह है कि मेट्रो सिटीज में इस सुविधा की भारी डिमांड रहती है.

देश में 22 मार्च को जनता कर्फ्यू

बता दें कि दुनियाभर के लिए मुसीबत बन चुके कोरोना वायरस की वजह से 10,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी. इसका असर भारत पर भी पड़ा है और अब तक 200 से ज्यादा पॉजिटिव केस आए हैं. इस वजह से देश में 22 मार्च यानी रविवार को जनता कर्फ्यू का ऐलान किया गया है. इसको ध्यान में रखते हुए अधिकतर विमान और रेलवे सेवाएं कुछ देर के लिए ठप रहेंगी. ऐसी आशंका है कि जनता कर्फ्यू की वजह से ओला-उबर की सेवाएं भी प्रभावित होंगी.

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email