विशेष रिपोर्ट

गौठानों के जरिए स्व-सहायता समूह ने स्वावलंबन की एक नई चेतना जगायी है - मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

गौठानों के जरिए स्व-सहायता समूह ने स्वावलंबन की एक नई चेतना जगायी है - मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

TNIS

मुख्यमंत्री ने ग्राम पथरी में किया गौठान का अवलोकन: महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा उत्पादित सामग्रियों को सराहा

No description available.

धरसींवा : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल और कृषि मंत्री श्री रविंद्र चौबे ने कल धरसींवा विकासखण्ड के ग्राम पथरी में गौठान का निरीक्षण किया और वहां महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा संचालित आय मूलक गतिविधियों एवं उनके द्वारा तैयार किए गए विभिन्न उत्पादों की प्रदर्शनी का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री श्री बघेल और कृषि मंत्री श्री चौबे ने महिला समूह के काम काज की सराहना कर उनकी हौसला अफजाई की।

No description available.

    मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि राज्य शासन की महत्वाकांक्षी सुराजी गांव योजना के तहत गौठान का निर्माण ग्रामीण अर्थव्यवस्था को फिर से मजबूत बनाने एवं स्व-सहायता समूह की महिलाओं और युवाओं को रोजगार प्रदान करने के लिए किया जा रहा है, ताकि गांव के लोग स्वावलंबी बन सकें। गौठान आजीविका केन्द्र के रूप में विकसित हो रहे हैं। यहां संचालित गतिविधियों के माध्यम से ग्रामीणजन जीवन में एक सकारात्मक बदलाव देखने को मिल रहा है। ग्रामीणजन आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर हो रहे हैं। इससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था को गति मिली है। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के स्वप्न दृष्टा स्वर्गीय डॉ. खूबचंद बघेल की पुण्य तिथि के मौके पर आज पथरी में आयोजित पुरखों के सुरता कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे थे। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर स्वर्गीय डॉ. खूबचंद बघेल को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद पथरी गांव के गौठान गए और वहां संचालित गतिविधियों का जायजा लेने के साथ ही गौठान समिति एवं महिला समूहों के सदस्यों से मुलाकात एवं चर्चा की।

    मुख्यमंत्री ने समूह की महिलाओं द्वारा तैयार किए गए गोबर के दीये, चप्पल, मशरूम के विभिन्न उत्पाद, बेकरी उत्पाद, साबुन, सेनेटाईजर सहित अन्य सभी उत्पादों का अवलोकन किया और उनकी लगन और मेहनत की सराहना की। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि स्व सहायता से जुड़ी महिलाओं ने अपने रचनात्मक कार्यों से नई चेतना और स्वावलंबन की अलख जगाई है। स्वसहायता समूहों ने अपने काम काज एवं संव्यवहार से सामाजिक सरोकार को मजबूती दी है। उनका यह प्रयास गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की परिकल्पना को साकार करने की दिशा में एक सार्थक कदम है।

     मुख्यमंत्री श्री बघेल ने गौठान में संचालित बकरी पालन, सामुदायिक मुर्गी पालन, मशरूम उत्पादन,  वर्मी खाद निर्माण सहित अन्य गतिविधियों का भी अवलोकन किया। उन्होंने गौठान के बाड़ी में सब्जी की खेती का भी मुआयना किया और गौठान परिसर में पीपल का पौधा रोपा। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिरीश देवांगन, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती डोमेश्वरी वर्मा, जनपद अध्यक्ष श्रीमती उत्तरा कमल भारती, ग्राम पथरी की सरपंच श्रीमती प्रीति सोनी, कलेक्टर डॉ. एस भारतीदासन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अजय यादव सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email