टॉप स्टोरी

बच्चों के लिए खतरनाक नहीं होगी कोरोना की तीसरी लहर, डॉ. ने कहा- इसके कोई प्रमाण नहीं हैं

बच्चों के लिए खतरनाक नहीं होगी कोरोना की तीसरी लहर, डॉ. ने कहा- इसके कोई प्रमाण नहीं हैं

एजेंसी 

नई दिल्ली: कोविड (Covid-19) की तीसरी लहर को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. एम्स के डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया (Dr Randeep Guleria) ने कहा है कि तीसरी लहर बच्चों पर असर डालेगी इसके कोई प्रमाण नहीं हैं. उन्होंने कहा है कि दुनियाभर में किसी सर्वे से ऐसी बात नहीं निकली है. तीसरी वेव कब आ सकती है या बच्चों पर इसका क्या असर होगा, इसे लेकर अब तक कहीं डाटा ग्लोबल नहीं है कि बच्चे ज्यादा प्रभावित होंगे.  इसका कोई प्रमाण नहीं है. अब तक दुनिया में डाटा नहीं है कि बच्चों में सीरियस इंफेक्शन हो.

बच्चों में गंभीर संक्रमण की संभावना नहीं दिख रही
डॉ गुलेरिया ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान भी जो बच्चे संक्रमित हुए वे हल्के ही बीमार पड़े. उन्होंने कहा कि नहीं लगता कि भविष्य में बच्चों में किसी गंभीर संक्रमण का खतरा देखने को मिलेगा.

देश में एक दिन में 1 लाख से कम मामले

दो महीनों से भी ज्यादा समय के बाद मंगलवार को देश में कोरोना संक्रमण के एक लाख से कम मामले दर्ज किए गए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मंगलवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में देश में कोविड-19 संक्रमण के 86,498 नए मामले दर्ज किए गए हैं. यह पिछले 66 दिनों में सबसे कम दैनिक मामले हैं. जिसके बाद भारत में कोरोना के सक्रिय मरीजों की तादाद 13 लाख के आंकड़े पर पहुंच गई है. पिछले 24 घंटों में एक्टिव मरीजों की संख्या में 97,907 की गिरावट आई है, कुल सक्रिय मामलों की संख्या 13,03,702 हो गई है. 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email