व्यापार

LIC ने खरीदा आईडीबीआई बैंक

नई दिल्ली : बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडा) ने शुक्रवार को जीवन बीमा निगम (एलआईसी) को कर्ज में डूबे आईडीबीआई बैंक में 51 फीसदी हिस्सेदारी लेने की मंजूरी दे दी है।  अब इसके बाद एलआईसी का बैंकिंग सेक्टर में उतरने का रास्ता साफ हो गया है, जिसके बाद पहले से जमे जमाए कई बैंकों को कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है। 

सूत्रों ने बताया कि यह फैसला  हैदराबाद में शुक्रवार दोपहर इरडा के निदेशक मंडल की बैठक के दौरान लिया गया। वर्तमान में आईडीबीआई में एलआईसी की हिस्सेदारी 11 फीसदी है।  एक आंकड़े के मुताबिक हर साल एलआईसी करीब 20 लाख पॉलिसी जारी करती है। एलआईसी के पास 250 मिलियन लोगों के भविष्य की जिम्मेदारी है, जिन्होंने एलआईसी से करीब 300 मिलियन लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी ली है। एलआईसी के पास सालाना करीब 3 लाख करोड़ का प्रीमियम जमा होता है।

एलआईसी अपने पास जमापूंजी के जरिए आईडीबीआई बैंक में सरकार की हिस्सेदारी को खरीदेगा। एलआईसी बैंकिंग सेक्टर में उतरना चाहती है। बैंक के बिगड़े बैलेंस शीट के बावजूद यह सौदा कारोबारी तालमेल प्रदान कर सकता है।ऐसा इसलिए क्योंकि भारतीय स्टेट बैंक के बाद एलआईसी की मार्केट में ब्रैंड वैल्यू काफी अच्छी है। 

Related Post

Leave a Comments

Name

Email

Contact No.