विशेष रिपोर्ट

अखिल भारतीय काव्य वेबिनार में राजेन्द्र ओझा ने छत्तीसगढ का प्रतिनिधित्व किया

अखिल भारतीय काव्य वेबिनार में राजेन्द्र ओझा ने छत्तीसगढ का प्रतिनिधित्व किया

GCN

सोंधी माटी लोन बघेली साहित्यिक मंच मध्य प्रदेश - महाराष्ट्र का संयुक्त आयोजन

No description available.

रायपुर : सोमालोब साहित्यिक मंच मध्य प्रदेश  - महाराष्ट्र के संयुक्त तत्वावधान में 21 नवम्बर को अखिल भारतीय स्तर के काव्य वेबिनार का आयोजन किया गया। इस वेबिनार में छत्तीसगढ राज्य का प्रतिनिधित्व रायपुर के राजेन्द्र ओझा ने किया। इस वेबिनार में जहां मानवीय मूल्यों पर कविताएं पढी गईं वहीं प्रेम, प्रकृति, वर्तमान परिवेश भी कविता के विषय बने।

राजेन्द्र ओझा,  रायपुर,  छत्तीसगढ

जाते हुए स्कूल 
और स्कूल से आते 
वह इसे कांधे पर ढो लेता है
बोरी की तरह,  
सलीके से लटकाता नहीं है
बस्ते की तरह।

बस्ता उसके लिए 
पढने से ज्यादा
दोपहर के भोजन 
का जुगाड है।

हर्षा मूलचंदानी, भोपाल,  मध्य प्रदेश
यह जग प्रीत की रीत न जाने
कपट कहीं,  छल पग - पग छाले
प्रेम का कमल जो है खिलाना
धीर पगों से आगे बढ़ना। 

यतीश चन्द्र मिश्र,  नाशिक
उगा चुका है जो पत्थर पर
अपने श्रम से सुन्दर फूल
जिसको चढना गिरि शिखर पर 
उसके पथ पर होते शूल
उस पथ का शूल करे क्या
जिसने दृढ संकल्प लिया।

रामकृष्ण सहस्त्रबुद्धे, नागपुर,  महाराष्ट्र
हैं ज्ञान के अक्षर जिन्हें कण कोयले के लग रहे
उनके आगे ज्ञान की सरिता बहाऊं किस तरह 
यंत्र का निर्माण करके, मंत्र का उच्चार करके
तंत्र विकसित कर रहा यह बताऊं किस तरह। 

मृदुल तिवारी 'महक', मुम्बई,  महाराष्ट्र
मैं तुम्हारे प्रीत में कविता लिखूंगी डूबकर
गीत, गजलों की यहां नदिया बहा दूंगी सनम।

डॉ. प्रमोद कुमार समीर 'भृगुवंशी', वाराणसी, उत्तर प्रदेश
देश की व्यथा कथा जो आज कहने लगूं तो
दिल पर आपके भी छाले पड जाएंगे। 
काले कारनामों की यथार्थता दिखाने वाले
आईने भी मित्रवर काले पड जाएंगे।
शील सद्भाव का गला जो घुटता रहा तो
शांति हेतु बुद्ध को भी लाले पड जाएंगे।

शिव मोहन सिंह,  देहरादून,  उत्तराखंड
हिम शिखरों से आज उतरकर
निर्झर बनकर झरना होगा
इस पनघट पर प्यास खड़ी है
थोड़ी देर ठहरना होगा।

उक्त वेबिनार में शैलेन्द्र जय - प्रयागराज,  प्रदीप देवीशरण भट्ट - हैदराबाद,  अरूण अपेक्षित- इन्दौर,  हेमलता मिश्र मानवी - नागपुर,  अंजनी सिंह सौरभ - सीधी आदि ने भी अपनी रचनाएं प्रस्तुत की। 

इस गरिमामय आयोजन के मुख्य अतिथि देहरादून के डॉ शिव मोहन सिंह, अध्यक्षता पुणे के डॉ मुकुन्द नीलकंठ जोशी ने की। संचालन श्री संजय द्विवेदी, मुम्बई एवं आभार श्री चन्द्रिका प्रसाद मिश्र,  नाशिक के द्वारा व्यक्त किया गया।

राजेन्द्र ओझा,
रायपुर,  छत्तीसगढ 
9575467733

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email