विशेष रिपोर्ट

छत्तीसगढ़ : किसान साथी और आम आदमी भी करोड़पति बनने का सपना देख सकते हैं - HP Joshi

छत्तीसगढ़ : किसान साथी और आम आदमी भी करोड़पति बनने का सपना देख सकते हैं - HP Joshi

एच पी जोशी 

रक्त चंदन और स्वेत चंदन की देखभाल और खेती अच्छे से किया गया तो लाभ की संभावना अधिक होती है। यह बीते दिनों की बात है कि छत्तीसगढ़ में चंदन की खेती नहीं हो सकती, अब पर्यावरण और उसके प्रभाव को आप नियंत्रित कर सकते हैं इसका तात्पर्य यह है कि आप किसी भी क्षेत्र में चंदन की खेती कर सकते हैं। इसके लिए सकारात्मक सोच रखने वाले किसी विशेषज्ञ अथवा जानकार व्यक्ति से सलाह लेकर चंदन की खेती शुरू किया जा सकता है। जहां तक मेरा अनुमान है प्रदेश में सैकड़ों लोग से अधिक रक्त चंदन की खेती कर रहे हैं।

रक्त चंदन स्वतंत्र रूप से जीवन जीने में सक्षम है परन्तु स्वेत चंदन परजीवी किश्म का पौधा है इसके बेहतर जीवन लिए इससे लगा हुआ अरहर (राहेर) का पौधा लगाना आवश्यक है। इन पौधे को वयस्क होने में लगभग 12 से 15 वर्ष लगते हैं। उसके बाद एक अनुमान के हिसाब से लगभग एक वयस्क पेड़ 30 हजार रुपए से 50 हजार तक का लाभ दे सकता है। किसान साथियों के लिए यह लाभ का व्यवसाय हो सकता है वे अपने खेत, बाड़ी अथवा आंगन में चंदन लगाकर करोड़पति बनने का सपना देख सकते हैं। जिनके पास अधिक भूमि नहीं है वे अपने घर के छत में भी लगाकर आजमा सकते हैं।

जो किसान साथी चंदन की खेती करने के इच्छुक हों, वे YouTube में जाकर "चंदन की खेती" टाइप करें, और कुछ वीडियो जरूर देखें। मेरे जानकारी के अनुसार रायपुर और बिलासपुर के कुछ कृषि केंद्र में इसका बीज मिलता है जबकि लगभग सभी जिलों के नर्सरी में इसका पौधा मिल जाता है। मेरे द्वारा इस पौधे को रायपुर के एक नर्सरी से 100 - 100 रुपए में खरीदा गया है। इसे कुछ दिन अपने बालकनी में ही रखूंगा, बाद में अपने बाड़ी या आंगन के सुरक्षित स्थान में रोपित करूंगा। नर्सरी का नाम इसलिए नहीं बता रहा हूं क्योंकि यह उसका प्रचार हो सकता है। आप अपने आसपास के नर्सरी में इसका पता लगा सकते हैं।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email