टॉप स्टोरी

'कोविशील्ड' के बाद 'कोवैक्सीन' की भी सप्लाई शुरू...

'कोविशील्ड' के बाद 'कोवैक्सीन' की भी सप्लाई शुरू...

एजेंसी 

हैदराबाद: भारत में COVID-19 से बचाव को टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से शुरू हो रहा है. सभी राज्यों में वैक्सीनेशन की तैयारियां जारी हैं. भारत बायोटेक की कोरोनावायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) 'कोवैक्सीन' (Covaxin) की पहली खेप हैदराबाद से आज (बुधवार) सुबह दिल्ली और 10 अन्य शहरों को भेजी गई. सीरम इंस्टीट्यूट ने अपनी वैक्सीन 'कोविशील्ड' (Covishield) की पहली खेप मंगलवार से भेजना शुरू किया था. 'कोवैक्सीन' की पहली खेप को एयर इंडिया की फ्लाइट से दिल्ली भेजा गया है. इसमें 80.5 किलोग्राम के तीन बॉक्स हैं.

न्यूज एजेंसी ANI के अनुसार, एक अधिकारी ने बताया कि बुधवार सुबह 06:40 बजे एयर इंडिया की फ्लाइट संख्या AI 559 से वैक्सीन के पहले कंसाइनमेंट को हैदराबाद से दिल्ली भेजा गया है. दिल्ली के अलावा कोवैक्सीन की खेप बेंगलुरु, चेन्नई, पटना, जयपुर और लखनऊ भी भेजी गई है. अधिकारी ने जानकारी दी कि आज कुल 14 कंसाइनमेंट भेजे जाएंगे.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, 'कोवैक्सीन' की 55 लाख और 'कोविशील्ड' की 1.1 करोड़ खुराक खरीदी जा रही हैं. इन दोनों की वैक्सीन को DCGI द्वारा आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी दी जा चुकी है. ICMR के साथ साझा अभियान के तहत भारत बायोटेक ने इस वैक्सीन का निर्माण किया है. भारत बायोटेक शुरुआती 38.5 लाख डोज के लिए 295 रुपये प्रति खुराक कीमत वसूल रहा है. कंपनी ने केंद्र सरकार को 16.5 लाख डोज मुफ्त देने का भी फैसला किया है.

केंद्र सरकार को अभी तक 54,72,000 वैक्सीन मिल चुकी हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि पहले चरण की पूरी खेप सभी राज्यों को 14 जनवरी तक मिल जाएगी. बताते चलें कि कोरोना से बचाव को दोनों ही वैक्सीन कारगर बताई जा रही हैं. हर व्यक्ति को वैक्सीन की दो डोज लगेंगी. पहली खुराक के 28 दिन बाद दूसरी डोज दी जाएगी. दूसरी खुराक लेने के 14 दिन बाद इसका असर शुरू होगा.

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email